Patanjali Divya Kesh Taila

पतंजलि केश तेल के फायदे, नुकसान, प्रयोग विधि, सावधानी | Patanjali Divya Kesh Taila

Patanjali Divya Kesh Taila क्या है?

पतंजलि दिव्य केश तेल दूसरे हेयर ऑइल की तरह ही होता है, लेकिन इसमें जड़ी-बूटियों का अच्छा संगम होने के कारण यह अन्य सामान्य हेयर ऑइल से दो कदम आगे है।

यह भृंगराज, आंवला और चंदन जैसे कई आयुर्वेदिक घटकों से निर्मित तेल है। पंतजलि दिव्य केश तेल हर तरह के बालों पर इस्तेमाल किया जा सकता है और बालों से जुड़ी हर समस्या का इलाज किया जा सकता है।

इस तेल की मालिश या चम्पी से मस्तिष्क शांत रहता है और तनाव दूर होता है। इसे खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची आवश्यक नहीं होती है क्योंकि यह ओवर द कॉउंटर उत्पाद है, जिसे आसानी से खरीदा जा सकता है।

इस दिव्य तेल के इस्तेमाल से बालों का झड़ना रुक सकता है और गंजापन कम हो सकता है।

नामPatanjali Divya Kesh Taila
निर्माता (Manufacturer)Patanjali Ayurved Limited
संरचना (Composition)भृंगराज + आंवला + बाला + चंदन + जटामांसी + मंजिष्ठा + नागकेसर + मुलेठी + दारूहल्दी + लोध्र + मंडुकपर्णी + प्रियांगु + नागरमोथा + अनंतमूल
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक
कीमत (Price)105 रूपये (100ml)

पढ़िये: बेटनोवेट एन क्रीमHimalaya Batisa Powder in Hindi

भृंगराज इस तेल का सबसे मुख्य घटक है। भृंगराज वात, पित्त और कफ त्रिदोष को संतुलित कर बाल गिरने की समस्या रोक सकता है। इसमें एंटीइंफ्लेमेट्री गुण होते है, जिस कारण यह स्कैल्प में खाज, डैंड्रफ और जलन को कम कर सकता है। यह एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है, जो बालों के अच्छे विकास को प्रोत्साहित कर बालों को चमक, रंगत, सुंदर, मोटा, लंबा, मुलायम, काला और घना बना सकता है। यह नये बाल उगाकर गंजापन को दूर कर सकता है।

आंवला विटामिन सी का एक भरपूर स्त्रोत है, जो बालों का पतला होना, झड़ना, टूटना, रूसीपन और गंजापन जैसी कई शिकायतों को दूर कर सकता है। यह बालों की पकड़ को मजबूत रखने वाले पोषक तत्वों की मांग को पूरा कर सकता है। यह बालों को घना, चमकदार या काला रूप प्रदान करता है। यह बालों के पिगमेंटेशन को संतुलित कर बालों को समय से पहले सफेद होने से बचाता है। आँवला में मौजूद फैटी एसिड बालों का तेजी से विकास करने में मददगार हो सकते है। कुल मिलाकर कहें तो आँवला एक समृद्घ हेयर टॉनिक है।

बाला हार्मोन असंतुलन या मानसिक तनाव की वजह से होने वाली हेयरफॉल की समस्या को ठीक कर सकता है।

चंदन त्वचा व बालों के स्वास्थ्य हेतु एक बेहद अच्छा घटक है। यह शरीर की कोशिकाओं को मुक्त कणों से दूर रखता है और ऑक्सीकरण से होने वाले नुकसान के अनुमान को कम कर सकता है।

जटामांसी मानसिक थकान उतारने वाली एक उत्कृष्ट जड़ी-बूटी है, इसलिए इस तेल में जटामांसी का प्रयोग किया गया है। इसे दिमाग को बल प्रदान कर याददाश्त बढ़ा सकती है।

मंजिष्ठा को हेयर डाई की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि इसमें बालों को काला करने का गुण होता है और एक कलरिंग एजेंट के रूप में कार्य करता है।

दारूहरिद्रा को बालों पोषण प्रदान कर मजबूत बनाने और फंगल इंफेक्शन से बचाव कर डेंड्रफ या रूसिपन से छुटकारा दिलाने में मददगर हो सकता है।

उपयोग व फायदे – Patanjali Divya Kesh Taila Uses in Hindi

निम्न अवस्था या विकार में Patanjali Divya Kesh Taila को विशेषज्ञ द्वारा रोगी को सलाह किया जाता है। Patanjali Divya Kesh Taila का उपयोग विशेषज्ञ से व्यक्तिगत सलाह बिना लिए ना करें।

  • बाल झड़ना
  • गंजापन
  • समय से पहले बाल सफेद होना
  • डेंड्रफ
  • पतले बाल
  • खोपड़ी पर फंगल इंफेक्शन
  • मानसिक तनाव
  • सिरदर्द

पढ़िये: लॉन्ग लूक कैप्सूल | Rogan Badam Oil in Hindi

दुष्प्रभाव – Patanjali Divya Kesh Taila Side Effects in Hindi

प्राकृतिक घटकों से निर्मित यह तेल केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए है और इससे कोई दुष्प्रभाव ज्ञात नहीं है।

पतंजलि दिव्य केश तेल की प्रयोग विधि – Uses Method in Hindi

एक सामान्य व्यक्ति पतंजलि दिव्य केश तेल को दिन में एक या दो बार इस्तेमाल कर सकता है।

शरीर या दिमाग की थकान उतारने के लिए इस तेल से रात में मालिश करें।

इस तेल की जरूरत अनुसार मात्रा लेकर उंगलियों के द्वारा बालों की जड़ों में लगायें और सर्कुलर मोशन में मालिश करें।

इस दिव्य तेल की उपचार अवधि लंबी चल सकती है, इसलिए इसे कब लगाना कब शुरू या बंद करना है इसकी जानकारी आयुर्वेदिक डॉक्टर से लें।

पढ़िये: रूमा ऑइल | Takzema Ointment in Hindi 

सावधानियां – Patanjali Divya Kesh Taila Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Patanjali Divya Kesh Taila के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Patanjali Divya Kesh Taila से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही Patanjali Divya Kesh Taila की खुराक लें।

  • एलर्जी
  • खुला घाव

पढ़िये: नर्विजेन प्लस कैप्सूल | Liv Amrit Syrup in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.