बैद्यनाथ शंखपुष्पी: फायदे, नुकसान, खुराक, कीमत, सावधानी, उपयोग, साइड इफ़ेक्ट्स | Baidyanath Shankhpushpi Syrup in Hindi

Baidyanath Shankhpushpi Syrup
नाम (Name)Baidyanath Shankhpushpi Syrup
संरचना (Composition)शंखपुष्पी + ब्राह्मी + अश्वगंधा
निर्माता (Manufacturer)Shree Baidyanath Ayurved Bhawan Pvt Ltd
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवा
उपयोग (Uses)ADHD, याददाश्त खोना, डिप्रेशन, एकाग्रता में कमी, तनाव, माइग्रेन आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)जी खराब होना, भूख में कमी, स्किन एलर्जी
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)79 रुपये (200ml)

बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप क्या है? – What is Baidyanath Shankhpushpi Syrup in Hindi

बैद्यनाथ द्वारा निर्मित यह शंखपुष्पी सिरप दिमागी कष्टों को दूर कर मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा रखने के उद्देश्य से इस्तेमाल में ली जाती है।

Advertisements

यह दवा दिमाग को बल देकर बुद्धिवर्धक का कार्य करती है।

यह उत्कृष्ट अवयवों से बनी एक ओवर-द-काउंटर (OTC) दवा है, जिसे बिना डॉक्टरी पर्चे के सकारात्मक विचारों के साथ शुरू किया जा सकता है।

शंखपुष्पी सिरप मानवीय दिमाग को स्थिरता प्रदान करने वाली एक आयुर्वेदिक दवा है।

इस दवा के उपयोग से भावनात्मक तनाव, अशांति, Attention Deficit Hyperactivity Disorder (ADHD), अनिद्रा, मिर्गी, चक्कर, सदमा, अवसाद, घबराहट, सिरदर्द, कमजोर याददाश्त, डिप्रेशन, चिड़चिड़ापन, एकाग्रता में कमी, मंदता आदि सभी मस्तिष्क आधारित समस्याओं का इलाज किया जा सकता है।

शंखपुष्पी सिरप दौरे तथा मिर्गी पड़ने की संभावनाओं को नियंत्रित करने, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के उचित कामकाज को सुचारू रखने वाला एक सामूहिक उपचार है।

बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप की संरचना – Baidyanath Shankhpushpi Syrup Composition in Hindi

निम्न घटक Baidyanath Shankhpushpi Syrup में होते है।

शंखपुष्पी + ब्राह्मी + अश्वगंधा

पढ़िये: डाबर च्यवनप्राश के फायदे | Mahabhringraj Oil in Hindi

Baidyanath Shankhpushpi Syrup कैसे काम करती है?

  • शंखपुष्पी इस उत्पाद का मुख्य सक्रिय घटक है। यह मस्तिष्क की परेशान नसों को शांत कर मानसिक कमजोरी, तनाव और कार्यभार की वजह से हो रही सिरदर्द की समस्या के निवारण में मददगार हो सकती है। यह बुद्धिमता को बढ़ाकर जल्दी भूलने की बीमारी को दूर करने में सहायक हो सकती है। शंखपुष्पी तनाव के लिए जिम्मेदार कोर्टिसोल हार्मोन के स्तर को कम एक अच्छी नींद का प्रस्ताव दे सकती है। कुछ स्थितियों में तंत्रिका तंत्र में उत्तेजना की आवश्यकता होने पर शंखपुष्पी द्वारा योगदान दिया जा सकता है।
  • ब्राह्मी एक ब्रेन बूस्टर है, जो कई मानसिक विकारों को काबू में करने में सक्षम है। यह शरीर में एंटीऑक्सीडेंट और मुक्त कणों के बीच आपसी असंतुलन के भेद को दूर कर ऑक्सीडेटिव तनाव से छुटकारा दिला सकती है। यह मस्तिष्क की उत्तेजना या भटकाव को ठीक कर अनिद्रा का इलाज कर सकती है।
  • अश्वगंधा खासकर कमजोरी को दूर करने वाला एजेंट है। यह शरीर में विषाक्त पदार्थों को ज्यादा देर तक टिकने नहीं देता है। अश्वगंधा द्वारा प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और बार-बार मुड़ में बदलाव की समस्या को ठीक किया जा सकता है। यह मानसिक क्रियाओं की लय को बरकरार कर सोचने की क्षमता में विस्तार कर सकता है।

बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप के उपयोग व फायदे – Baidyanath Shankhpushpi Syrup Uses & Benefits in Hindi

Baidyanath Shankhpushpi Syrup को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • Attention Deficit Hpperactivity Disorder (ADHD)
  • याददाश्त खोना
  • डिप्रेशन
  • एकाग्रता में कमी
  • मानसिक मंदता
  • तनाव
  • माइग्रेन
  • कमजोर स्मरण शक्ति
  • उच्च रक्तचाप
  • अनिद्रा
  • मिर्गी
  • दौरे
  • चिड़चिड़ापन

बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप के दुष्प्रभाव – Baidyanath Shankhpushpi Syrup Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफेक्ट्स Baidyanath Shankhpushpi Syrup के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफेक्ट्स Baidyanath Shankhpushpi Syrup से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफेक्ट्स नहीं होते है।

  • जी खराब होना
  • भूख में कमी
  • स्किन एलर्जी

पढ़िये: पतंजलि दिव्य मधुकल्प वटी | Safi Syrup in Hindi

बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप की खुराक – Baidyanath Shankhpushpi Syrup Dosage in Hindi

  • Shankhpushpi Syrup की खुराक एक सामान्य वयस्क के लिए, दिन में अधिकतम 3 चम्मच लेने की सलाह दी जाती है। खुराक की आवृत्ति को दिन में दो बार दोहराया जा सकता है।
  • Shankhpushpi Syrup मौखिक इस्तेमाल के लिए है। इसे लेते समय गुनगुने पानी का उपयोग किया जा सकता है।
  • Shankhpushpi Syrup की खुराक बच्चों में देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।
  • Shankhpushpi Syrup की खुराक वयस्कों की तुलना में बुजुर्गों में कम या ज्यादा की जा सकती है। इस विषय में अपने डॉक्टर द्वारा सुझाई गई खुराक का पालन करें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Shankhpushpi Syrup का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Shankhpushpi Syrup की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Baidyanath Shankhpushpi Syrup Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Baidyanath Shankhpushpi Syrup के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Baidyanath Shankhpushpi Syrup से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Baidyanath Shankhpushpi Syrup की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Shankhpushpi Syrup की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: क्लाइमेक्स स्प्रे | Addyzoa Capsule in Hindi

Baidyanath Shankhpushpi Syrup FAQ in Hindi

1) Shankhpushpi Syrup को औसतन कितने समय तक लेने की आवश्यकता पड़ सकती है?

उत्तर: इस दवा को शुरू करने वाले मरीजों को सर्वप्रथम अपने चिकित्सक से मौजूदा हालातों की जांच करानी चाहिए। इस दवा को लेने की औसतन अवधि 1 महीना हो सकती है। इससे ज्यादा इस्तेमाल करने हेतु चिकित्सक की मदद अवश्य लें।

2) क्या Shankhpushpi Syrup गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: गर्भवती महिलाओं के लिए इस दवा का संभावित व्यवहार कैसा हो सकता है, इस बारें में कोई ठोस जानकारी नहीं है। यहां आप अपने चिकित्सक की व्यक्तिगत सलाह अवश्य लें।

3) क्या Shankhpushpi Syrup भूख बढ़ाने में मददगार हो सकती है?

उत्तर: मानसिक चोंटो के कारण आई भूख की कमी में यह दवा थोड़ी असरदार हो सकती है। लेकिन सामान्य स्थिति में इस सिरप को केवल भूख बढ़ाने के लिए चुनना गलत साबित हो सकता है।

4) क्या Shankhpushpi Syrup मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: इस विषय में बेहद-सी खास बातें अज्ञात है। इस दवा के बारें में थोड़ी और रिसर्च की आवश्यकता है, इसलिए यहां मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक का परामर्श लेना उचित है।

5) क्या Shankhpushpi Syrup स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: ब्राह्मी को स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए विषम माना जाता है। कृपया इस विषय में अपने चिकित्सक की राय का पालन करें।

6) क्या Shankhpushpi Syrup भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, यह दवा भूखे पेट सुरक्षित है। इस दवा की खुराक का बेहतर असर भोजन से पहले या भोजन के बाद कब होगा, यह बात गोपनीय है। इस दवा के विषय में मिली जानकारी से स्पष्ट होता है कि इसे दोनों स्थितियों में लेने से समान परिणाम प्राप्त होता है।

7) क्या Shankhpushpi Syrup एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: एल्कोहोल के साथ इस दवा के व्यवहार की जानकारी अज्ञात होने के कारण अपने चिकित्सक की सलाह को प्राथमिकता दें। हर मुद्दों के लिए एल्कोहोल को सेहत के लिए हानिकारक माना जाता है, इसलिए इस दवा के साथ भी एल्कोहोल को नजरअंदाज किया जाना उचित है।

8) क्या Shankhpushpi Syrup एक नशेदार उत्पाद है?

उत्तर: नहीं, Shankhpushpi Syrup नशेदार उत्पाद नहीं है। यह सिरप मस्तिष्क की उत्तेजना को बर्दाश्त कर मस्तिष्क पर बोझ बनने का कार्य नहीं करती है। इस दवा में आदत लगने के गुण शुमार नहीं है।

9) क्या Shankhpushpi Syrup की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा की खुराक के बाद मौजूदा हालात सामान्य होने पर ड्राइविंग की जा सकती है, लेकिन इससे होनेवाले दुष्प्रभावों को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। इस दवा से होने वाले दुष्प्रभाव ड्राइविंग के समय मुसीबतें पैदा कर सकते है, इसलिए इस दवा की खुराक के बाद शारीरिक आराम पर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है।

10) Shankhpushpi Syrup की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल रखने की आवश्यकता है?

उत्तर: इस दवा की दो लगातार खुराकों के बीच कम से कम 4 से 6 घंटों का समयांतराल आवश्यक है।

11) क्या Shankhpushpi Syrup के साथ किसी प्रकार के भोजन से बचने की आवश्यकता है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के साथ किसी भी प्रकार के भोजन से बचने की आवश्यकता नहीं है। इस दवा के साथ हर तरह का भोजन सेवन योग्य है।

12) क्या Shankhpushpi Syrup भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: कनकासव के फायदे | Ovabless Tablet in Hindi

References

An Update on Shankhpushpi, a cognition boosting Ayurvedic medicine https://www.researchgate.net/publication/38088709_An_Update_on_Shankhpushpi_a_cognition_boosting_Ayurvedic_medicine Accessed On 05/06/2021

Critical review on pharmacological properties of Brahmi https://www.researchgate.net/publication/296549746_Critical_review_on_pharmacological_properties_of_Brahmi Accessed On 05/06/2021

Scientific basis for the therapeutic use of Withania somnifera (Ashwagandha): A Review https://www.researchgate.net/publication/12365397_Scientific_basis_for_the_therapeutic_use_of_Withania_somnifera_Ashwagandha_A_Review Accessed On 05/06/2021

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *