निर्माता

Himalaya Drug Company

कीमत

Rs 175 (30 Tablet)

Himplasia Tablet की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन शतावरी + अकीक पिष्टी + बबूल + पुट्टीकरनजा + गोक्षुरा + वरुणा + पुंगा + कुलथी + एलोवेरा
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Himplasia Tablet

Himalaya Himplasia Uses Tablet in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक

परिचय

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Himplasia Tablet in Hindi

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट का सही तरीकों से पालन करने पर मुख्यतः प्रोस्टेट ग्रंथि के बढ़ने की समस्या में लाभ पाया जा सकता है।

प्रोस्टेट ग्रन्थि ठीक मूत्राशय के नीचे स्थित होती है, जो उम्र के साथ बड़ी होती जाती है।

यह ग्रंथि पुरूष प्रजनन प्रणाली का एक अहम हिस्सा मानी जाती है, जिसमें से मूत्र नलिकाओं का मार्ग होता है।

कुछ स्थितियों में, यह ग्रंथि कुछ ज्यादा बड़ी हो जाने के कारण मूत्र नलिकाओं पर दबाव पड़ता है, जिसके कारण वे सिकुड़ जाती है। ऐसा होने पर, मूत्र संबंधी कई विकारों की शिकायतें बढ़ने लगती है।

यह टैबलेट प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन को कम कर मूत्राशय में एकत्रित मूत्र को पूरा बाहर निकालने में मदद करती है, जो यूरिन इंफेक्शन को ठीक करने में भी फायदेमंद साबित होती है।

हिम्प्लासिया टैबलेट Benign Prostatic Hyperplasia (BHP) के लिए एक नैदानिक अनुसंधान है, जो मूत्र प्रभावी लक्षणों के लिए लंबे समय तक चलने वाला इलाज है।

हिमालय कंपनी की यह टैबलेट OTC वर्ग से है, जिसे खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची जरूरी नहीं है।

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट को एस्ट्रोजन प्रेरित समस्याओं और अतिसंवेदनशीलता के मामलों में पूरी तरह नजरअंदाज किया जाना चाहिए।

पढ़िये: सुडौल जेल | Chandanasava in Hindi

संयोजन

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट की संरचना – Himalaya Himplasia Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट में मौजूद होते है।

शतावरी + अकीक पिष्टी + बबूल + पुट्टीकरनजा + गोक्षुरा + वरुणा + पुंगा + कुलथी + एलोवेरा

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट कैसे काम करती है?

  • शतावरी प्रजनन अंगों को सुरक्षित रखने के लिए मूत्र संस्थान को मजबूत बनाने का प्रयास कर सकती है। पथरी के दौरान पेशाब न निकलने में हो रही कठिनाई को शतवारी द्वारा दूर किया जा सकता है क्योंकि यह पथरी को गलाने में सहायक हो सकती है।
  • गोक्षुरा मूत्र के जमाव को खत्म करने का कार्य करता है। यह शरीर के अतिरिक्त पानी को बाहर निकालने के लिए निरंतर मूत्र का कारण बनता है। गोक्षुरा हीमैच्युरिया (Hemichorea), BPH, जेनिटोयूरीनरी संक्रमण और पेशाब में दर्द जैसी गंभीर स्थितियों के रोकथाम और उपचार में सहायक हो सकता है।
  • वरुणा में प्रभावशाली सूजनरोधी गुण शामिल होते है, जो सूजन के साथ ही दर्द को दूर करने का कार्य कर सकती है। यह मूत्र प्रणाली के समस्त कार्यों को बेहतर ढंग से सुचारू बनाएं रखने में मददगार हो सकती है।
  • पुंगा 5α-Reductase एंजाइम को बाधित करने का कार्य करता है, जिसके कारण यह टेस्टोस्टेरोन को डाइहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन में बदलने से रोकता है। यह डाइहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन हार्मोन बीपीएच के लिए जिम्मेदार हो सकता है।

पढ़िये: अरविन्दासव के फायदे | Tankan Bhasma in Hindi 

फायदे

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट के उपयोग व फायदे – Himalaya Himplasia Tablet Uses & Benefits in Hindi

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।-

  • यूरोलिथिएसिस
  • Benign Prostatic Hyperplasia (BHP)
  • बार-बार पेशाब आना
  • कमजोर मूत्र प्रवाह
  • मूत्र उत्सर्जन में घबराहट
  • एंड्रोजेनिक एलोपेसिया
  • यूरिन इंफेक्शन
  • प्रोस्टेट बढ़ना

दुष्प्रभाव

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Himplasia Tablet Side Effects in Hindi

इसकी अति या दुरुपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • सामान्य दस्त
  • मुँह में छाले
  • चयापचय में गड़बड़ी

पढ़िये: सेप्टिलीन टैबलेट | Erotican Capsule in Hindi

खुराक

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट की खुराक – Himalaya Himplasia Tablet Dosage in Hindi

किसी भी अवस्था में हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट की खुराक हमेशा डॉक्टर या विशेषज्ञ से निजी परामर्श के बाद लेनी चाहिए।

आमतौर पर, हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Himalaya Himplasia Tablet
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने से पहले या बाद: खाने के बाद
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

हिम्प्लासिया टैबलेट बच्चों में वर्जित है। इस टैबलेट को बिना डॉक्टर की मंजूरी के बच्चों में नहीं दिया जाना चाहिए।

हिम्प्लासिया टैबलेट की खुराक को अधिक आयु के बुजुर्गों के लिए निर्देशित किया जा सकता है। इस विषय में टैबलेट को बुजुर्गों की एलर्जिक स्थितियों की पूरी जांच के बाद ही शुरू करें।

हिम्प्लासिया टैबलेट की खुराक के लिए रोजाना एक निश्चित समय का पालन करें। इस टैबलेट की खुराक में हर तरह के बदलाव हेतु डॉक्टरी सहायता अवश्य लें।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित हिम्प्लासिया टैबलेट का सेवन जल्द करें। अगली खुराक हिम्प्लासिया टैबलेट की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

हिम्प्लासिया टैबलेट की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ हिम्प्लासिया टैबलेट की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, हिम्प्लासिया टैबलेट की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और हिम्प्लासिया टैबलेट की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

स्तनपान

नहीं, यह टैबलेट स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं है। इस संबंध में ज्यादा जानकारी के लिए एक अच्छे चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

ड्राइविंग

हिम्प्लासिया टैबलेट के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

एस्ट्रोजन प्रेरित विकार, एलर्जी या अतिसंवेदनशीलता के मामलों में हिम्प्लासिया टैबलेट का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें।

पढ़िये: मस्तंग कैप्सूल | Bioslim Tablet in Hindi

कीमत

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

सवाल-जवाब

क्या हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट कामेच्छा की कमी में सुधार कर सकती है?

यह टैबलेट प्रोस्टेट ग्रंथि की समस्याओं को हल कर कामेच्छा के सुधार में सक्षम हो सकती है, लेकिन इस विषय में अपने चिकित्सक की राय अवश्य ली जानी चाहिए।

क्या हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट हाइड्रोसील के इलाज में सहायक हो सकती है?

नहीं, यह टैबलेट हाइड्रोसिल के इलाज में सहायक नहीं है।

हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल रखें?

इस टैबलेट की एक गोली सुबह लेने के बाद अगली खुराक रात को सोने से पहले लें। इस बीच कम से कम 4 से 6 घंटों का समय अंतराल अवश्य रखें।

क्या हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

इस विषय में कोई शोध न हो पाने के कारण अपने मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की मदद ले सकते है।

क्या हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट मूत्र नलिकाओं की कमजोरी को दूर कर सकती है?

हाँ, यह टैबलेट मूत्र नलिकाओं की कमजोरी को दूर कर सकती है।

क्या हिमालया हिम्प्लासिया टैबलेट भारत में लीगल है?

हाँ, यह टैबलेट भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: हिमालया अबाना टैबलेट Saraswatarishta in Hindi 

1 thought on “Himalaya Himplasia Uses Tablet in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक”

Leave a Comment

Your email address will not be published.