Isabgol Powder की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन प्लांटागो ओवाटा
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Isabgol Powder

इसबगोल पाउडर के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Isabgol Powder in Hindi

परिचय

इसबगोल पाउडर क्या है? – What is Isabgol Powder in Hindi

इसबगोल पाउडर कब्ज और पेट से जुड़ी अन्य समस्याओं के लिए सबसे उपयोगी घरेलू साधन है।

इसबगोल पाउडर में औषधीय गुण भरपूर मात्रा में होते है, जो सेहत को अच्छा करने के लिए पोषक तत्वों को पूरा करने में मददगार हो सकता है।

इसबगोल पाउडर पाचन तंत्र के लिए बेहद लाभदायक है, लेकिन यह किसी जटिल या गंभीर बीमारी का इलाज नहीं है।

इसबगोल का पौधा दिखने में बिल्कुल गेंहू जैसा होता है, जिसमें छोटी-छोटी पत्तियां और फूल लगे होते है। यह प्लांटागो ओवाटा नामक पौधे का बीज होता है।

इसबगोल के पौधे पर डालियां होती है, जिन पर बीज लगे होते है। इन बीजों के ऊपर सफेद रंग का पदार्थ चिपका रहता है, जिसे इसबगोल की भूसी कहते है। इसे अंग्रेजी में Psyllium Husk कहा जाता है

Psyllium-Husk
Psyllium Husk

इसबगोल के पाउडर को आयुर्वेद चिकित्सा के अलावा एलोपैथी चिकित्सा और ईरानी चिकित्सा में भी स्थान दिया गया है।

इसबगोल पाउडर का उपयोग कब्ज, दस्त, मोटापा, पेचिस, अतिसार, फाइबर की कमी, डायबिटीज, हृदय की समस्याएं, निर्जलीकरण आदि सभी स्थितियों के उपचार हेतु किया जा सकता है।

यह वसा और कोलेस्ट्रॉल से पूर्णतया मुक्त है, इसलिए इसे हर उम्र के लोगों के लिए सुरक्षित माना जाता है।

इसबगोल पाउडर को पानी के साथ घोल कर मौखिक रूप से इस्तेमाल किया जाता है, जो स्वादहीन और गंधहीन होता है।

पढ़िये: अजमोदादि चूर्ण | Himalaya Mentat Tablet in Hindi 

इसबगोल पाउडर कैसे काम करता है?

  • इसबगोल पाउडर में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जो पेट को लंबे समय तक भरा रख सकता है। पेट भरे रहने से स्वतः ही भूख की कमी होने लगती है, जिससे वजन को घटाने में मदद मिल सकती है। इसे वजन को नियंत्रित करने के लिए कारगर माना जा सकता है।
  • इसबगोल पाउडर कोलेस्ट्रॉल को हानिकारक स्तर तक पहुँचने से रोकने का कार्य करता है। यह कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर हृदय की गतिविधियों को सामान्य बनाएं रखने में मददगार हो सकता है।
  • इसबगोल पाउडर ब्लड शुगर को सामान्य कर डायबिटीज के जोखिम को कम कर सकता है।
  • इसबगोल पाउडर पेट में जमा होने वाले मल की त्याग प्रक्रिया को आसान बनाने का कार्य करता है, जिससे कब्ज, अपच, गैस, एसिडिटी और बवासीर जैसे लक्षणों से राहत मिल सकती है। यह पाउडर गैस्ट्रिक रसायन के स्राव को कम कर गैस्ट्रिक समस्याएं और पेप्टिक अल्सर में फायदेमंद हो सकता है।
  • इसबगोल पाउडर आंतों में पानी की मात्रा को बढ़ाकर आंतों में कृमि संक्रमण होने से बचा सकता है। इसमें उपस्थित फाइबर डायरिया और पेट सफाई के लिए प्रभावी हो सकता है।

फायदे

इसबगोल पाउडर के उपयोग व फायदे – Isabgol Powder Uses & Benefits in Hindi

इसबगोल पाउडर को निम्न अवस्था या विकार में सलाह किया जाता है-

  • कब्ज
  • मोटापा
  • बवासीर
  • पेचिस
  • दस्त
  • अतिसार
  • मधुमेह
  • पेट दर्द
  • एसिडिटी
  • गैस
  • खट्टी डकार
  • कृमि संक्रमण
  • हृदय से जुड़ी समस्याएं

पढ़िये: शंख भस्म | Trikatu Churna in Hindi 

दुष्प्रभाव

इसबगोल पाउडर के दुष्प्रभाव – Isabgol Powder Side Effects in Hindi

इसकी अति या दुरुपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • पेट में मरोड़ या सूजन
  • गले में जलन
  • भूख में कमी
  • पेट भारी होना

खुराक

इसबगोल पाउडर की खुराक – Isabgol Powder Dosage in Hindi

आमतौर पर, इसबगोल पाउडर की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Isabgol Powder
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 2 चम्मच
  • कब लें: रात में सोने से पहले
  • खाने से पहले या बाद: खाने के बाद
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

इसबगोल पाउडर की खुराक को दही के साथ भी लिया जा सकता है। इसे दही के साथ लेने के कुछ देर बाद पानी पीना चाहिए।

इसे 3 वर्ष से छोटे बच्चों में अनुशंसित नहीं किया जाना चाहिए। बच्चों में इसकी सुरक्षित खुराक के लिए बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह लें।

पढ़िये: डाबर हनीटस सिरप | Neeri Tablet in Hindi

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में इसबगोल पाउडर के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

इसबगोल पाउडर की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ इसबगोल पाउडर की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, इसबगोल पाउडर की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और इसबगोल पाउडर की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भवती महिलाओं को अपने डॉक्टर के अनुसार ही इसे उपयोग में लेने का विचार करना चाहिए।

स्तनपान

स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर, इसबगोल पाउडर के प्रभाव की जानकारी अज्ञात है।

ड्राइविंग

इसबगोल पाउडर के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

एलर्जी, अतिसंवेदनशीलता या मलाशय से रक्तस्राव के मामलों में इसबगोल पाउडर का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें

कीमत

इसबगोल पाउडर को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

पढ़िये: इंश्योर पाउडर | Himalaya Amalaki Tablet in Hindi 

सवाल-जवाब

क्या इसबगोल पाउडर मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकता है?

इस पाउडर मासिक धर्म चक्र से तटस्थ होकर कार्य करता है, जिससे मासिक धर्म चक्र पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। यह मासिक धर्म चक्र के लिए सुरक्षित है।

क्या इसबगोल पाउडर कामेच्छा को बढ़ा सकता है?

इसबगोल पाउडर पेट को रोगों से मुक्त कर कामेच्छा को जागृत कर सकता है, लेकिन विशेषकर कामेच्छा में सुधार के लिए इस पाउडर का उपयोग चिकित्सक की मंजूरी के बाद ही करें।

क्या इसबगोल पाउडर भारत में लीगल है?

हाँ, यह भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: बैद्यनाथ शंखपुष्पी सिरप Dabur Chyawanprash in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.