Bio Oil की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन लैवेंडर ऑयल + कैमोमाइल ऑयल + कैलेंडुला ऑयल + पर्सेलिन ऑयल + विटामिन-ई + विटामिन-ए
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Bio Oil

Bio Oil के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि, सावधानी | बायो तेल

परिचय

Bio Oil क्या है?

Bio Oil त्वचा की देखभाल करने वाला एक स्पेशलिस्ट स्किन केयर ऑयल है।

त्वचा के नए या पुराने निशानों को मिटाने तथा त्वचा को साफ करने के लिए यह बायो तेल बेहद फायदेमंद हो सकता है।

यह तेल त्वचा में आसानी से अवशोषित हो जाता है क्योंकि यह प्रकृति में चिपचिपा नहीं होता है। यह समय के साथ सभी सही कारणों में उचित परिणाम देने के कारण एक सौंदर्य प्रधान उत्पाद बन गया है।

एक आदर्श मॉइस्चराइजर की भांति कार्य कर यह तेल त्वचा से हर तरह के खिंचाव के निशानों को हल्का या गायब कर सकता है।

त्वचा की अलग-अलग समस्याओं के लिए हमें अलग-अलग प्रॉडक्ट इस्तेमाल करने पड़ सकते है, लेकिन इस एक स्किन प्रॉडक्ट के इस्तेमाल से कई समस्याओं से निजात पाया जा सकता है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर कई घटक शामिल है, जो संपूर्ण त्वचा स्वास्थ्य को बेहतर बनायें रखता है।

निशानों के अलावा यह तेल झुर्रियों या मुहाँसों को कम कर त्वचा में निखार तथा गोरापन ला सकता है।

नामBio Oil
निर्माता (Manufacturer)Marico Limited
संरचना (Composition)लैवेंडर ऑयल + कैमोमाइल ऑयल + कैलेंडुला ऑयल + पर्सेलिन ऑयल + विटामिन-ई + विटामिन-ए
दवा-प्रकार (Type of Drug)Skin Care
कीमत (Price)450 रुपये (60ml)

फायदें: टेटमोसोल सोप | B-tone Cream in Hindi

फायदे

बायो तेल के उपयोग व फायदे – Bio Oil Benefits & Uses in Hindi

इस औषधीय तेल से निम्नलिखित फायदें हो सकते है-

हाइपरपिगमेंटेशन के उपचार में सहायक

त्वचा पर भद्दे दिखने वाले असमान दाग-धब्बें, झाइयां या पिगमेंटेशन की समस्या में यह तेल लाभकारी हो सकता है। लैवेंडर ऑयल स्किन टोन को सुधार कर त्वचा को बेदाग बनाने वाला एक उत्कृष्ट प्राकृतिक उपाय है, जो इस उत्पाद का एक मुख्य सक्रिय घटक है।

मुहाँसों से राहत दिलाना

इस विषय में एक बार बायो तेल से पैच टेस्ट अवश्य करें। कैमोमाइल ऑयल मुहाँसों को कम कर त्वचा को क्लीन रखने में मददगार हो सकता है। ओपन पोर्स की समस्या ज्यादा होने पर भी इस तेल के इस्तेमाल से फायदा हो सकता है।

स्ट्रेच मार्क को कम करने में कारगर

बाहरी शरीर के किसी भी हिस्से पर त्वचा के खिंचने से होने वाले निशान स्ट्रेच मार्क कहलाते है। बायो ऑयल खासकर स्ट्रेच मार्क की समस्या में ज्यादा इफेक्टिव होता है। प्रेग्नेंसी के बाद पेट या उसके निचले हिस्से पर, स्तनपान बाद स्तनों के आस पास के क्षेत्र पर तथा अत्यधिक मोटापे के कारण बगल या जांघ पर होने वाले निशानों को हल्का या कम करने में यह तेल काफी प्रभावशाली साबित होता है।

फेयरनेस प्रदान करने में सहायक

यह तेल त्वचा में कई आवश्यक पोषक तत्वों की आपूर्ति कर त्वचा की स्थिति में सुधार कर सकता है। इसके अलावा, यह तेल ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर एजिंग के प्रभाव को कम करता है और झुर्रियों को कम कर त्वचा की उम्र बढ़ाने में मदद करता है।

त्वचा को पोषण प्रदान करने में मददगार

चेहरे से काले दाग-धब्बें, कील-मुहाँसे या शुष्क त्वचा की समस्या की खत्म कर यह तेल त्वचा को सुंदर व आकर्षक बना सकता है।

दुष्प्रभाव

बायो तेल के दुष्प्रभाव – Bio Oil Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफेक्ट्स Bio Oil के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफेक्ट्स Bio Oil से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Bio Oil से दुष्प्रभाव में विशेषज्ञ की सहायता लें।

  • त्वचा में जलन
  • उल्टी
  • डायरिया
  • मतली
  • सूजन
  • लालिमा

इनके अलावा भी अन्य साइड इफेक्ट्स Bio Oil से हो सकते है।

पढ़िये: कुश्ता कलई | Blast 36 Lotion in Hindi

खुराक

बायो तेल की खुराक – Bio Oil Dosage in Hindi

बायो तेल को इस्तेमाल करने से पहले अपनी त्वचा की मेडिकल जांच हेतु किसी अच्छे डर्मेटोलॉजिस्ट की मदद लें क्योंकि ऑयली, खुरदरी या संवेदनशील त्वचा में सावधानी बरतनी आवश्यक होती है।

इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से पहले उस क्षेत्र को पानी से धोकर अच्छे से साफ कर लें, इसके उपरांत इसकी कुछ बूंदों को हथेली पर लेकर सर्कुलर मोशन में मालिश करें।

इस तेल से 5 मिनट तक मालिश करें, ताकि त्वचा में तेल का अवशोषण ज्यादा हो।

छोटे बच्चों में इस तेल के प्रयोग हेतु बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह लें। इसे रात में लगाकर सोने से बेहद अच्छा परिणाम प्राप्त हो सकता है।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Bio Oil का उपयोग जल्द करें। अगली खुराक Bio Oil की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में Bio Oil के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Bio Oil से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही Bio Oil की खुराक लें।

पढ़िये: धातुपौष्टिक चूर्ण | Cute B Cream in Hindi

सवाल-जवाब

क्या Bio Oil गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

यह तेल केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए है, अतः इसे गर्भवती महिलाओं द्वारा इस्तेमाल करना सुरक्षित होता है। लेकिन फिर भी इसे अपने चिकित्सक की सलाह पर इस्तेमाल करना ज्यादा सुरक्षित माना जाता है।

क्या Bio Oil के इस्तेमाल से इसकी आदत लग सकती है?

इस तेल के सभी घटक प्राकृतिक होते है, जो हमारे मस्तिष्क को इसके प्रति बाध्य नहीं करते है। अतः इसे इस्तेमाल करने से इसकी आदत लगने की कोई संभावना नहीं होती है।

Bio Oil से कितने समय में असर दिखना शुरू हो जाता है?

इस तेल को 8 सप्ताहों यानी 2 महीनों तक लगातार इस्तेमाल करने की आवश्यकता होती है। हालांकि शुरुआती कुछ दिनों में इससे परिणाम दिखना शुरू हो जाता है, लेकिन हर किसी की मेडिकल स्थिति अलग होने के कारण एक फिक्स समय को अनुमानित नहीं किया जा सकता है।

Bio Oil को दिन में कितनी बार इस्तेमाल किया जा सकता है?

तेल को दिन में दो बार इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे अधिकतम दिन में 3 बार इस्तेमाल किया जाना सुरक्षित होता है।

क्या Bio Oil स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस तेल का इस्तेमाल अपने चिकित्सक की सलाह पर ही करना चाहिए।

क्या Bio Oil मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकता है?

नहीं, यह तेल महिलाओं के मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करता है। इस विषय में और अधिक जानकारी के लिए मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की मदद लें।

क्या Bio Oil बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है?

हाँ, यह तेल त्वचा के अलावा बालों के लिए भी बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

क्या Bio Oil शरीर को उदासीन कर सकता है?

नहीं, इस तेल की मालिश से शरीर उदासीन नहीं बनता है।

क्या Bio Oil भारत में लीगल है?

हाँ, यह उत्पाद भारत में पूर्णतया लीगल है। इसे खरीदने के लिए डॉक्टरी पर्चे की आवश्यकता नहीं होती है।

पढ़िये: हिमालया हड़जोड़ | Farbah Oil in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.