Kuberaksha Vati की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन सागरगोटा + ओवा + काला नमक + हींग + काली मिर्च
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
कुबेराक्ष वटी

कुबेराक्ष वटी के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Kuberaksha Vati in Hindi

परिचय

कुबेराक्ष वटी क्या है? – What is Kuberaksha Vati in Hindi

कुबेराक्ष वटी खासकर महिलाओं के लिए तैयार किया गया एक आयुर्वेदिक उत्पाद है।

यह दवा महिलाओं से जुड़े विकारों को ठीक कर खुशहाल जीवन जीने में मदद करती है।

कुबेराक्ष वटी का उपयोग मुख्यतः PCOD (Polycystic Ovarian Disease/Syndrome) जैसे लक्षणों के इलाज हेतु किया जाता है।

यदि महिलाओं में शरीर पर अनचाहे बाल, कील-मुँहासे, हार्मोन असंतुलन, वजन बढ़ना, चिड़चिड़ापन, बालों का झड़ना, मूड स्विंग, अनियमित पीरियड्स, असामान्य रक्तस्राव आदि सभी PCOD से जुड़े लक्षण दिखते है, तो विशेषज्ञ की सलाह अनुसार कुबेराक्ष वटी एक बेहद फायदेमंद विकल्प हो सकता है।

कुबेराक्ष वटी मादा जननांग की कमियों को दूर कर गर्भाशय को तंदुरुस्त बनाने में भी मददगार हो सकती है।

पढ़िये: हिमालया लुकोल टैबलेट | Brahmi Vati in Hindi 

संयोजन

कुबेराक्ष वटी की संरचना – Kuberaksha Vati Composition in Hindi

निम्न घटक कुबेराक्ष वटी में होते है।

सागरगोटा + ओवा + काला नमक + हींग + काली मिर्च

कुबेराक्ष वटी कैसे काम करती है?

  • सागरगोटा बालों की जड़ो को मजबूत कर उन्हें झड़ने से रोकने का काम करता है। यह पेट से जुड़ी समस्याओं और अंगों की सूजन को दूर करने में कारगर होता है।
  • ओवा महिलाओं में हार्मोन असंतुलन की वजह से पैदा हुए मासिक धर्म और गर्भावस्था से जुड़े मुद्दों का इलाज करता है और साथ ही, महिला हॉर्मोन्स के बीच संतुलन बनाये रखने का कार्य करता है।
  • काला नमक मोटापे को कम कर इम्यूनिटी को बढ़ाने का कार्य करता है। यह पेट से जुड़ी समस्याओं का इलाज कर पाचन तंत्र को सहजने में सहायक है।
  • हींग सामान्य प्रसव कराने में मददगार होता है। हींग अनियमित माहवारी, मासिक धर्म के दर्द, भारी मासिक रक्तस्राव, कब्ज जैसे अन्य कई संकेतों से छुटकारा दिलाने में कारगर है।
  • मिरे (काली मिर्च) पीरियड्स में देरी होने पर लाभकारी साबित होती है। काली मिर्च की तासीर गर्म होने से यह शारीरिक गर्मी को बढ़ाकर रक्तस्राव को सामान्य बनाती है।

पढ़िये: लवंगादि वटी Punarnavarishta in Hindi 

फायदे

कुबेराक्ष वटी के उपयोग व फायदे – Kuberaksha Vati Uses & Benefits in Hindi

कुबेराक्ष वटी को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है-

  • चिड़चिड़ापन
  • कील-मुँहासे
  • अनियमित मासिक धर्म
  • अनचाहे शारीरिक बाल
  • शारीरिक कमजोरी
  • मूड परिवर्तन
  • बाल झड़ना
  • हार्मोन असंतुलन
  • पाचन कमजोरी
  • असामान्य रक्तस्राव
  • कब्ज
  • नाराजगी
  • पेट दर्द
  • यकृत विकार
  • अंडाशय में गठानों की समस्या

दुष्प्रभाव

कुबेराक्ष वटी के दुष्प्रभाव – Kuberaksha Vati Side Effects in Hindi

कुबेराक्ष वटी एक आयुर्वेदिक संयोजन है, जिसे निर्देशित मात्रा में लेने से कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है।

इस दवा से जुड़ी सभी बातों को जानने के लिए आप अपने चिकित्सक का सहायता जरूर लें। कुबेराक्ष वटी की अति या दुरुपयोग करने से हमेशा बचें।

पढ़िये: मन्मथ रस टैबलेट | Balarishta Syrup in Hindi

खुराक

कुबेराक्ष वटी की खुराक – Kuberaksha Vati Dosage in Hindi

कुबेराक्ष वटी की खुराक रोगी की अवस्था अनुसार दी जाती है।

आमतौर पर, कुबेराक्ष वटी की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Kuberaksha Vati
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह या शाम
  • खाने से पहले या बाद: खाने के बाद
  • लेने का माध्यम: पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

छोटी उम्र की लड़कियों के लिए, कुबेराक्ष वटी की खुराक बाल रोग विशेषज्ञ की सहायता द्वारा सुनिश्चित करें।

कुबेराक्ष वटी की गोलियों को तोड़ने, चबाने या कुचलनें की बजाय पाने के साथ निगल लेना ज्यादा उचित माना जाता है।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित कुबेराक्ष वटी का सेवन जल्द करें। अगली खुराक कुबेराक्ष वटी की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में कुबेराक्ष वटी के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ कुबेराक्ष वटी की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ कुबेराक्ष वटी की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, कुबेराक्ष वटी की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और कुबेराक्ष वटी की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था एक संवेदनशील अवस्था है, इसलिए कुबेराक्ष वटी का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

स्तनपान

स्तनपान कराने वाली महिलाएं कुबेराक्ष वटी को डॉक्टर की सलाह से इस्तेमाल करें।

ड्राइविंग

कुबेराक्ष वटी के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

एलर्जी और अतिसंवेदनशीलता के मामलो में कुबेराक्ष वटी का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें।

पढ़िये: स्वर्ण भस्म के फायदे | Baidyanath Triphala Juice in Hindi 

कीमत

कुबेराक्ष वटी को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

सवाल-जवाब

क्या कुबेराक्ष वटी भूख बढ़ाने में सहायक है?

कुबेराक्ष वटी पाचन शक्ति में सुधार करने हेतु जरूर लाभदायक होती है। लेकिन विशेषकर भूख बढ़ाने के लिए इस उत्पाद पर निर्भर रहना उचित नहीं है।

क्या कुबेराक्ष वटी वजन घटाने में सहायक है?

कुबेराक्ष वटी अनावश्यक वजन बढ़ने की समस्या को नियंत्रित कर वजन को कम करने में सहायक हो सकती है।

कुबेराक्ष वटी की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल होना उचित है?

इस दवा की दो लगातार खुराकों के बीच कम से कम 8-10 घंटों का समय अंतराल होना सुरक्षित है।

क्या कुबेराक्ष वटी भारत में लीगल है?

हाँ, यह आयुर्वेदिक दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: बैद्यनाथ वीटा एक्स गोल्ड प्लस कैप्सूल | Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.