Dabur Honitus Syrup
नाम (Name)Dabur Honitus Syrup
संरचना (Composition)मुलेठी + तुलसी + सुन्थी + शहद + कंटकारी + पिप्पली + अदरक + पुदीना + कपूर कचरी + वसाका + तालीसपत्र
निर्माता (Manufacturer)Dabur India Ltd
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवा
उपयोग (Uses)कफ, गले में दर्द और सूजन, गले की खराश, खाँसी, ब्रोंकाइटिस आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)हल्की थकान, सामान्य दस्त, उल्टी, मतली
ख़ुराक (Dosage)जरूरत अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावमधुमेह
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)95 रुपये (100ml)

डाबर हनीटस सिरप क्या है? – What is Dabur Honitus Syrup in Hindi

Honitus Syrup एक आयुर्वेदिक फार्मूला है, जिसे विशेषकर कफ, सर्दी-खाँसी और गले की जलन से निजात पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

Advertisements

Honitus Syrup एक मशहूर क्लीनिकल टेस्टेड दवा है, जो बच्चों में भी उतनी ही सुरक्षित है, जितनी कि बड़े वयस्कों में।

यह दवा डाबर जैसी एक नामचीन कंपनी द्वारा निर्मित की गई है, जो आयुर्वेद चिकित्सा को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से काम कर रही है।

मौसमी सर्दी-खाँसी और जुकाम के लिए यह एक स्वास्थ्यसेवा है, जिसे आप बिना डॉक्टरी पर्चे के भी खरीद सकते है।

Honitus Syrup अन्य कुछ लक्षणों जैसे दमा, बुखार, कब्ज, अत्यधिक बलगम और गठिया के लिए भी फायदेमंद साबित हो चुकी है।

दौरे, गर्भाशय कैंसर और अतिसंवेदनशीलता के मामलों में इसे पूरी तरह परहेज किया जाना चाहिए।

डाबर हनीटस सिरप की संरचना – Dabur Honitus Syrup Composition in Hindi

निम्न घटक Dabur Honitus Syrup होते है।

मुलेठी: + तुलसी + सुन्थी + शहद + कंटकारी + पिप्पली + अदरक + पुदीना + कपूर कचरी + वसाका + तालीसपत्र

पढ़िये: नीरी टैबलेट | Horlicks Review in Hindi 

Dabur Honitus Syrup कैसे काम करती है?

  • मुलेठी का इस्तेमाल गले में दर्द और जलन से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है। मुलेठी चोट या संक्रमण के कारण होने वाली सूजन को कम करने के लिए प्रभावी हो सकता है।
  • तुलसी में Anti-tussive गुण होते है, जो कफ रिफ्लेक्स चाप को बाधित कर खाँसी को दबाने का कार्य करती है। यह कफ या बलगम को पतला कर सांस लेने की दिक्कत को दूर कर सकता है। तुलसी एलर्जी के लक्षणों को रोकने में मददगार हो सकती है।
  • सुन्थी Cough Relieves का कार्य करती है। यह कफ को उत्सर्जित कर गले की खराश को दूर कर सकती है। यह सर्दी-जुकाम और ब्रोंकाइटिस के मामलों में फायदेमंद हो सकती है।
  • शहद को इस दवा में Flavoring Agent के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, ताकि यह दवा स्वाद में खारी न लगें। शहद में कफ और गले को शांत करने की खूबी होती है।

डाबर हनीटस सिरप के उपयोग व फायदे – Dabur Honitus Syrup Uses & Benefits in Hindi

Dabur Honitus Syrup को निम्न अवस्था या विकार में सलाह किया जाता है।

  • कफ
  • सर्दी-जुकाम
  • गले में दर्द और सूजन
  • गले की खराश
  • हर तरह की खाँसी
  • ब्रोंकाइटिस
  • अत्यधिक बलगम की समस्या
  • सांस लेने में दिक्कत
  • बुखार
  • दमा
  • कब्ज
  • गठिया के दर्द

डाबर हनीटस सिरप के दुष्प्रभाव – Dabur Honitus Syrup Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफेक्ट्स Dabur Honitus Syrup के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफेक्ट्स Dabur Honitus Syrup से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफेक्ट्स नहीं होते है।

  • हल्की थकान
  • सामान्य दस्त
  • उल्टी
  • मतली

पढ़िये: इंश्योर पाउडर के फायदे Unani Medicine in Hindi 

डाबर हनीटस सिरप की खुराक – Dabur Honitus Syrup Dosage in Hindi

  • Honitus Syrup की खुराक एक सामान्य वयस्क के लिए, दिन में 2 चम्मच यानी 10 मिलीलीटर 3 से 4 बार लेने के निर्देश दिए जाते है।
  • इसकी खुराक बच्चों को दिन में एक चम्मच यानी 5 मिलीलीटर 3 से 4 बार दें। उम्र और लक्षण गंभीरता के हिसाब से सही खुराक के लिए बाल रोग विशेषज्ञ की मदद लें।
  • Honitus Syrup को लेने से पहले थोड़ा हिला लें क्योंकि यह गाढ़ी सिरप होती है, जिसे मिक्स करना पड़ सकता है।
  • इसकी नियमित खुराक को तय समय अंतराल के साथ पालन करें। खुराक भूलने की समस्या होने पर घर के किसी सदस्य की मदद लें।
  • Honitus Syrup की खुराक में सुविधानुसार बदलाव न करें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Honitus Syrup का सेवन जल्द करें। अगली खुराक निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Dabur Honitus Syrup Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Dabur Honitus Syrup के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Dabur Honitus Syrup से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Dabur Honitus Syrup की खुराक लें।

  • मधुमेह (Diabetes)

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Honitus Syrup की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: हिमालया आमलकी टैबलेट | Baidyanath Shankhpushpi Syrup in Hindi

Dabur Honitus Syrup FAQ in Hindi

1) क्या Honitus Syrup को मधुमेह के मामलों में इस्तेमाल किया जा सकता है?

उत्तर: इस दवा में शहद की मिठास होने से मधुमेह के रोगियों को थोड़ी बहुत समस्याएं हो सकती है। Honitus Syrup को मधुमेह से जुड़े मामलों में चिकित्सक मंजूरी आवश्यक है।

2) Honitus Syrup की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल रखने की आवश्यकता है?

उत्तर: Honitus Syrup की दो लगातार खुराकों के बीच कम से कम 2-3 घंटों का समय अंतराल काफी है। इसे दिन में 3 से 4 बार लेने की आवश्यकता होने पर प्रत्येक खुराक को एक निश्चित समय के साथ पाबंध कर दें।

3) क्या Honitus Syrup से शीघ्र असर हो सकता है?

उत्तर: हाँ, Honitus Syrup से शीघ्र असर हो सकता है। यह खाँसी और सर्दी-जुकाम के लिए एक फ़ास्ट रिलीफ दवा है, जो लगभग 3 दिनों के भीतर लक्षणों से राहत दिला सकती है।

4) Honitus Syrup को कितने समय तक लेने की आवश्यकता हो सकती है?

उत्तर: इस दवा के असर की अवधि कम होती है क्योंकि यह शीघ्र प्रभावी उपचार है। इसे एक सप्ताह तक लेने की आवश्यकता हो सकती है। इससे ज्यादा इस्तेमाल करने के लिए अपने चिकित्सक की सलाह लें।

5) क्या Honitus Syrup के पैक को फ्रिज में रख सकते है?

उत्तर: नहीं, इस सिरप के पैक को फ्रिज में नहीं रखा जाना चाहिए। ज्यादा नमी, धूप और सूर्य की सीधी रोशनी से इस दवा के घटक जल्दी खराब हो सकते है।

6) क्या Honitus Syrup के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के सेवन से इसकी आदत नहीं लगती है। इस दवा की उपचार अवधि बेहद कम है, जिसके कारण इसे लंबे समय तक लेने की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि लंबे समय तक इस सिरप को इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक की राय अवश्य लें।

7) क्या Honitus Syrup गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इसे गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित माना जाता है। लेकिन फिर भी इस विषय में गर्भवती महिलाओं के लिए डॉक्टर की सलाह बेहद महत्व रखती है क्योंकि हर किसी की मेडिकल स्थिति अलग हो सकती है।

8) क्या Honitus Syrup मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: नहीं, यह दवा मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करती है। इस विषय में अन्य जानकारी के लिए आप अपने निजी मासिक धर्म चक्र से जुड़े डॉक्टर की मदद ले सकते है।

9) क्या Honitus Syrup की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित हो सकता है। सर्दी-खाँसी और मामूली लक्षणों स ड्राइविंग क्षमता प्रभावित नहीं होती है। लेकिन सांस लेने की तकलीफ या दवा के अन्य दुष्प्रभावों के चलते ड्राइविंग की बजाय आराम करना ज्यादा सुरक्षित माना जाता है।

10) क्या Honitus Syrup स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, यह दवा स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है। इस दवा के बारें में मिली जानकारी से पता चलता है कि इससे नर्सिंग महिलाओं को कोई तकलीफ नहीं होती है। इस विषय में दवा की अति या दुरूपयोग से अवश्य बचें।

11) क्या Honitus Syrup को भूखे पेट लिया जा सकता है?

उत्तर: इस दवा को कभी भी लिया जा सकता है। इसे भोजन के बाद लेने से एलर्जिक लक्षणों के साथ-साथ पाचन को सुधारने में भी मदद मिल सकती है। इसलिए इसे भोजन के बाद लेना ज्यादा उचित माना जाता है।

12) क्या Honitus Syrup एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: एल्कोहोल के साथ इस दवा के व्यवहार की कोई जानकारी मौजूद नहीं है। इस विषय में और रिसर्च की आवश्यकता है। इसलिए आप अपने चिकित्सक से पूछ कर ही ऐसा कदम उठाएं।

13) क्या Honitus Syrup भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह दवा भारत में पूर्णतया लीगल है। यह दवा हर मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन वेबसाइट पर आसानी से उपलब्ध है।

पढ़िये: डाबर च्यवनप्राश के फायदे | Mahabhringraj Oil in Hindi

References

Clinical validation of efficacy and safety of herbal cough formulation “Honitus syrup” for symptomatic relief of acute non-productive cough and throat irritation https://www.researchgate.net/publication/322977033_Clinical_validation_of_efficacy_and_safety_of_herbal_cough_formulation_Honitus_syrup_for_symptomatic_relief_of_acute_non-productive_cough_and_throat_irritation Accessed On 15/06/2021

Clinical validation of efficacy and safety of herbal cough formulation “Honitus syrup” for symptomatic relief of acute non-productive cough and throat irritation https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29491673/ Accessed On 15/06/2021

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *