Patanjali Kanti Lep

पतंजलि कांति लेप के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि, सावधानी, कीमत | Patanjali Kanti Lep in Hindi

Patanjali Kanti Lep क्या है? – What is Patanjali Kanti Lep in Hindi

पतंजलि का यह उत्पाद आयुर्वेदिक घटकों के संगम से बना है, जो विशेषकर त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं से राहत प्रदान करने में सहायक है।

यह त्वचा कोशिकाओं को पोषण देने, खनिज पदार्थों की आपूर्ति करने, डेड स्किन को निकालने, दाग-धब्बों को दूर करने, खून को साफ करने, जीवाणु संक्रमण को मिटाने, मुंह के छाले ठीक करने, झुर्रियों को बनने से रोकने वाला एक चमत्कारी पाउडर है।

यह संयोजन त्वचा में नमी को बढ़ाकर सूखी त्वचा से राहत देता है।

यह त्वचा की सुस्ती व लाइन को मिटाकर शरीर की खूबसूरती और सौंदर्य को बढ़ाने में मददगार साबित होता है, इसके अलावा, यह लेप डार्क सर्कल को साफ करने में भी असरदार सिद्ध होता है।

यह पाउडर हमारी त्वचा में कांति लाने का कार्य करती है क्योंकि इसमें डिटॉक्सिफाइंग और मोइस्चराइजिंग गुण शामिल होते है।

इस उत्पाद को patanjali ayurved जैसी विश्वनीय ब्रांड द्वारा निर्मित किया जाता है, जो लगभग हर आयुर्वेदिक स्टोर पर बिना डॉक्टरी पर्चे के आसानी से उपलब्ध हो जाता है।

नामPatanjali Kanti Lep
निर्माता (Manufacturer)patanjali ayurved
संरचना (Composition)मंजिष्ठा + श्वेत चंदन + जायफल + मेहंदी बीज + हल्दी + इलायची + कत्था + कपूर + सुंगधबला + मोती पिष्टी + स्फटिक भस्म
कीमत (Price)140 रूपये (50gm)

पढ़िये: बेटनोवेट एन क्रीम की जानकारी | Himalaya Ayurslim in Hindi

पतंजलि कांति लेप की संरचना – Patanjali Kanti Lep Composition in Hindi

निम्न घटक Patanjali Kanti Lep में बताई मात्रा में होते है।

मंजिष्ठा + श्वेत चंदन + जायफल + मेहंदी बीज + हल्दी + इलायची + कत्था + कपूर + सुंगधबला + मोती पिष्टी + स्फटिक भस्म

पतंजलि कांति लेप के उपयोग व फायदे – Patanjali Kanti Lep Uses & Benefits in Hindi

इस लेप से प्राप्त होने वाले फायदें निम्नलिखित है-

सौंदर्य को बढ़ाने में मददगार

चेहरे पर इस लेप का आवरण नियमित करने से यह त्वचा के उन विकारों को समेट लेता है, जो हमारी सौन्दर्यता को बिगाड़ने के लिए जिम्मेदार होते है। यह लेप त्वचा को आम लक्षणों से मुक्त कर त्वचा को साफ और सुंदर बना सकता है, जिससे मुख पर प्राकृतिक सौंदर्य झलकने लगता है।

झुर्रियों की समस्या का निवारण

दैनिक जीवन में गलत तौर-तरीकों को अपनाने से कम उम्र में ही हमारी त्वचा ढीली और लटकने लगती है। इस पर झुर्रियां दिखने लगती है, जिससे वाकई हमारी उम्र ज्यादा दिखने लगती है। ऐसे में, इस लेप का उपचार लेने से कुछ ही समय में त्वचा जवां और झुर्रियों मुक्त होने लगती है।

त्वचा के दाग-धब्बों को मिटाने में सहायक

यह लेप त्वचा पर मौजूद कई दाग-धब्बे, डार्क सर्कल, खिंचाव, निशान आदि से छुटकारा दिलाकर चेहरे की सुस्ती मिटा सकता है। इससे हमारी स्किन में ग्लो और हल्का फेयरनेस आने लगता है।

त्वचा को पोषण प्रदान करने में असरदार

इस कांति लेप में शामिल घटकों में त्वचा को देने के लिए विटामिन और खनिज की भरपूर मात्रा होती है, यह त्वचा में रक्त प्रवाह को सुधार कर स्किन को पोषण देने का कार्य करता है। यह लेप हमारी स्किन टोन को सुधारने में भी काफी मददगार साबित हो सकता है।

एक्जिमा के उपचार में प्रभावी

त्वचा पर जलन, खुजली, लालिमा और सूजन जैसे लक्षणों में सकारात्मक प्रभाव देकर यह लेप एक्जिमा के खतरे को टाल सकता है। यदि आपकी स्किन ज्यादा ड्राई है तो इसे ताजे दूध के साथ मिलाकर चेहरे पर लेपित किया जा सकता है।

पढ़िये: मेडिसैलिक ऑइंटमेंट की जानकारी | Bleminor Cream in Hindi

पतंजलि कांति लेप के दुष्प्रभाव – Patanjali Kanti Lep Side Effects in Hindi

इस उत्पाद के कुछ सामान्य दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते है, जो कि हर किसी को नहीं होते है।

  • चक्कर
  • बेचैनी
  • मतली
  • मांसपेशियों में कमजोरी

पतंजलि कांति लेप की खुराक – Patanjali Kanti Lep Dosage in Hindi

इसकी एक छोटी चम्मच मात्रा लेकर उसमें दूध या गुलाब जल को मिलाएं। मात्रा के अनुसार ही पाउडर का इस्तेमाल करें ताकि पेस्ट थोड़ा गाढ़ा बन सकें।

इस पेस्ट को साफ उंगलियों के द्वारा त्वचा पर लागू करें। इसे ज्यादा न रगड़ें अपितु लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। यदि चेहरे पर लगाया जाता है, तो 15 मिनट तक इस लेप को चेहरे पर लगे रहने दें।

इसके बाद प्रभावित क्षेत्र को पानी से धो लें। इसके लिए आप किसी हर्बल फेस वॉश का उपयोग कर सकते है।

छोटे बच्चों की स्किन कोमल होने के कारण इसे बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह से देना ज्यादा उचित रहता है।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Patanjali Kanti Lep का उपयोग जल्द करें। अगली खुराक Patanjali Kanti Lep की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

ओवरडोज़ से Patanjali Kanti Lep से दुष्प्रभाव ज्यादा हो सकते है। भारी साइड इफेक्ट Patanjali Kanti Lep से हो, तो विशेषज्ञ से मदद लें।

पढ़िये: क्लिनसोल जेल की जानकारी | Myfair Cream in Hindi

सावधानियां – Patanjali Kanti Lep Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Patanjali Kanti Lep के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Patanjali Kanti Lep से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही Patanjali Kanti Lep की खुराक लें।

अन्य दवाई के साथ प्रतिक्रिया

निम्न दवाओं व घटको का उपयोग Patanjali Kanti Lep के साथ ना करें । क्योंकि ये और Patanjali Kanti Lep साथ में प्रतिक्रिया जल्दी करते है।

  • Antidiabetes Drugs
  • Sevoflurane
  • Warfarin

Patanjali Kanti Lep FAQ in Hindi

1) क्या Patanjali Kanti Lep को घाव पर इस्तेमाल कर सकते है?

उत्तर: यह केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए है। हल्के घावों पर इसका प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन जटिल चोंट या गंभीर घावों पर इस लेप के इस्तेमाल से पूरी तरह बचा जाना चाहिए। इस विषय में किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह लेना बेहतर है।

2) Patanjali Kanti Lep के साथ किसी तरह का भोजन सही रहता है?

उत्तर: इसका प्रयोग शुरू करने पर कुछ समय तक आप हल्के भोजन का सेवन कर सकते है। भारी भोजन, तेल और खटाई को नजरअंदाज करें।

3) क्या Patanjali Kanti Lep को मुहांसो के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है?

उत्तर: हाँ, इस लेप को पिम्पल्स की समस्याओं के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके साथ डेली डाइट और एक्सरसाइज पर भी पूरा ध्यान दें।

4) क्या Patanjali Kanti Lep गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: इसे गर्भावस्था में इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक की मंजूरी अवश्य लें क्योंकि इस उत्पाद से गर्भवती महिलाओं को विषम प्रतिक्रियाएं झेलनी पड़ सकती है।

5) Patanjali Kanti Lep को दिन में कितनी बार इस्तेमाल किया जाना चाहिए?

उत्तर: इस क्रीम की त्वचा पर अर्जी दिन में एक बार दी जानी सुरक्षित होती है, वैसे तो इसे रोजाना इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं होती है, चाहे इसे आप सप्ताह में 3 से 4 बार भी इस्तेमाल कर सकते है।

6) क्या Patanjali Kanti Lep से आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस उत्पाद के प्रयोग से इसकी आदत नहीं लगती है। इसे ज्यादा लंबे समय तक इस्तेमाल करने के लिए आप चिकित्सीय सहायता ले सकते है।

7) क्या Patanjali Kanti Lep मधुमेह के मरीजों में सुरक्षित है?

उत्तर: मधुमेह से जुड़े लोग इस उत्पाद को अपने चिकित्सक की सलाह से इस्तेमाल करें। इस विषय में ज्यादा जानकारी प्राप्त नहीं है, पर त्वचा का स्वस्थ रहना हर किसी के लिए आवश्यक होता है।

8) क्या Patanjali Kanti Lep महिलाओं के मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकता है?

उत्तर: नहीं, यह लेप महिलाओं के मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करता है। अन्य कारणों से मासिक धर्म चक्र में समस्या होने पर इसे उन मुश्किल दिनों में इस्तेमाल करने हेतु अपने मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की मदद लें।

9) क्या Patanjali Kanti Lep भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह आयुर्वेदिक उत्पाद भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: एज़िडर्म क्रीम | Zeegold Strong Capsule in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *