निर्माता

Zandu Pharmaceutical Works Ltd

कीमत

Rs 220 (500 Ml)

Zandu Lalima Syrup की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन हल्दी + गिलोय + नीम + केसर + कपूर + शहद + गेंहू के बीज का तेल + त्रिफला + कटुकी + हरिद्रा + अनंतमूल + मंजिष्ठा
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Lalima Blood Purifier

झंडू लालिमा सिरप के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Zandu Lalima Syrup in Hindi

परिचय

झंडू लालिमा सिरप क्या है? – What is Zandu Lalima Syrup in Hindi

झंडू लालिमा सिरप एक शोधक सिरप है, जो खून को साफ करने में मददगार है।

इसे साफी सिरप का अच्छा विकल्प माना जाता है।

यह एक OTC सिरप है, जिसे डॉक्टर की पर्ची के बिना भी खरीद सकते है।

अशुद्ध खून से चेहरे पर मुँहासों का आना लगभग तय होता है, जो बड़े आकार में होने पर चेहरे की खूबसूरती को बर्बाद कर सकते है।

इन्हें मिटाने के लिए रक्त शुद्धिकरण की आवश्यकता होती है, जो इस सिरप द्वारा मुमकिन हो सकता है।

यह सिरप मुक्त कणों की सक्रियता को कम करने और ऑक्सीडेटिव तनाव पर रोक लगाने का कार्य करती है, जिससे कारण त्वचा से जुड़ी शिकायतों को दूर करने में मदद मिलती है।

शरीर में लगातार संक्रमित रक्त के परिवहन से अन्य हिस्सों में संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ सकती है। इन मुद्दों में यह सिरप संक्रमणों की रोकथाम और बचाव के लिए खास उपाय हो सकती है।

यह सिरप त्वचा की कोशिकाओं को संकुचित कर त्वचा के छिद्रों को कम करने में सहायता कर सकती है, जिससे अवांछित कणों का भीतरी प्रवेश वर्जित हो जाता है।

त्वचा में नमी की दरकार को पूरा करने और निखार लाने के लिए लालिमा सिरप बेहद उपयोगी साबित हो सकती है। इससे चेहरे की लालिमा और रंगत भी बढ़ सकती है।

पढ़िये: वंसत कुसुमाकर रस | Hammer of Thor Capsule in Hindi

संयोजन

झंडू लालिमा सिरप की संरचना – Zandu Lalima Syrup Composition in Hindi

हल्दी + गिलोय + नीम + केसर + कपूर + शहद + गेंहू के बीज का तेल + त्रिफला + कटुकी + हरिद्रा + अनंतमूल + मंजिष्ठा

फायदे

झंडू लालिमा सिरप के उपयोग व फायदे – Zandu Lalima Syrup Uses & Benefits in Hindi

झंडू लालिमा सिरप के प्रमुख उपयोग व फायदे निम्नलिखित है-

त्वचा को नमीयुक्त बनायें रखने में मददगार

बेजान त्वचा और त्वचा के रूखेपन को दूर करने के लिए आपको इस सिरप के उपयोग की आवश्यकता हो सकती है इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की कोशिश करनी चाहिए। पानी की आपूर्ति के लिए आप फ्रूट ज्यूस और नारियल पानी की मदद ले सकते है। यह सिरप अपना असर दिखा के त्वचा पर नमी को लाने का कार्य तो करेंगी ही, लेकिन ज्यादा पानी के सेवन से हानिकारक जमे पदार्थ मूत्र और पसीने के साथ शरीर से बाहर निकल सकते है।

मुँहासों को ठीक करने में उपयोगी सिरप

यह सिरप चेहरे के छिद्रों को कम कर अंदर गंदगी जमा होने नहीं देती है। जब उड़ती धूल मिट्टी आपके चेहरे पर लगती है और वो जमने लगती है, तब मुँहासों की समस्या पैदा होने लगती है। यह आपकी त्वचा की सवेंदनशीलता पर निर्भर करता है। खून के अशुद्धियां होने पर भी आपको मुँहासों की शिकायत पैदा हो सकती है। ऐसे में यह सिरप त्वचा और रक्त का शोधन कर मुँहासों पर रोक लगा सकती है।

एनीमिया के लिए अच्छा विकल्प

यह सिरप नए खून को बनने में भी मदद कर सकती है, जिससे एनीमिया के लक्षणों का इलाज किया जा सकता है।

त्वचाशोध तथा संक्रमण के निवारण में सहायक

शरीर से मौजूद विषैले पदार्थों के नाश हेतु इस सिरप का योगदान काफी अच्छा है। यह त्वचा की एलर्जी के मामलों में बेहद लाभकारी है। यह सिरप हानिकारक बैक्टीरिया की विकास दर को बाधित कर शरीर में ऊर्जा का संचय बनाएं रखती है।

खून से जुड़ी समस्याओं का उपचार

रक्त आनुवंशिक गुणों को आगे बढ़ाने का कार्य करता है और हृदय के कार्यों में सहायता करता है। रक्त का प्रवाह सामान्य होने पर आपकी आधी बीमारियां यूंही खत्म हो जाती है। रक्त को अशुद्धि मुक्त रखने के लिए यह एक प्रमाणित सिरप है।

पढ़िये: हिमालया डायबकॉन डीएस टैबलेट Liv 52 DS Tablet in Hindi 

दुष्प्रभाव

झंडू लालिमा सिरप के दुष्प्रभाव – Zandu Lalima Syrup Side Effects in Hindi

इसकी अति या दुरुपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • पेट दर्द
  • दस्त
  • उल्टी

खुराक

झंडू लालिमा सिरप की खुराक – Zandu Lalima Syrup Dosage in Hindi

झंडू लालिमा सिरप के नियमित सेवन से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञ से निजी सलाह लेना उचित माना जाता है।

आमतौर पर, झंडू लालिमा सिरप की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Zandu Lalima Syrup
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 2 छोटी चम्मच
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने से पहले या बाद: कभी भी
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: 1 महीने

18 वर्ष से उम्र के बच्चों के लिए इसकी खुराक हेतु बाल रोग चिकित्सक का परामर्श लें।

इसे नियमित मौखिक रूप से एक महीने तक ग्रहण करें। इस सिरप से उपचार की अवधि एक महीना है।

बुजुर्गों में इसकी खुराक एक सामान्य वयस्क के जितनी देना सुरक्षित हो सकता है। अन्य बड़ी बीमारियों के चलते किसी अच्छे डॉक्टर से राय लेने की दरकार है।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित झंडू लालिमा सिरप का उपयोग जल्द करें। अगली खुराक झंडू लालिमा सिरप की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

पढ़िये: आईएमई 9 टैबलेट Kayam Tablet in Hindi 

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में झंडू लालिमा सिरप के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

भोजन व झंडू लालिमा सिरप की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ झंडू लालिमा सिरप की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, झंडू लालिमा सिरप की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और झंडू लालिमा सिरप की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भवती महिलाएं अपने चिकित्सक की सलाह से ही इसे इस्तेमाल करें।

स्तनपान

इस विषय में जानकारी के अभाव के कारण अपने चिकित्सक से ही सलाह मशविरा करें।

ड्राइविंग

झंडू लालिमा सिरप के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

अन्य कोई बड़ी बीमारी होने पर झंडू लालिमा सिरप का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें।

कीमत

झंडू लालिमा सिरप को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

पढ़िये: झंडू स्त्रीवेदा पाउडर | Aimil Bgr-34 Tablet in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.