निर्माता

Kudos Laboratories India Ltd

कीमत

Rs 300 (60 Tablet)

IME 9 Tablet की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन करेला + गुड़मार + जामुन + अमरा + शुद्ध शिलाजीत
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
IME 9 Tablet

IME 9 Tablet Uses in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी

परिचय

आईएमई 9 टैबलेट क्या है? – What is IME 9 Tablet in Hindi

मधुमेह एक दीर्घकालिक बीमारी है, जो मरीज के साये की तरह जीवनभर उसके साथ चलती है।

मधुमेह के मामलों में एलोपैथिक दवाओं से किनारा रखने वाले मरीजों को आयुर्वेद ने इस टैबलेट को एक वरदान के रूप में दिया है।

आईएमई 9 टैबलेट पूर्णतया हर्बल घटकों से बनी है, जिसे बिना डॉक्टरी पर्चे के पूरे भारत में कहीं से भी खरीदी जा सकती है।

आईएमई 9 टैबलेट ब्लड शुगर पर नियंत्रण हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध है, जो टाइप-1 और टाइप-2 डायबिटीज के मुद्दों के लिए प्रभावी हो सकती है।

इस टैबलेट में इंसुलिन को बढ़ाने और आँतों में ग्लूकोज अवशोषण को धीमा करने का गुण होता है, जिसके कारण यह डायबिटीज से होने वाली छोटी-मोटी शिकायतों में सहायक हो सकती है।

इस टैबलेट की उपचार अवधि यथावत लंबी चल सकती है, लेकिन काल्पनिक विचारों में आकर इसे जल्दी बंद करने पर मधुमेह के प्रति आवश्यक फायदों से वंचित रह सकते है।

इस टैबलेट के उपयोग से हृदय रोग, त्वचा संक्रमण, उच्च रक्तचाप और हाइपोग्लाइसीमिया का भी उपचार किया जा सकता है।

पढ़िये: कायम टैबलेट | Zandu Striveda Powder in Hindi

संयोजन

आईएमई 9 टैबलेट की संरचना – IME 9 Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक आईएमई 9 टैबलेट में होते है।

करेला + गुड़मार + जामुन + अमरा + शुद्ध शिलाजीत

आईएमई 9 टैबलेट कैसे काम करती है?

  • करेला औषधीय गुणों से भरपूर होता है, जिसे आमतौर पर सब्जियों के रूप में ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। यह रक्त में शर्करा के स्तर को कम कर मधुमेह के प्रभाव को कम करने में सहायक है। यह एजेंट हाइपोग्लाइसीमिया के लिए आने वाली टैबलेटओं के असर को बढ़ा सकता है।
  • गुड़मार को ब्लड शुगर पर नियंत्रण हासिल करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह मधुमेह की स्थिति में ढेर सारे फायदे दे सकता है। इसके नियमित उपयोग से टाइप-2 डायबिटीज के प्रभाव को कम किया जा सकता है।
  • जामुन आँखों के लिए काफी अच्छा माना जाता है। यह मधुमेह के कारण हुई आँखों की क्षति को ठीक कर सकता है। इसमें हाइपोग्लाइसिमिक गुण होते है। इसमें मौजूद एल्केलॉइड्स ब्लड शुगर को घटाने में मददगार हो सकते है।
  • अमरा हाई बीपी, हृदय रोग, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल के लिए काफी लाभदायक हो सकता है। यह ब्लड सर्कुलेशन को ठीक कर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है, जिससे ब्लड शुगर भी कम हो जाता है।
  • शुद्ध शिलाजीत शारीरिक थकावट और कमजोरी को ठीक करने वाला सदाबहार एजेंट है। यह पाचन को ठीक करने और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर हो सकता है। इसके उपयोग से किसी भी बीमारी पर काबू पाने के लिए समर्थ बना जा सकता है।

पढ़िये: एमिल बीजीआर-34 टैबलेट | Peedanil Gold Tablet in Hindi 

फायदे

आईएमई 9 टैबलेट के उपयोग व फायदे – IME 9 Tablet Uses & Benefits in Hindi

आईएमई 9 टैबलेट को निम्नलिखित अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है-

  • उच्च इंसुलिन प्रतिरोध
  • शुगर
  • हाइपोग्लाइसीमिया
  • मधुमेह आधारित लक्षण (बार-बार पेशाब आना, बार-बार भूख लगना, अत्यधिक प्यास लगना, गला सुखना, हर वक्त शरीर में दर्द और कमजोरी रहना आदि)
  • इंसुलिन की कमी
  • बीटा कोशिकाओं की कमी

दुष्प्रभाव

आईएमई 9 टैबलेट के दुष्प्रभाव – IME 9 Tablet Side Effects in Hindi

इसकी अति या दुरुपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • त्वचा की एलर्जी
  • शुष्क त्वचा
  • उनींदापन
  • गैस्ट्रिक समस्याएं

पढ़िये: इसबगोल पाउडर | Ajmodadi Churna in Hindi

खुराक

आईएमई 9 टैबलेट की खुराक – IME 9 Tablet Dosage in Hindi

आमतौर पर, आईएमई 9 टैबलेट की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
IME 9 Tablet
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह-दोपहर-शाम
  • खाने से पहले या बाद: खाने से पहले
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

इस टैबलेट की खुराक बच्चों में देने से पहले बाल चिकित्सक से सलाह लेना जरूरी है। अधिकतर मामलों में यह टैबलेट बच्चों के लिए अनुशंसित नहीं है।

इसकी गोलियों को तोड़ने, चबाने, कुचलने या चूसने से बचें। इसकी खुराक में सुविधानुसार बदलाव करने न करें।

इस टैबलेट का कॉर्स लेने के दौरान ग्लूकोमीटर की सहायता से अपने ब्लड शुगर की जांच करते रहें, जिससे इस टैबलेट का परिणाम प्रत्यक्ष हो सकें।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित आईएमई 9 टैबलेट का सेवन जल्द करें। अगली खुराक आईएमई 9 टैबलेट की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ आईएमई 9 टैबलेट की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ आईएमई 9 टैबलेट की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, आईएमई 9 टैबलेट की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और आईएमई 9 टैबलेट की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था में इस टैबलेट को डॉक्टर की सलाह के बिना इस्तेमाल न करें।

स्तनपान

इस विषय में कोई खास जानकारी न होने के कारण आप अपने चिकित्सक के दिशा निर्देशों का पालन करें।

ड्राइविंग

आईएमई 9 टैबलेट के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

पढ़िये: हिमालया मेंटेट टैबलेट | Shankh Bhasma in Hindi 

कीमत

आईएमई 9 टैबलेट को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

सवाल-जवाब

क्या आईएमई 9 टैबलेट मधुमेह की वजह से घुटनों के दर्द से राहत दिला सकती है?

उम्र बढ़ने पर मधुमेह के मरीजों में थकान और घुटनों में दर्द की शिकायत हो सकती है। एलोपैथिक दवाओं के साथ इसे घुटनों के दर्द हेतु इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

क्या आईएमई 9 टैबलेट मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

नहीं, यह टैबलेट मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करती है। इस विषय में ज्यादा जानकारी के लिए अपने मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक से बातचीत करें।

क्या आईएमई 9 टैबलेट बीपी (Blood Pressure) को सामान्य बनाएं रखने में मदद कर सकती है?

बीपी के मामलों में ज्यादा गंभीरता होने पर, इस टैबलेट को लेने से पहले अपने चिकित्सक से व्यक्तिगत सलाह लें।

क्या आईएमई 9 टैबलेट शारीरिक सुस्ती का कारण बन सकती है?

नहीं, यह टैबलेट शरीर को सुस्त नहीं करती है।

क्या आईएमई 9 टैबलेट रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार कर सकती है?

हाँ, इस टैबलेट से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

आईएमई 9 टैबलेट की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल रखें?

इस टैबलेट की एक समय की खुराक लेने के बाद कम से कम 3-4 घंटों के बाद दूसरी खुराक का निर्वहन करें।

क्या आईएमई 9 टैबलेट भारत में लीगल है?

हाँ, यह आयुर्वेदिक टैबलेट भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: त्रिकटु चूर्ण | Dabur Honitus Syrup in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.