Naari Jeevan Jyoti Capsule

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि, सावधानी | Naari Jeevan Jyoti Capsule

Naari Jeevan Jyoti Capsule क्या है?

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल एक हर्बल प्रॉडक्ट है, जो महिलाओं के लिए एक वरदान है। यह दवा महिला स्वास्थ्य को फिट एवं हेल्थी बनायें रख सकती है।

किशोरावस्था में मासिक धर्म की शुरूआत होने पर लड़कियों में कई बदलाव आने लगते है। हार्मोन में बदलाव हर महिला या स्त्री में होता है, लेकिन यदि किसी को हार्मोन असंतुलन की शिकायत बार-बार या ज्यादा रहती है, तो उनके लिए यह उत्पाद काफी फायदेमंद हो सकता है।

यह एक OTC प्रॉडक्ट है, जिसे खरीदने के लिए डॉक्टरी पर्चे की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन फिर भी इसे चिकित्सक की सलाह अनुसार इस्तेमाल किया जाना ज्यादा सुरक्षित है।

मासिक धर्म चक्र के समय होने वाली तमाम मुश्किलों जैसे- सामान्य से कम या ज्यादा ब्लीडिंग, असहनीय दर्द, चिड़चिड़ापन, तनाव, डिप्रेशन, कमजोरी या थकावट, चेहरे पर बालों का उगना, अत्यधिक तेजी से वजन बढ़ना, बालों का झड़ना, बांझपन आदि में इस दवा का सकारात्मक दृश्य देखा जा सकता है।

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल की संरचना – Naari Jeevan Jyoti Capsule Composition in Hindi

निम्न घटक नारी जीवन ज्योति कैप्सूल में मौजूद होते है।

शतावरी + अशोक + वट जटा + लोध्र + पुनर्नवा + त्रिफला + आँवला + बेहडा + उदुम्बर + गुग्गुल + निर्गुन्डी + एलोवेरा + अजवायन

पढ़िये: गोली उस्ताद टैबलेटCharak Neo Tablet in Hindi

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल के उपयोग व फायदे – Benefits & Uses in Hindi

निम्न अवस्था या विकार में नारी जीवन ज्योति कैप्सूल को विशेषज्ञ द्वारा रोगी को सलाह किया जाता है। नारी जीवन ज्योति कैप्सूल का उपयोग विशेषज्ञ से व्यक्तिगत सलाह बिना लिए ना करें।

हार्मोन असंतुलन को ठीक करने में सहायक

महिलाओं में हार्मोन असंतुलन की वजह से मानसिक और शारीरिक हेल्थ पर बुरा असर दिखना स्वाभाविक है, इसलिए इस बीमारी को नजरअंदाज करने के बजाय इसका इलाज करना ज्यादा उचित है। यह दवा महिला हार्मोन LH और FSH को बैलेंस कर महावारी से संबंधित विकारों को दूर करने में मददगार हो सकती है।

PCOD या PCOS में लाभकारी

PCOD की वजह से होने वाली ज्यादा थकावट, चिड़चिड़ापन, तेजी से वजन बढ़ना, अनिश्चित या अनियंत्रित रक्तस्राव होना, पीरियड्स में ज्यादा दर्द आदि समस्याओं में यह दवा बेहद अच्छा कार्य कर सकती है। यूटेराइन एरिया में नर्वस फंक्शन को इम्प्रूव कर मासिक धर्म चक्र को रेगुलर बनायें रखने में यह बेहद सक्षम दवा है।

इनफर्टिलिटी की समस्या में कारगर

लगातार हार्मोन स्तर में उतार-चढ़ाव से इनफर्टिलिटी की समस्या आम हो जाती है और फिर महिलाओं के लिए गर्भधारण करना बेहद कठिन हो जाता है। इसमें शामिल प्रभावी घटक हाइजिन को बूस्ट कर इनफर्टिलिटी में सुधार कर सकते और महिलाओं को बांझपन से छुटकारा दिला सकते है।

गर्भाशय के विकास में सहायक

यह दवा स्वस्थ अंडाशय के विकास को मुमकिन कर सकती है। इसके अलावा, यह गर्भाशय से जुड़े विकारों की रोकथाम कर प्रेग्नेंसी को कंसीव करने में मदद कर सकती है।

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल के दुष्प्रभाव – Naari Jeevan Jyoti Capsule Side Effects in Hindi

प्राकृतिक जड़ी बूटियों से निर्मित इस आयुर्वेदिक उत्पाद से कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। लक्षणों का तीव्र प्रभाव या किसी स्थायी बीमारी से ग्रसित होने पर इसे अपने चिकित्सक की सलाह पर ही इस्तेमाल करें।

पढ़िये: मेडिमिक्स सोप | Shan E Mard in Hindi

नारी जीवन ज्योति कैप्सूल की खुराक – Naari Jeevan Jyoti Capsule Dosage in Hindi

खुराक विशेषज्ञ द्वारा नारी जीवन ज्योति कैप्सूल की रोगी की अवस्था अनुसार दी जाती है। इसलिए नारी जीवन ज्योति कैप्सूल का उपयोग विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद शुरू करें।

18 वर्ष से अधिक आयु की लड़कियां या महिलाएं प्रतिदिन इस दवा की एक कैप्सूल की खुराक लें सकती है। इसकी खुराक भोजन के बाद पानी के साथ ली जा सकती है।

इसकी कैप्सूल को तोड़ने, चबाने या कुचलने की अपेक्षा सीधा निगलना चाहिए।

लक्षण की गंभीरता अधिक होने पर इसकी खुराक को बढ़ाने के लिए अपने चिकित्सक की मदद अवश्य लें।

ज्यादा कम उम्र की लड़कियों में इसे देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह लें।

इस दवा के एक्सपायरी उत्पाद का इस्तेमाल करने से बचें तथा इसकी अति या दुरूपयोग न करें।

सावधानियां – Naari Jeevan Jyoti Capsule Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में नारी जीवन ज्योति कैप्सूल के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में नारी जीवन ज्योति कैप्सूल से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही नारी जीवन ज्योति कैप्सूल की खुराक लें।

पढ़िये: बायो तेल | Tetmosol Soap in Hindi

Naari Jeevan Jyoti Capsule FAQ in Hindi

1) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा में कुछ ऐसे घटक शामिल है, जो गर्भावस्था के लिए भारी साबित हो सकते है। गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा का इस्तेमाल अपने चिकित्सक की सलाह से ही करना चाहिए, ताकि कोई विषम दुष्प्रभाव न हो।

2) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल को भूखे पेट इस्तेमाल किया जा सकता है?

उत्तर: इस दवा की प्रकृति के अनुसार इसे भोजन के बाद लेने की हिदायत दी जाती है। इसे ज्यादा समय तक भूखे पेट इस्तेमाल से पेट उदासीनता की समस्या हो सकती है।

3) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: नहीं। यह दवा मासिक धर्म चक्र से जुड़ी परेशानियों को ठीक कर सकती है। इस विषय में अपने निजी मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की सलाह लें सकते है।

4) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल के इस्तेमाल से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा का उपयोग करने से इसकी आदत नहीं लगती है। यह दवा महिलाओं को आदी नहीं बनाती है, लेकिन फिर भी इसे लंबे समय तक इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सीय परामर्श जरूर लें।

5) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल यौन स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: यह दवा केवल महिलाओं के लिए है और इसका सही प्रयोग महिलाओं के यौन स्वास्थ्य को प्रभावित नहीं करता है।

6) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल की खुराक के उपरांत ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: यदि इसकी खुराक के बाद भी उनींदापन, चक्कर या उल्टी जैसे कोई समस्या होती है, तो ड्राइविंग से परहेज करना चाहिए। अन्यथा ड्राइविंग करना आपका निजी फैसला हो सकता है क्योंकि यह ड्राइविंग की क्षमता को प्रभावित नहीं करती है।

7) क्या नारी जीवन ज्योति कैप्सूल भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह हर्बल उत्पाद भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: बी टोन क्रीम | Kushta Qalai in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.