निर्माता

Himalaya Drug Company

कीमत

Rs 165 (60 Tablets)

Himalaya Septilin Tablet की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन गिलोय + मंजिष्ठा + मुलेठी + गुग्गुल + आंवला
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Himalaya Septilin Tablet

सेप्टिलीन टैबलेट के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी, उपयोग | Himalaya Septilin Tablet in Hindi

नाम (Name)Himalaya Septilin Tablet
संरचना (Composition)गिलोय + मंजिष्ठा + मुलेठी + गुग्गुल + आंवला
निर्माता (Manufacturer)Himalaya Drug Company
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवा
उपयोग (Uses)ब्रोंकाइटिस, खाँसी, टॉन्सिल, कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता, मूत्र संबंधी संक्रमण आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)उच्च रक्तचाप, खुजली, पेट में दर्द, उल्टी, दस्त आदि
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता, गर्भावस्था, मधुमेह
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)150 रुपये (60 टैबलेट)

परिचय

हिमालया सेप्टिलीन टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Septilin Tablet in Hindi

Himalaya Septilin Tablet रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से तैयार की गई एक आयुर्वेदिक चिकित्सा औषधि है।

इस दवा की जड़ी-बूटियां एक नुस्खे के अनुसार निश्चित अनुपात में मिली होती है, जो हर इंफेक्शन को आत्मसात कर संक्रमणों से छुटकारा दिलाती है।

यह प्रभावी दवा एक समय के कई सारे संक्रमणों को एक साथ ठीक करने में सक्षम है।

Himalaya Septilin Tablet शल्य चिकित्सा या ऑपरेशन के बाद संभावित संक्रमित स्थितियों से जल्दी उभरने में भी सहायक हो सकती है।

Himalaya Septilin Tablet का उपयोग श्वसन तंत्र के संक्रमण, गले में सूजन या संक्रमण, ब्रोंकाइटिस, संक्रमित बुखार, टॉन्सिल, गुर्दे में इंफेक्शन, सर्दी, खाँसी, संक्रमित त्वचा आदि सभी समग्र लक्षणों के उपचार हेतु किया जा सकता है।

Himalaya Septilin Tablet हिमालया ड्रग कंपनी द्वारा निर्मित एक मौखिक उपयोग है, जो स्वास्थ्य को भीतर से निरोगी बनाने में बेहद अच्छा योगदान देता है।

यह एक ओटीसी वर्ग की दवाई है, जिसे खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची जरूरी नहीं है।

संयोजन

हिमालया सेप्टिलीन टैबलेट की संरचना – Himalaya Septilin Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक Himalaya Septilin Tablet में मौजूद होते है।

गिलोय + मंजिष्ठा + मुलेठी + गुग्गुल + आंवला

पढ़िये: अजमोदादि चूर्ण | Erotican Capsule in Hindi

Himalaya Septilin Tablet कैसे काम करती है?

  • गिलोय शरीर में एलर्जिक प्रतिक्रिया को समाप्त कर इम्यून सिस्टम को पहले से ज्यादा मजबूत बनाने में कारगर है। गिलोय में कैल्शि‍यम, प्रोटीन, फॉस्फोरस जैसे रासायनिक तत्वों की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है, जो शारीरिक क्षति की भरपाई करने में सहायक होते है। इसके अलावा, गिलोय स्टार्च से परिपूर्ण होता है, जो शक्ति को एकत्रित कर प्रतिरक्षा तंत्र को कई खतरनाक बीमारियों से सुरक्षित रखता है।
  • मंजिष्ठा मुख्यतः खाँसी के लिए प्रयोग की जाने वाली जड़ी-बूटी है। मंजिष्ठा प्रतिरक्षा तंत्र की प्रतिक्रिया को शरीर की जरूरत के हिसाब से बदलने का कार्य करता है, जिसके लिए इस घटक में शामिल एल्केलाइड्स, टैनिन, फ्लेवोनोइड्स और फिनोल जिम्मेदार होते है।
  • मुलेठी में रोगाणुरोधी, जीवाणुरोधी और एंटीवाइरल गुण मौजूद होते है, जो सर्दी, खाँसी, खराश, दमा, सांस की तकलीफ और अत्यधिक बलगम का इलाज कर श्वसन पथ के संक्रमण से आजादी दिलाती है। मुलेठी एक एंटीऑक्सीडेंट है, जो ब्रोन्कियल सूजन और दर्द के लक्षणों से राहत देती है। मुलेठी बुखार के दौरान शरीर के तापमान को कम करने में मददगार है।
  • गुग्गुल त्वचा की परेशानियों के लिए एक फायदेमंद सुविधा है। गुग्गुल फेफड़ों के कामकाज में सुधार कर क्रोनिक खाँसी, ब्रोंकाइटिस, अस्थमा और तपेदिक जैसी स्थितियों का उपचार कर सकता है।
  • आंवला एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुणों का विशाल संग्रह है, जो प्रतिरक्षा तंत्र के लिए गुणकारी है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर कफ की गंभीरता का इलाज करने में मददगार है।

फायदे

हिमालया सेप्टिलीन टैबलेट के उपयोग व फायदे – Himalaya Septilin Tablet Uses & Benefits in Hindi

Himalaya Septilin Tablet को निम्न अवस्थ व विकार में सलाह किया जाता है।

  • श्वसन तंत्र में संक्रमण
  • संक्रमित बुखार
  • गुर्दे में संक्रमण
  • त्वचा संबंधी समस्याएं
  • गले में सूजन या संक्रमण
  • ब्रोंकाइटिस
  • आम सर्दी
  • खाँसी
  • टॉन्सिल
  • कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता
  • हीमोग्लोबिन में कमी
  • कान का संक्रमण
  • मूत्र संबंधी संक्रमण

दुष्प्रभाव

हिमालया सेप्टिलीन टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Septilin Tablet Side Effects in Hindi

निम्न साइड एफ़ेक्ट्स Himalaya Septilin Tablet के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड एफ़ेक्ट्स Septilin Tablet से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड एफ़ेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Septilin Tablet से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें।

  • गैस्ट्रिक परेशानी
  • उच्च रक्तचाप
  • खुजली
  • पेट में दर्द
  • उल्टी
  • दस्त

पढ़िये: मस्तंग कैप्सुल | Bioslim Tablet in Hindi

खुराक

हिमालया सेप्टिलीन टैबलेट की खुराक – Himalaya Septilin Tablet Dosage in Hindi

  • इस दवा की उचित खुराक हमेशा आयुर्वेदिक डॉक्टर या विशेषज्ञ को अपनी खुराक बताकर लेनी चाहिए।
  • Himalaya Septilin Tablet की खुराक एक सामान्य वयस्क के लिए, दिन की दो गोलियां दो बार सुबह-शाम लेने की सलाह दी जाती है।
  • Himalaya Septilin Tablet की शुरुआती खुराक के कुछ दिनों बाद दिन की एक गोली भी काफी होती है। इस दवा से उपचार की अवधि की जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह आवश्यक है।
  • Himalaya Septilin Tablet को शुरू करने के लिए आवश्यक कारण होने चाहिए। बिना मतलब इस दवा की खुराक न लें।
  • Himalaya Septilin Tablet के साथ छेड़छाड़ न करें। इन गोलियों को सीधे मौखिक रूप से पानी के साथ ग्रहण करना उचित है।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Himalaya Septilin Tablet का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Himalaya Septilin Tablet की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में Himalaya Septilin Tablet के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Himalaya Septilin Tablet से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Himalaya Septilin Tablet की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • गर्भावस्था
  • मधुमेह

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Himalaya Septilin Tablet की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: कोजिमैक्स क्रीम | Himalaya Abana Tablet in Hindi

No products found.

सवाल-जवाब

क्या Himalaya Septilin Tablet मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

इस दवा का गलत तरीके से इस्तेमाल करने पर कुछ स्थितियों में मासिक धर्म चक्र पर गलत असर पड़ सकता है। यह हार्मोन असंतुलन का कारण बनकर अनियमित मासिक धर्म चक्र को बढ़ावा दे सकता है। इस विषय में अपने मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की सलाह अत्यंत आवश्यक है।

क्या Himalaya Septilin Tablet गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

इस दवा में मौजूद हर प्राकृतिक घटक गर्भावस्था के लिए सुरक्षित नहीं हो सकता है। जिन गर्भवती महिलाओं को इस दवा में शामिल किसी भी घटक से एलर्जी है, तो वे डॉक्टर की मंजूरी के बिना इस दवा का सेवन कभी न करें। Septilin Tablet को गर्भावस्था में न लेना ही सुरक्षित माना जाता है।

क्या Himalaya Septilin Tablet स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

यह दवा ऐसी ऐसी महिलाओं के हित के लिए विचार का विषय बन सकती है। इस विषय में सटीक जानकारी के लिए अपने चिकित्सक से व्यक्तिगत परामर्श करने की आवश्यकता है।

क्या Himalaya Septilin Tablet को भूखे पेट लेना उचित है?

Himalaya Septilin Tablet की खुराक ज्यादा समय तक भूखे पेट लेने से पेट में दर्द, उल्टी तथा दर्द की शिकायत हो सकती है। इस दवा को भोजन के बाद लेना ही ज्यादा बेहतर है।

क्या Himalaya Septilin Tablet एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

एल्कोहोल संक्रमित स्थितियों को बढ़ावा देने के लिए उत्तरदायी हो सकता है। Himalaya Septilin Tablet के साथ एल्कोहोल की प्रतिक्रिया से स्वास्थ्य को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते है। इस दवा के साथ एल्कोहोल को सदैव नजरअंदाज किया जाना आवश्यक है।

क्या Himalaya Septilin Tablet मधुमेह के मामलों में सुरक्षित है?

इस दवा में कुछ मात्रा चीनी की भी होती है, जो मधुमेह के लिए जटिलता का काम करती है। इस दवा को मधुमेह के मामलों में लेने से पहले चिकित्सक के दिशा-निर्देशों का पालन अवश्य करें।

क्या Himalaya Septilin Tablet के सेवन से से आदत लग सकती है?

Himalaya Septilin Tablet आदत लगने का कोई जिम्मेदार कारण नहीं दर्शाती है। यह दवा सिर्फ संक्रमणों से रक्षा कर प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में लगी होती है। इस दवा में कोई नशे का गुण नहीं होने के कारण यह एक नशामुक्त उत्पाद है।

Himalaya Septilin Tablet से कितने समय में असर देखने को मिलता है?

उपचार और सुधार की अवधि के लिए मेडिकल स्थिति की जांच आवश्यक है। कुछ स्थितियों में यह दवा शीघ्र असर कर जाती है और कुछ स्थितियों में इस दवा के असर के लिए महीने तक का भी इंतजार करना पड़ सकता है। इस दवा से जल्दी असर पाने के लिए अपने चिकित्सक द्वारा दी गई नसीहत का पूरा पालन करें।

क्या Himalaya Septilin Tablet की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

Himalaya Septilin Tablet उनींदापन, चक्कर या झपकी का कारण नहीं बनती है। हालांकि ज्यादा लक्षण गंभीरता में, शारीरिक कमजोरी का होना लाजमी है। ऐसे में, इस दवा की खुराक के तुरंत बाद ड्राइविंग नहीं करनी चाहिए, क्योंकि यह दवा शीघ्र असर नहीं दिखाती है। हालांकि यह दवा ड्राइविंग क्षमता को प्रभावित नहीं करती है, इसलिए थोड़े समय बाद आराम महसूस करने पर ड्राइविंग कर सकते है।

क्या Himalaya Septilin Tablet वजन को कम या ज्यादा करने में उपयोगी हो सकती है?

Himalaya Septilin Tablet को विशेषकर वजन घटाने या बढ़ाने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। यह दवा शरीर की मेटाबॉलिज्म रेट पर कोई असर नहीं करती है, जिससे कि वजन घट सकें और न ही पोषक तत्वों की भरपाई करती है, जिससे कि वजन बढ़ सकें। यह दवा वजन को बिना प्रभावित किए संक्रमणों से छुटकारा दिलाने का कार्य करती है।

Himalaya Septilin Tablet को कैसे संग्रहित किया जाना चाहिए?

इस दवा को कमरे के ताप पर गर्मी और प्रकाश से दूर स्टोर साफ जगह पर स्टोर किया जाना चाहिए। इसे रेफ्रिजरेटर में संग्रहित करने से भी बचना चाहिए।

क्या Himalaya Septilin Tablet भारत में लीगल है?

हाँ, यह हर्बल दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: सरस्वातरिष्ठा | Godanti Bhasma in Hindi

References

Septilin (tablet,syrup) https://researchpapers.himalayawellness.in/septilin.htm Accessed On 18/05/2021

Herbal anti-inflammatory immunomodulators as host modulators in chronic periodontitis patients: a randomised, double-blind, placebo-controlled, clinical trial https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3999355/ Accessed On 18/05/2021

Himalaya study finds herbal immunomodulators effective as adjuvant treatment for COVID-19 https://www.expresspharma.in/himalaya-study-finds-herbal-immunomodulators-effective-as-adjuvant-treatment-for-covid-19/ Accessed On 18/05/2021

Leave a Comment

Your email address will not be published.