निर्माता

Himalaya Drug Company

कीमत

Rs 180 (60 Tablet)

Himalaya Yashtimadhu की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन यष्टिमधु
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
Himalaya-Yashtimadhu

Himalaya Yashtimadhu Use in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी

परिचय

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Yashtimadhu in Hindi

हिमालया यष्टिमधु एक हर्बल उत्पाद है, जो शत-प्रतिशत शाकाहारी है।

इसमें मुख्य सक्रिय के घटक के रूप में यष्टिमधु होता है, जिसे मुलेठी भी कहा जाता है।

मुलेठी स्वाद में मीठी होती है और तासीर में ठंडी होती है, जिसका इस्तेमाल खासकर पेट की समस्याओं में किया जाता है।

यह एक OTC उत्पाद है, जिसे खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची आवश्यक नहीं होती है।

इस उत्पाद की 2 साल की एक्सपायरी डेट होती है और इसे हमेशा ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करें, इसे फ्रिज में न रखें।

पढ़िये: पतंजलि दिव्य धारा | Japani F Capsule in Hindi

संयोजन

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट की संरचना – Himalaya Yashtimadhu Composition in Hindi

इसकी एक टैबलेट में शामिल मुख्य सक्रिय घटक की मात्रा कुछ इस प्रकार है-

यष्टिमधु (250 mg)

इसके अलावा, इसमें अलग से कोई परिरक्षक, शुगर, आर्टिफिशियल कलर, फ्लेवर या जिलेटिन शामिल नहीं होता है।

फायदे

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट के फायदे व उपयोग – Himalaya Yashtimadhu Uses & Benefits in Hindi

हिमालया यष्टिमधु के सेवन से निम्नलिखित फायदे हो सकते है, जैसे-

  • यष्टिमधु एसिड रिफ्लक्स को ठीक कर हार्टबर्न (छाती में जलन) और दर्द से छुटकारा दिलाता है।
  • यह औषधि पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड के स्तर को कम कर पेट की जलन, एसिडिटी और अल्सर के मामलों का इलाज करती है।
  • इसमें एंटासिड के गुण पाते है, जिस कारण यह पुरानी गैस्ट्रिटिस की समस्या के खिलाफ प्रभावी रूप से कार्य कर पाचन को बेहतर बनाता है।
  • इस दवा में एंटीइंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती है, जो जोड़ो के दर्द व सूजन में फायदेमंद साबित होती है।
  • हिमालया यष्टिमधु खाँसी, गले की खराश, गले में जलन और अन्य श्वसन संबंधी समस्याओं का इलाज करता है।
  • यष्टिमधु खराब कोलेस्ट्रॉल को कम कर अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा देता है और हृदय स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखता है।
  • यह उत्पाद रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार कर कई संक्रमनो से बचाव करता है।
  • यह चिंता, तनाव और अवसाद से निजात दिलाने में मददगार है।

पढ़िये: बैद्यनाथ केसरी कल्प च्यवनप्राश | Dr Ortho Oil in Hindi

दुष्प्रभाव

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Yashtimadhu Side Effects in Hindi

हिमालया यष्टिमधु का सेवन डॉक्टर की सलाह से करने पर दुष्प्रभावों की संभावना बहुत कम हो जाती है।

लेकिन इसकी अति या दुरुपयोग करने से कुछ दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते है, जैसे-

  • उच्च रक्तचाप
  • सूजन
  • उच्च सोडियम स्तर
  • सुस्ती
  • कमजोरी

इनके अलावा, अगर कोई गंभीर दुष्प्रभाव ज्ञात होता है तो इस दवा की खुराक बंद कर किसी डॉक्टर से परामर्श लें।

खुराक

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट की खुराक – Himalaya Yashtimadhu Dosage in Hindi

आमतौर पर, हिमालया यष्टिमधु टैबलेट की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक

Himalaya Yashtimadhu
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 से 2 टैबलेट
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने के पहले या बाद: खाने से पहले
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

पढ़िये: डाबर स्टिमुलेक्स ऑयल | Indulekha Hair Oil in Hindi 

सावधानी

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ हिमालया यष्टिमधु की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

गर्भनिरोधक दवाओं के साथ यष्टिमधु का सेवन न करें।

लत लगना

नहीं, हिमालया यष्टिमधु की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और हिमालया यष्टिमधु की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था एक संवेदनशील अवस्था है, इसलिए हिमालया यष्टिमधु का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें

स्तनपान

स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर, हिमालया यष्टिमधु के प्रभाव की जानकारी अज्ञात है।

ड्राइविंग

हिमालया यष्टिमधु के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

रक्त में पोटेशियम का कम स्तर, अनियंत्रित रक्तचाप और गुर्दे या हृदय से जुड़ी समस्याओं में हिमालया यष्टिमधु का सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करें।

कीमत

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

पढ़िये: विजी-3 टैबलेट | M2 Tone Syrup in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.