Arjun Kwath

अर्जुन क्वाथ के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Arjun Kwath

अर्जुन क्वाथ क्या है?

अर्जुन क्वाथ (काढ़ा) हमारे हृदय से जुड़ी बीमारियों का एक आयुर्वेदिक उपचार है। इसमें अर्जुन की छाल का प्रयोग किया जाता है, जिसे सदियों से कार्डियोप्रोटेक्टिव औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

अर्जुन क्वाथ को खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची आवश्यक नहीं है। किसी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन वेबसाइट के द्वारा आप अपनी पसंदीदा ब्रांड का अर्जुन क्वाथ खरीद सकते है।

अर्जुन क्वाथ को लगातार इस्तेमाल करने से इस दवा की आदत नहीं लगती है। इसके अलावा, यह दवा मानसिक स्वास्थ्य को बिना प्रभावित किये शारीरिक स्वास्थ्य का अच्छे से ख्याल रख सकती है।

नामArjun Kwath
निर्माता (Manufacturer)Patanjali Ayurved Limited
संरचना (Composition)अर्जुन की छाल
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक
कीमत (Price)20 रूपये (१०० ग्राम)

पढ़िये: उदरामृत वटी | Mahamanjisthadi in Hindi

अर्जुन क्वाथ कैसे कार्य करता है?

  • अर्जुन की छाल हृदय के वाल्व से मुक्त होने वाली प्रति मिनट रक्त की मात्रा, जिसे कार्डियक आउटपुट कहते है, उसमें सुधार करने का कार्य करती है। इससे दिल की धड़कन सामान्य होने लगती है।
  • अर्जुन की छाल हृदय के लिए बेहद उपयोगी है, जो हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकती है। अर्जुन अनावश्यक फैट का नाश करने वाली जड़ी-बूटी है क्योंकि ज्यादा वसा हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित होता है। ज्यादा वसा से शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ती है, जिससे मोटापा बढ़ता है और परिणामस्वरूप हम अनेक बीमारियों से घिर जाते है।
  • अर्जुन कोलेस्ट्रॉल और लिपिड के स्तर को सुनिश्चित कर हृदय की दैनिक गतिविधियों को सुचारू बनायें रखने में मददगार हो सकता है।
  • अर्जुन की छाल तासीर में ठंडी होती है और यह पेट के लिए भी काफी अच्छी मानी जाती है। यह खून को पतला कर धमनियों में ब्लड ब्लॉकेज को रोक सकती है, जिस कारण यह औषधि हार्ट अटैक या स्ट्रोक के खतरे को कम सकती है।
  • अर्जुन की छाल के प्रयोग से हर प्रकार की खांसी से आराम मिल सकता है। यह जड़ी-बूटी धमनियों के संकीर्ण मार्ग को फैलाकर शरीर के हर अंग तक रक्त पहुँचाने का कार्य करती है।
  • मूत्र संबंधी परेशानियों में अर्जुन की छाल का सेवन करना बेहद लाभकारी हो सकता है। रुक-रुक के पेशाब आना, पेशाब में दर्द व जलन और संक्रमण जैसी शिकायतों में अर्जुन की छाल लाभप्रद जड़ी-बूटी है।

अर्जुन क्वाथ के उपयोग व फायदे – Benefits & Uses in Hindi

निम्न अवस्था या विकार में अर्जुन क्वाथ को विशेषज्ञ द्वारा रोगी को सलाह किया जाता है। अर्जुन क्वाथ का उपयोग विशेषज्ञ से व्यक्तिगत सलाह बिना लिए ना करें।

  • हृदय से जुड़े आम विकार
  • उच्च रक्तचाप
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • धमनियों की रूकावट
  • रक्त में उच्च ट्राइग्लिसराइड
  • मोटापा
  • छाती में दर्द
  • हृदय की सूजन
  • पेचिश
  • गाढ़ा रक्त
  • कफ और खांसी
  • मूत्र संस्थान की समस्याएं

पढ़िये: दिव्य शुद्धि चूर्ण | B tex Ointment in Hindi

अर्जुन क्वाथ के दुष्प्रभाव – Side Effects in Hindi

अर्जुन क्वाथ एक शत-प्रतिशत सुरक्षित उत्पाद है, जिसे लिमिट में इस्तेमाल पर इससे कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। लेकिन इस दवा की अति या दुरुपयोग करने पर दुर्लभ मामलों में पेट में जलन महसूस हो सकती है।

अर्जुन क्वाथ की खुराक – Dosage in Hindi

हर मरीज की मेडिकल स्थिति अलग होती है। हृदय से जुड़े ज्यादा गंभीर मामले होने पर, अर्जुन क्वाथ का सेवन अपने डॉक्टर की सलाह पर करें।

एक सामान्य व्यक्ति अर्जुन क्वाथ की दिन में दो बार खुराक लें सकता है। इसकी 5 ग्राम या 1 चम्मच मात्रा उबले हुए पानी में डालकर पियें।

अर्जुन क्वाथ को सुबह-शाम भोजन के बाद लेने से आप अनेक बीमारी से खुद का बचाव कर सकते है।

औसतन हर आयुर्वेदिक दवा को कार्य करने में थोड़ा समय लगता है और अर्जुन क्वाथ भी एक आयुर्वेदिक उत्पाद है। इसलिए इस दवा की उपचार अवधि लंबी चल सकती है।

पढ़िये: कामदुधा रस | Pregabalin in Hindi

सावधानियां – Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में अर्जुन क्वाथ के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में अर्जुन क्वाथ से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही अर्जुन क्वाथ की खुराक लें।

पढ़िये: त्रयोदशांग गुग्गुलु | Patanjali Divya Kesh Taila in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.