Baidyanath Triphala Juice in Hindi

त्रिफला जूस के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी, उपयोग | Baidyanath Triphala Juice in Hindi

Advertisement
नाम (Name)Baidyanath Triphala Juice
संरचना (Composition)आंवला + हरीतकी+ त्रिफला + बहेड़ा
निर्माता (Manufacturer)Shree Baidyanath Ayurved Bhavan
दवा-प्रकार (Type of Drug)हर्बल दवा
उपयोग (Uses)कब्ज, गैस, एसिडिटी, पेट फुलाव, अपच आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)पेट खराब, ऐंठन, दस्त आदि
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावगर्भावस्था, एलर्जी और अतिसंवेदनशीलता
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)250 रुपये (1 लीटर)

त्रिफला जूस क्या है? – What is Triphala Juice in Hindi

त्रिफला जूस एक आयुर्वेदिक रेचक दवा है, जो अब बहुत से उत्पाद के रूप में उपलब्ध है। बैद्यनाथ त्रिफला जूस इसी श्रेणी का एक प्रचलित उत्पाद है।

त्रिफला जूस विशेषकर पेट की बीमारियों के उपचार में सहायता करता है। यह जूस शरीर की चयापचय क्रियाओं को अधिक सक्रिय कर स्वास्थ्य संतुलन को बेहतर करता है।

त्रिफला जूस को दवा के रूप में इस्तेमाल करने से एसिडिटी, कब्ज, अम्लता की पुनरावृत्ति, सूजन, दर्द आदि कई समस्याओं से राहत मिलती है।

यह बिना डॉक्टरी पर्चे पर आधारित एक आम दवा है, जिसे आसानी से हर वक्त साथ में रखा जा सकता है। यह एक प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में भी कार्य करती है, जो पाचन के लिए सुखदायी साबित होता है।

त्रिफला जूस को गर्भावस्था, एलर्जी और अतिसंवेदनशीलता के मामलों में पूरी तरह नजरअंदाज किया जाना चाहिए।

Advertisements

त्रिफला जूस की संरचना – Triphala Juice Composition in Hindi

निम्न घटक त्रिफला जूस में होते है।

आंवला + हरीतकी+ त्रिफला + बहेड़ा

पढ़िये: Baidyanath Kesari Kalp Chwanprash | Kaunch Beej in Hindi

त्रिफला जूस कैसे काम करती है?

  • आंवला प्रतिरक्षा प्रणाली के कार्यों पर सकारात्मक प्रभाव छोड़ता है। यह एक प्रभावी एंटीऑक्सीडेंट है, जो मुक्त कणों की मौजूदगी को निष्क्रिय करने का कार्य करता है।
  • हरीतकी, रेचक गुणों से भरा एक हर्बल यौगिक है, जो मल त्याग प्रक्रिया में सुधार लाता है। यह आंतों में पानी की मात्रा बढ़ाकर मल उत्सर्जन को आसान बनाता है और कब्ज से छुटकारा दिलाने का कार्य करता है। हरीतकी आंतरिक सूजन को कम करने में भी सहायक है।
  • त्रिफला भोजन में मौजूद पोषक तत्वों को अच्छे से अवशोषित करने का कार्य करता है, जिससे खाना अपने शरीर को लगता है। यह पेट की अम्लता, खट्टी डकार, अपच, गैस आदि का उपचार कर पाचन क्रिया को मजबूत बनाने में सहायक है।
  • बहेड़ा संक्रमणों के हमले को रोकने का कार्य करता है। यह पेट की विषाक्ता को कम कर लिवर के कार्य को सामान्य बनायें रखने में मददगार है। यह पेट की खराबी को ठीक कर आंतरिक अंगों में विकसित हुए अनचाहे बैक्टीरियाओं का खात्मा करने वाला यौगिक है।

त्रिफला जूस के उपयोग व फायदे – Triphala Juice Uses & Benefits in Hindi

त्रिफला जूस को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • कब्ज और गैस से राहत
  • पाचन शक्ति में इजाफा
  • आम संक्रमणों से छुटकारा
  • बालों के विकास में सहायक
  • पेट फुलाव की समस्या से निजात
  • एसिडिटी का उपचार
  • सूजन को कम करने में लाभदायक
  • पेट दर्द में उपयोगी
  • गुदा और मलमार्ग की मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करना
  • पेट की पूर्ण सफाई में सहायक

त्रिफला जूस के दुष्प्रभाव – Triphala Juice Side Effects in Hindi

निम्न साइड एफ़ेक्ट्स त्रिफला जूस के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड एफ़ेक्ट्स शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड एफ़ेक्ट्स नहीं होते है। त्रिफला जूस से अत्यंत दुष्प्रभाव में खुराक को बंद कर चिकित्सक की सहायता लें।

  • गैस
  • पेट खराब
  • ऐंठन
  • दस्त

पढ़िये: Vita Ex Gold Plus in Hindi | Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi

Advertisements

त्रिफला जूस की खुराक – Triphala Juice Dosage in Hindi

  • त्रिफला जूस कुछ जटिल स्थितियों में विचारणीय है। इसलिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी बातों का साझा डॉक्टर से करते हुए इस दवा की खुराक चिकित्सक की देखरेख में शुरू करना ज्यादा बेहतर है।
  • त्रिफला जूस को इस्तेमाल करने की चाह रखने वाले लोगों को इस दवा पर अंकित सभी निर्देशों का पूरा पालन करना चाहिए।
  • त्रिफला जूस की खुराक 20 से 30ml दिन में दो बार लेने की सलाह चिकित्सक द्वारा दी जाती है।
  • उम्र के हिसाब से, इस जूस की मात्रा को कम या ज्यादा किया जा सकता है। त्रिफला जूस की सटीक मात्रा के लिए हमेशा डॉक्टर का सहारा लें।
  • त्रिफला जूस की अति या दुरुपयोग करने से बचें। एक साथ दो खुराक न लें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित त्रिफला जूस का सेवन जल्द करें। अगली खुराक त्रिफला जूस की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Triphala Juice Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में त्रिफला जूस के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में त्रिफला जूस से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर या विशेज्ञय को अवस्था बताकर ही खुराक लें।

  • गर्भावस्था
  • एलर्जी
  • अतिसंवेदनशीलता

त्रिफला जूस की कीमत – Triphala Juice Price

बैद्यनाथ त्रिफला जूस की कीमत व मात्रा की जानकारी निम्नलिखित है।

नाममात्रा कीमत
Baidyanath Goodcare Triphala Juice1 लीटर250.00 रुपये

पढ़िये: Zandu Vigorex Gold in Hindi | Himalaya Tentex Forte in Hindi

Triphala Juice FAQ in Hindi

1) क्या त्रिफला जूस गर्भवती महिलाओं में सुरक्षित है?

उत्तर: गर्भावस्था के कुछ मामलों में देखा गया है कि त्रिफला जूस गर्भवती महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार कर लक्षणों को बढ़ा सकता है। त्रिफला जूस की थोड़ी या ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल हेतु गर्भवती महिलाएं डॉक्टर का परामर्श पहले लें।

Advertisements
2) क्या त्रिफला जूस भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: त्रिफला जूस को भोजन के पहले या बाद में इच्छानुसार उपयोग किया जा सकता है।

3) क्या त्रिफला जूस पाचन को ठीक करने में सहायक है?

उत्तर: इस जूस द्वारा खराब पाचन तंत्र में सुधार अवश्य किया जा सकता है। लेकिन इस दवा से पाचन के संपूर्ण इलाज की उम्मीद रखना गलत साबित होता है। इस विषय में ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर की सहायता जरूर लें।

4) क्या त्रिफला जूस शारीरिक उदासीनता को दूर करने में सहायक है?

उत्तर: अधिकतर मामलों में, शरीर की बीमारियों के लिए खराब पेट जिम्मेदार होता है। ऐसे हालात में शरीर निरस्त और उदासीन बनने लगता है। यह जूस कुछ हद तक इन परेशानियों को हल कर शारीरिक उदासीनता दूर करने में सक्षम है।

5) क्या त्रिफला जूस एक एनर्जी ड्रिंक है?

उत्तर: नहीं, यह दवा एनर्जी ड्रिंक के रूप में कार्य नहीं करती है, बल्कि इसका काम पाचन तंत्र पर है।

6) क्या त्रिफला जूस वजन बढ़ाने में सहायक है?

उत्तर: इस विषय में कोई शोध न होने के कारण पुख्ता जानकारी अज्ञात है।

Advertisements
7) क्या त्रिफला जूस एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: त्रिफला जूस के साथ एल्कोहोल के व्यवहार का अनुमान लगाना मुश्किल है। लेकिन इस विषय को लेकर जनहित के लिए सलाह दी जाती है, कि आप इस विषय में लापरवाही न करते हुए चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

8) क्या त्रिफला जूस के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, त्रिफला जूस को लेने के बाद इसकी आदत नहीं लगती है। इस दवा में कोई भी नशेदार यौगिक नहीं है, जिससे यह दवा शरीर की मांग नहीं बनती है।

9) क्या त्रिफला जूस मासिक धर्म चक्र को प्रभावित करता है?

उत्तर: इस विषय में पूरी जानकारी अपने निजी मासिक मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक द्वारा प्राप्त करें।

10) क्या त्रिफला जूस के साथ किसी विशेष खास प्रकार के भोजन से बचने की आवश्यकता है?

उत्तर: त्रिफला जूस के साथ हर तरह का भोजन सुरक्षित है। लेकिन दवा से एक अच्छे परिणाम की उम्मीद हेतु इसे दूध के साथ न लें। त्रिफला जूस को एकेले या पानी के साथ लेना ज्यादा उचित है।

11) क्या त्रिफला जूस की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस जूस की खुराक के बाद ड्राइविंग करना बिल्कुल सुरक्षित है। यह एक आयुर्वेदिक दवा है, जिसके असर से शरीर सुस्त नहीं होता है।

Advertisements
12) क्या त्रिफला जूस स्तनपान कराने वाली महिलाओं में सुरक्षित है?

उत्तर: त्रिफला जूस से दुग्धपान कराने वाली नर्सिंग महिलाओं में दुष्प्रभावों की संभावनाएं बढ़ सकती है। इस विषय में खुराक शुरू करने से पहले अपने चिकित्सक का व्यक्तिगत परामर्श लें।

13) क्या त्रिफला जूस भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह हर्बल दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: Dr Ortho Oil in Hindi | Dabur Stimulex Oil in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अस्वीकरण

हम पूरी कोशिश करते है, कि इस साइट पर मौजूद जानकारी सही, पूरी व नवीनतम हो। लेकिन हम इसकी सटीकता की गारंटी नहीं लेते है। यह लेख सिर्फ जानकारी मात्र है और इसका उपयोग चिकित्सकीय परामर्श के विकल्प में उपयोग ना करें। किसी भी प्रकार की हानी होने पर, आप स्वयं जिम्मेदार होंगे।