निर्माता

Himalaya Drug Company

कीमत

Rs 150 (60 Tablet)

Himalaya Cystone Tablet की जानकारी
उत्पाद प्रकार Ayurvedic
संयोजन गोखरू + पाशनभेद + छरीला
डॉक्टर की पर्ची जरुरी नहीं
himalaya cystone

Himalaya Cystone Tablet Uses in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी

परिचय

हिमालया सिस्टोन टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Cystone Tablet in Hindi

हिमालया सिस्टोन टैबलेट स्वस्थ मूत्र प्रणाली के लिए एक शुभचिंतक उपाय है।

यह टैबलेट खासकर गुर्दे की पथरी के लिए ज्यादा प्रयोग में ली जाती है।

यदि इस टैबलेट को डॉक्टर की मर्जी से लेना शुरू किया जाता है, तो टैबलेट के साथ ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की सलाह दी जाती है।

सिस्टोन टैबलेट मूत्रवर्धक (Diuretic) के रूप में कार्य कर गुर्दे की पथरी, रुक-रुक मूत्र आने की समस्या, मूत्र संक्रमण और मूत्र उत्सर्जन करते समय जलन आदि अन्य कई परेशानियों को हल करती है।

यह आयुर्वेदिक फार्मूला ऑपरेशन के बाद बार-बार होने वाली पथरी से हमेशा के लिए छुटकारा दिलाने में मददगार है।

यह टैबलेट Urinary Tract Infection यानी UTI के सफल इलाज में भी लाभकारी साबित होती है।

इस टैबलेट द्वारा स्टोन को निकालने की कार्यक्षमता, स्टोन के आकार के साथ-साथ उसकी स्थिति पर भी निर्भर करती है।

यह एक OTC वर्ग की दवा है, जिसे डॉक्टर की पर्ची के बिना भी लिया जा सकता है।

पढ़िये: दशमूलारिष्ट के फायदे | Supari Pak in Hindi 

संयोजन

हिमालया सिस्टोन टैबलेट की संरचना – Himalaya Cystone Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक हिमालया सिस्टोन टैबलेट में होते है।

गोखरू + पाशनभेद + छरीला

हिमालया सिस्टोन टैबलेट कैसे काम करती है?

  • गोखरू में टैनिक एसिड, क्वेरसेटिन और डायोसजेनिन जैसे तत्वों की मौजूदगी होती है। इनके कारण गोखरू यूरिन मार्ग से जुड़े सामान्य संक्रमणों को ठीक करने और उनसे सुरक्षा प्रदान करने का कार्य कुशलता से पूरा करता है।
  • यह गुर्दे में बनने वाली पथरी के कारणों को विराम कर पेशाब के प्रवाह को सामान्य करने में मददगार है।
  • पाशनभेद पथरी के शमन के लिए पथरी को तोड़ने या गलाने में मदद करता है, जिससे पथरी पेशाब से होते हुए बाहर निकल जाती है। यह सूक्ष्म जीवों के विकास को बाधित कर संक्रमणों के प्रभाव और दर्द को कम करने का कार्य करता है।
  • छरीला रुक-रुक के पेशाब आने, पेशाब में रक्त आने, पेशाब नली में सूजन और अन्य कई संकेतों से निजात दिलाता है। यह गुणकारी यौगिक गुर्दे की पथरी को बार-बार बनने से रोकने में सहायता कर सकता है।

पढ़िये: हिमालया पाइलेक्स टैबलेट | Paurush Jiwan Capsule in Hindi 

फायदे

हिमालया सिस्टोन टैबलेट के उपयोग व फायदे – Himalaya Cystone Tablet Uses & Benefits in Hindi

हिमालया सिस्टोन टैबलेट को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है-

  • गुर्दे की पथरी
  • मूत्र संक्रमण
  • मूत्र नली में क्रिस्टल
  • अनियंत्रित दर्द
  • अंदुरनी सूजन
  • आंतों में संक्रमण
  • रुक-रुक कर पेशाब आना
  • मूत्र उत्सर्जन के दौरान जलन
  • गाउट
  • लिपिड का उच्च स्तर
  • विषाक्ता
  • मूत्र मार्ग के विकार
  • असामान्य मूत्र PH

दुष्प्रभाव

हिमालया सिस्टोन टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Cystone Tablet Side Effects in Hindi

इस टैबलेट की एक साथ ज्यादा या गलत खुराक लेने से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • मतली
  • उल्टी
  • दस्त
  • अनिद्रा

पढ़िये: रूप मंत्रा क्रीम | Arjunarishta in Hindi 

खुराक

हिमालया सिस्टोन टैबलेट की खुराक – Himalaya Cystone Tablet Dosage in Hindi

हिमालया सिस्टोन टैबलेट की खुराक रोगी की अवस्था अनुसार दी जाती है।

आमतौर पर, हिमालया सिस्टोन टैबलेट की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Himalaya Cystone Tablet
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह-दोपहर-शाम
  • खाने से पहले या बाद: कभी भी
  • लेने का माध्यम: पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

इस टैबलेट के पैक की एक्सपायरी दिनांक जांचने के बाद ही इस टैबलेट की खुराक शुरू करें।

इन टैबलेट को बिना तोड़े, चबायें या कुचले पानी के साथ निगल लें।

सिस्टोन टैबलेट की खुराक को कम या ज्यादा करने के लिए चिकित्सा दिशा-निर्देशों का पालन करना जरूरी है।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में हिमालया सिस्टोन टैबलेट के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

सिस्टोन टैबलेट की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है। ।

जारी दवाई

अन्य जारी दवाई और घटक के साथ सिस्टोन टैबलेट की प्रतिक्रिया की उपयुक्त जानकारी नहीं है।

लत लगना

नहीं, सिस्टोन टैबलेट की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और सिस्टोन टैबलेट की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था एक संवेदनशील अवस्था है, इसलिए सिस्टोन टैबलेट का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

स्तनपान

स्तनपान कराने वाली महिलाएं सिस्टोन टैबलेट को डॉक्टर की सलाह से इस्तेमाल करें।

ड्राइविंग

सिस्टोन टैबलेट के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

अन्य कोई बड़ी बीमारी होने पर सिस्टोन टैबलेट का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें।

पढ़िये: कुबेराक्ष वटी | Himalaya Lukol Tablet in Hindi 

सवाल-जवाब

क्या हिमालया सिस्टोन टैबलेट एक स्टेरॉयड युक्त टैबलेट है?

यह टैबलेट गुर्दे के कार्य को बेहतर बनाएं रखने का कार्य करती है। यह टैबलेट स्टेरॉयड गुणों से मुक्त है।

क्या हिमालया सिस्टोन टैबलेट बड़े आकार के स्टोन को निकालने में सहायक है?

सिस्टोन टैबलेट आसानी से छोटे स्टोन को गलाकर मूत्र के साथ निष्कासित करने में सक्षम है। पथरी के आकार के माप की जानकारी डॉक्टर से लेने के बाद इस टैबलेट की खुराक शुरू करने पर टैबलेट का सटीक परिणाम मिलता है।

क्या हिमालया सिस्टोन टैबलेट मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

यह टैबलेट मासिक धर्म चक्र से जुड़ी समस्त गतिविधियों को प्रभावित कर सकती है या नहीं, इस बारें में मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

क्या हिमालया सिस्टोन टैबलेट वजन घटाने में सहायक है?

वजन से जुड़े अन्य मुद्दों को इस टैबलेट द्वारा ठीक करने से पहले डॉक्टर का परामर्श जरूरी है।

क्या हिमालया सिस्टोन टैबलेट भारत में लीगल है?

हाँ, यह आयुर्वेदिक टैबलेट भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: ब्राह्मी वटी के फायदे | Lavangadi Vati in Hindi 

Leave a Comment

Your email address will not be published.