Pantanjali Divya Madhukalp Vati in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक, कीमत, सावधानी, उपयोग, साइड इफ़ेक्ट्स | पतंजलि दिव्य मधुकल्प वटी

Pantanjali Divya Madhukalp Vati
नाम (Name)Pantanjali Divya Madhukalp Vati
संरचना (Composition)कटुकी + जामुन + नीम + चिरायता + करेला + अश्वगंधा + मेथी + अतीस + शुद्ध शिलाजीत
निर्माता (Manufacturer)Patanjali
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवाई
उपयोग (Uses)मधुमेह, उच्च इंसुलिन प्रतिरोध, मोटापा, तनाव आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)एसिडिटी, सिर दर्द, चक्कर आना, उल्टी आदि
ख़ुराक (Dosage)जरूरत अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)60 रुपये (80 टैबलेट)

दिव्य मधुकल्प वटी क्या है? – What is Divya Madhukalp Vati in Hindi

पतंजलि दिव्य मधुकल्प वटी विशेषकर शुगर से जुड़े मुद्दों के लिए प्रसंशनीय औषधि है।

Advertisements

इस दवा का उपयोग करने वाले मधुमेह से पीड़ित लोगों के मुताबिक यह दवा सुरक्षा के साथ स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद साबित होती है।

दिव्य मधुकल्प वटी से शुगर के साथ जुड़े अन्य मामलें जैसे मोटापा, उच्च इंसुलिन प्रतिरोध, रक्तचाप, अत्यधिक प्यास, बार-बार पेशाब आना, खराब पाचन तंत्र, लीवर संबंधी विकार, संक्रमण, सीने की जलन, तनाव, जल्दी थकना, शुक्राणुओं में कमी, हृदय से जुड़ी समस्याएं आदि सभी का सफल उपचार संभव है।

दिव्य मधुकल्प वटी शारीरिक पोषण को बढ़ावा देकर संवेदनशील हालातों से उभरने में मददगार हो सकती है।

अक्सर मधुमेह के मामलों में बीते चरणों के साथ ही किसी बाहरी चोंट या आघात से रिकवरी होने में समय लग सकता है, जिसके फलस्वरूप संक्रमणों का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। ऐसे में, सर्जरी से ठीक होने के लिए दिव्य मधुकल्प वटी के इस्तेमाल हेतु चिकित्सीय सलाह का विशेष महत्व होता है।

दिव्य मधुकल्प वटी की संरचना – Divya Madhukalp Vati Composition in Hindi

निम्न घटक Divya Madhukalp Vati में होते है।

कटुकी + जामुन + नीम + चिरायता + करेला + अश्वगंधा + मेथी + अतीस + शुद्ध शिलाजीत

पढ़िये: साफी के फायदे | Climax Spray in Hindi

Divya Madhukalp Vati कैसे काम करती है?

  • जामुन में कुछ ऐसे तत्व होते है, जो रक्त में शर्करा की मात्रा को कम कर मधुमेह को गंभीर होने से बचा सकते है। यह हाजमा शक्ति को बढ़ाकर भोजन के अवशोषण में मदद करने और पाचन प्रणाली को तंदुरुस्त रखने में मददगार हो सकता है। जामुन एक अच्छा रक्तशोधक है, जो रक्त को साफ कर सेहतमंद त्वचा की बुनियाद को पक्का कर सकता है।
  • नीम हानिकारक विषैले पदार्थों को निकालकर एलर्जी के लक्षणों से छुटकारा दिलाने में मददगार हो सकता है। यह चोंट लगने के कारण होने वाली सूजन को कम करने के लिए प्रभावी हो सकता है। इसके अलावा, यह रक्त में ग्लूकोज के स्तर को कम कर इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने में कारगर साबित हो सकता है।
  • चिरायता चयापचय क्रियाओं में सुधार कर भोजन को पचने में मदद कर सकता है और ब्लोटिंग जैसी समस्या के निवारण में सहायक हो सकता है। यह इंसुलिन के उत्पादन को प्रेरित कर रक्त शर्करा को कम करने हेतु एक फायदेमंद जड़ी-बूटी है। यह लीवर की कोशिकाओं को पुनः चार्ज कर लीवर के सामान्य कामकाज को बनाएं रखने में मददगार हो सकता है।
  • करेला का रस मधुमेह के रोगियों के लिए एक उत्तम आहार हो सकता है। आंखों से जुड़ी कई शिकायतों में करेला का उपयोग एक बेहतर परिणाम की पुष्टि कर सकता है।
  • अश्वगंधा आँखों की चेतना को तीव्र करने में मदद करने वाला एजेंट है। घावों के दर्द से छुटकारा पाने में अश्वगंधा फायदा दे सकता है।
  • मेथी में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है, जिसके कारण यह त्वचा को मुक्त कणों की क्षति से बचाती है और घावों को जल्दी भरने का कार्य कर सकती है। यह उच्च रक्त शर्करा को नियंत्रित कर टाइप 2 मधुमेह के मामलों के लिए उत्कृष्ट साबित हो सकती है। यह रक्तचाप और रक्त प्रवाह को सुनिश्चित कर मोटापे को नियंत्रित करने में सहायक हो सकती है।
  • शिलाजीत शक्तिवर्धक, शुक्रवर्धक और ओजवर्धक गुणों से परिपूर्ण यौगिक है, जो शारीरिक, मानसिक और यौन शक्ति में सुधार का निरंतर प्रयास जारी रखता है। यह गुर्दे और मूत्राशय पर कार्रवाई कर मूत्र से जुड़ी समस्याओं में उपयोगी हो सकता है।

दिव्य मधुकल्प वटी के उपयोग व फायदे – Divya Madhukalp Vati Uses & Benefits in Hindi

Divya Madhukalp Vati को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • मधुमेह
  • उच्च इंसुलिन प्रतिरोध
  • मोटापा
  • तनाव
  • हृदय से जुड़ी समस्याएं
  • अनियंत्रित रक्तचाप
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल और उच्च लिपिड स्तर

दिव्य मधुकल्प वटी के दुष्प्रभाव – Divya Madhukalp Vati Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफेक्ट्स Divya Madhukalp Vati के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफेक्ट्स Divya Madhukalp Vati से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Divya Madhukalp Vati से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें।

  • एसिडिटी
  • सिर दर्द
  • चक्कर आना
  • उल्टी
  • त्वचा पर लाल चकत्ते

पढ़िये: एडीज़ोय कैप्सूल | Kanakasava Syrup in Hindi 

दिव्य मधुकल्प वटी की खुराक – Divya Madhukalp Vati Dosage in Hindi

  • Divya Madhukalp Vati की खुराक एक सामान्य वयस्क के लिए, दिन में दो टैबलेट गुनगुने पानी के साथ सुरक्षित मानी जाती है। इस विषय में दैनिक अधिकतम खुराक 3 टैबलेट तक हो सकती है।
  • Divya Madhukalp Vati की खुराक 13 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए, दिन में 1 टैबलेट लेने की सलाह दी जाती है।
  • Divya Madhukalp Vati की खुराक बुजुर्गों के लिए, दिन में 1 टैबलेट निर्देशित की जाती है। इस दवा से उपचार की अवधि लंबी चल सकती है, इसलिए रोजाना खुराक का सही समय पर पालन करते रहें।
  • इस दवा की गोलियों को बिना तोड़े, चबाएं, कुचले या चूसें पानी के साथ निगल लेने की सलाह दी जाती है।
  • Divya Madhukalp Vati की खुराक में परिवर्तन के लिए डॉक्टरी हस्तक्षेप आवश्यक है और मौजूदा हालात की जांच भी समय-समय पर कराते रहें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Divya Madhukalp Vati का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Divya Madhukalp Vati की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Divya Madhukalp Vati Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Divya Madhukalp Vati के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Divya Madhukalp Vati से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Divya Madhukalp Vati की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

भोजन के साथ Divya Madhukalp Vati की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: ओवाब्लेस टैबलेट | Bt-36 Capsule in Hindi 

Divya Madhukalp Vati FAQ in Hindi

1) क्या Divya Madhukalp Vati को कितने समय तक लेने की आवश्यकता हो सकती है?

उत्तर: इस दवा को लगभग 3 महीनों तक चिकित्सक की देखरेख में जारी रखने की आवश्यकता हो सकती है। इस दवा के उपचार की अवधि भले लंबी हो, लेकिन ज्यादातर यह दवा दुष्प्रभावों से निष्पक्ष होकर अपने कार्य को जारी रखने में सक्षम है।

2) क्या Divya Madhukalp Vati गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा में मौजूद कई भारी घटकों से गर्भवती महिलाओं को समस्या हो सकती है। हालांकि इस दवा से गर्भवती महिलाओं को केवल गलत असर या परिणाम ही मिलता है, इस बात की अभी तक कोई खास पुष्टि नहीं की गई है। इस दवा की जरूरत पड़ने पर अपने चिकित्सक की सलाह के बाद ही इसे ग्रहण करें।

3) क्या Divya Madhukalp Vati मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: यह दवा महिलाओं में अत्यधिक रक्तस्राव की समस्या को दूर कर सकती है, लेकिन मासिक धर्म चक्र पर इस दवा की गलत प्रतिक्रिया की कोई जानकारी मौजूद नहीं है। इस विषय में अपने मासिक धर्म चक्र से जुड़े डॉक्टर की सलाह लें।

4) क्या Divya Madhukalp Vati स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा में मौजूद कुछ घटकों में दूध में घुलने की प्रवृत्ति होती है। लेकिन नर्सिंग महिलाओं पर इस दवा के सही या गलत व्यवहार की जानकारी का अभाव है।

5) Divya Madhukalp Vati की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल होना आवश्यक है?

उत्तर: इस दवा की एक खुराक लेने के बाद दूसरी खुराक के लिए 4 से 6 घंटों के समय अंतराल का पालन करें। इस समय अंतराल का पालन करते रहने से इस दवा से होने वाले दुष्प्रभावों की संभावना कम हो सकती है।

6) क्या Divya Madhukalp Vati यौन इच्छा को बढ़ा सकती है?

उत्तर: मधुमेह से पीड़ित लोगों में यौन इच्छा या यौन शक्ति पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है, जिसके कारण संभोग के प्रति आकर्षण कम हो सकता है। यह दवा मधुमेह को नियंत्रित कर यौन इच्छा को बढ़ा सकती है क्योंकि इसमें शिलाजीत और अश्वगंधा जैसे यौन प्रबंधक अवयव शामिल होते है। इस संबंध में ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर का परामर्श ले सकते है।

7) क्या Divya Madhukalp Vati के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के सेवन से इसकी आदत नहीं लगती है। इसे लंबी उपचार अवधि के लिए ही बनाया गया है, क्योंकि मधुमेह जैसी दीर्घ बीमारी को नियंत्रित करने में थोड़ा समय लगता है।

8) क्या Divya Madhukalp Vati की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है। इस विषय में अधिक सटीक जानकारी के लिए अपने चिकित्सक के दिशा-निर्देशों का पालन करें।

9) क्या Divya Madhukalp Vati भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा को ज्यादातर भोजन से पहले भूखे पेट लेने की सलाह दी जाती है। यह दवा भूखे पेट ज्यादा असरदार है।

10) क्या Divya Madhukalp Vati एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: नहीं, यह दवा एल्कोहोल के साथ सुरक्षित नहीं है। कुछ मामलों में, एल्कोहोल के साथ इस दवा की प्रतिक्रिया से हालात नाजुक हो सकते है। इस विषय में सुरक्षा बरतते हुए अपने चिकित्सक की मंजूरी अवश्य लें।

11) क्या Divya Madhukalp Vati के साथ किसी खास प्रकार के भोजन से बचने की आवश्यकता हो सकती है?

उत्तर: इस दवा के साथ मीठे व्यंजनों के सेवन से बचने की आवश्यकता होती है क्योंकि चीनी या गुड़ रक्त में शुगर लेवल को बढ़ा सकते है।

12) क्या Divya Madhukalp Vati भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह आयुर्वेदिक दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: हिमालय हिम्प्लासिया टैबलेट | Mychiro Tablet in Hindi

References

HPLC STUDY OF GENUINE SAMPLE OF KATUKI (PICRORHIZA KURROA ROYLE EX BENTH) AND IT’S MARKET SAMPLE https://www.researchgate.net/publication/342078097_HPLC_STUDY_OF_GENUINE_SAMPLE_OF_KATUKI_PICRORHIZA_KURROA_ROYLE_EX_BENTH_AND_IT’S_MARKET_SAMPLE Accessed On 01/06/2021

REVIEW ON SWERTIA CHIRATA AS TRADITIONAL USES TO ITS PYHTOCHEMISTRY AND PHRMACOLOGICAL ACTIVITY https://www.researchgate.net/publication/328991223_REVIEW_ON_SWERTIA_CHIRATA_AS_TRADITIONAL_USES_TO_ITS_PYHTOCHEMISTRY_AND_PHRMACOLOGICAL_ACTIVITY Accessed On 01/06/2021

Fenugreek with its medicinal applications https://www.researchgate.net/publication/311791738_Fenugreek_with_its_medicinal_applications Accessed On 01/06/2021

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *