उत्पाद प्रकार

Ayurvedic

संयोजन

अश्वगंधा + गिलोय + वच

डॉक्टर की पर्ची

जरुरी नहीं

कीमत

Rs 225 (120 Tablet )

निर्माता

Patanjali Ayurved Ltd

patanjali-divya-mukta-vati-in-hindi

दिव्य मुक्ता वटी के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Divya Mukta Vati in Hindi


परिचय

दिव्य मुक्ता वटी क्या है? – What is Divya Mukta Vati in Hindi

दिव्य मुक्ता वटी एक आयुर्वेदिक दवाई है, जो पतंजलि कंपनी के द्वारा बनाई जाती है।

दिव्य मुक्ता वटी उच्च रक्तचाप, Cholesterol को नियंत्रित रखने के साथ-साथ मानसिक समस्याओं में भी मदद करता है।

दिव्य मुक्ता वटी में Antihypertensive, Sedative और Antidepressant आदि गुण है।

पढ़िये: गिलोय घनवटी | Neeri KFT Syrup in Hindi

संयोजन

दिव्य मुक्ता वटी की संरचना – Divya Mukta Vati Composition in Hindi

अश्वगंधा + गिलोय + वच + ब्राह्मी + ज्योतिष्मती + शंखपुष्पी + पुष्कमूल

दिव्य मुक्ता वटी काम कैसे करती है?

दिव्य मुक्ता वटी आयुर्वेद की जाने-माने जड़ी-बूटिया जैसे ब्राह्मी, शंखपुष्पी, उग्रगंधा, गाजवां, ज्योतिष्मती इत्यादि से निर्मित है। ये सभी अपने आयुर्वेदिक गुण और उपचार के लिए जाने जाते है। 

  • ब्राह्मी: मानसिक समस्याओं से लड़ने में मदद करता है।
  • ज्योतिष्मती- हृदय रोगों के उपचार में काफी असरदार है।
  • शंखपुष्पी: तंत्रिका तंत्र की समस्याये, अनिद्रा, मिर्गी, अवसाद, रक्त-शनशोधन इत्यादि कार्यो में मदद करती है।
  • पुष्कमूल: रक्तचाप, Cholesterol को नियंत्रण में रखने में मदद करता है।
  • उग्रगन्धा: उग्रगन्धा ध्यान, स्मरण शक्ति, दिमाग के बेहतर कार्य करने में मदद करता है। ये एक तरह का ब्रैंटोनिक है। 

इस तरह के कई और आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से दिव्य मुक्ता वटी बनाई जाती है। इन प्रभावी घटको के कारण दिव्य मुक्ता वटी मे निम्न गुण होते है।

  • Antidepressant
  • Anti-hypertensive
  • Anti-stress
  • Anti-anxiety
  • Anticonvulsant
  • Sedative
  • Mind Relaxant

पढ़िये: रसायन वटी Patanjali Divya Medha Vati in Hindi 

फायदे

दिव्य मुक्ता वटी के उपयोग व फायदे – Divya Mukta Vati Uses & Benefits in Hindi

दिव्य मुक्ता वटी के नियमित जरूरत अनुसार सेवन के निम्नलिखित फायदे है।

  • दिव्य मुक्ता वटी रक्तचाप व Cholesterol को नियंत्रित रखता है।
  • दिव्य मुक्ता वटी मानसिक विकारो के इलाज में काफी कारगर है।
  • दिव्य मुक्ता वटी अवसाद, तनाव, चिड़चिड़ापन, अकारण गुस्सा जैसी गंभीर समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।
  • किडनी व Cholesterol विकार के कारण हृदय रोग मे मदद करता है।
  • यह अनिद्रा के मरीजो के लिए काफी असरदार है।

दुष्प्रभाव

दिव्य मुक्ता वटी के दुष्प्रभाव – Divya Mukta Vati Side Effects in Hindi

पतंजलि दिव्य मुक्ता वटी एक आयुर्वेदिक उत्पाद है, जिसके इतने दुष्प्रभाव नहीं है। लेकिन शरीर की अलग प्रतिक्रिया या गलत तरीके से खुराक लेने पर हल्के दुष्प्रभाव हो सकते है। जैसे,

  • मुह मे सूखापन
  • नाक बंद
  • नाक बंद के कारण रात को सांस मे तकलीफ
  • हल्का सरदर्द
  • सुबह की सुस्ती

अत्यंत दुष्प्रभाव की स्थिति मे खुराक तुरंत बंद करे व विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद ही फिर शुरू करे।

पढ़िये: दिव्य मेदोहर वटी | Brestina Capsule in Hindi

खुराक

दिव्य मुक्ता वटी की खुराक – Divya Mukta Vati Dosage in Hindi

दिव्य मुक्ता वटी की खुराक व्यक्ति की उम्र, अवस्था व जरूरत पर निर्भर करती है।

आमतौर पर, दिव्य मुक्ता वटी की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Divya Mukta Vati
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने से पहले या बाद: खाने के बाद
  • लेने का माध्यम: गुनगुने पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

सावधानी

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ दिव्य मुक्ता वटी की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ दिव्य मुक्ता वटी की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, दिव्य मुक्ता वटी की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और दिव्य मुक्ता वटी की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था एक संवेदनशील अवस्था है, इसलिए दिव्य मुक्ता वटी का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

स्तनपान

स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर, दिव्य मुक्ता वटी के प्रभाव की जानकारी अज्ञात है।

ड्राइविंग

दिव्य मुक्ता वटी के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

एलर्जी या अतिसंवेदनशीलता के मामलों में दिव्य मुक्ता वटी का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें।

पढ़िये: श्रीगोपाल तेल | Kamsudha Yog in Hindi 

कीमत

दिव्य मुक्ता वटी को आप अमेजन से कुछ प्रतिशत छूट पर ऑनलाइन खरीद सकते है-

सवाल-जवाब

क्या दिव्य मुक्ता वटी को होमियोपैथी दवाई के साथ लिया जा सकता है?

हाँ, दिव्य मुक्ता वटी को होमियोपैथी दवाई के साथ लिया जा सकता है।

क्या दिव्य मुक्ता वटी को मल्टीविटामिन सप्लीमेंट के साथ लिया जा सकता है?

हाँ, दिव्य मुक्ता वटी को सप्लीमेंट्स के साथ लिया जा सकता है। लेकिन, अगर आप बहुत उच्चकोटि सप्लीमेंट (जो पाचन में काफी भारी हो) के साथ दिव्य मुक्ता वटी का उपयोग कर रहे है , तो आपको डॉक्टर से अवश्य सलाह लेनी चहिए।

क्या दिव्य मुक्ता वटी की आदत पड़ जाती है?

नही, दिव्य मुक्ता वटी की आदत नही पड़ती है।

क्या दिव्य मुक्ता वटी को एक-दम से छोड़ा जा सकता है या धीरे-धीरे छोडना सही रहेगा?

हाँ, जरूरत आने पर इसे छोड़ सकते है।

दिव्य मुक्ता वटी के साथ किस प्रकार का डाइट पालन करना चहिये?

घर के बना हल्का भोजन ही करे और पानी भरपूर पिये।

क्या दिव्य मुक्ता वटी का सेवन करते समय नमक के प्रयोग में सावधानी रखनी चहिए?

हाँ, खाने में नमक कम ले और हो सके तो काला-नमक का प्रयोग करे।

क्या दिव्य मुक्ता वटी मानसिक समस्याओं में कारगर है?

हाँ, ये मानसिक शांति, तनाव, ध्यान अवधि बढ़ाने में काफी मददगार है।

क्या दिव्य मुक्ता वटी का उपयोग एलोपेथिक दवाइयों के साथ किया जा सकता है?

कुछ एलोपैथिक दवाइयां दिव्य मुक्ता वटी के साथ रिएक्शन कर सकते है। अतः, डॉक्टर से सलाह लेकर ही सेवन शुरू करे।

क्या दिव्य मुक्ता वटी 18 साल से कम उम्र के बच्चों को दिया जा सकता है?

18 साल से कम उम्र के बच्चो को आमतौर पर रक्तचाप, Cholesterol की तकलीफे होती नही है। अतः इस परिस्थिति में डॉक्टर का सुझाव अवश्य ले।

पढ़िये: बस्ट फुल क्रीम | Kala Ghoda Cream in Hindi

6 thoughts on “दिव्य मुक्ता वटी के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी | Divya Mukta Vati in Hindi”

  1. Naak band ek side ka hota h bina cold ke …. Kyayeh mukta veti ke side effect hai

  2. Kya bukhar hone pr khane se pehle divya Mukta vti le skate hai or khane ke baad crocin 650 le skte hai plz

  3. I am taking this medicines for the last six months my blood pressure is controlled but my nose is blocked specially in the night please advice what should i do

  4. रात में नाक बंद हो जाती है बिना सर्दी जुकाम के थोड़ी कमजोरी भी लगती है

Comments are closed.