सुपारी पाक के फायदे, नुकसान, खुराक, साइड एफ़ेक्ट्स, उपयोग, सावधानी | Supari Pak in Hindi

सुपारी पाक
नाम (Name)सुपारी पाक
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवा
उपयोग (Uses)शारीरिक कमजोरी, सिरदर्द, खराब पाचन प्रणाली, वात दोष, एक्जिमा आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)दस्त, पेट दर्द, गैस्ट्रिक समस्याएं, पेट में ऐंठन आदि
ख़ुराक (Dosage)जरूरत अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता, गर्भावस्था
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात

सुपारी पाक क्या है? – What is Supari Pak in Hindi

सुपारी पाक की शुद्ध खुराक लेने से स्वास्थ्य कई समस्याओं से मुक्त हो सकता है। यह एक आयुर्वेदिक टॉनिक के रूप में कार्य करता है। यह महिलाओं और पुरुषों को समान रूप से लाभान्वित करने की भूमिका निभाता है, जिससे सुपारी पाक के उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ने लगी है।

Advertisements

सुपारी पाक को खासकर मासिक धर्म की असुविधाओं के लिए एक फायदेमंद उपाय माना जाता है।

सुपारी पाक का इस्तेमाल बैक्टिरियल संक्रमण, बेचैनी, शारीरिक कमजोरी, सिरदर्द, बदनदर्द, कमजोर पाचन शक्ति, गर्भाशय संबंधी समस्याएं, खून की कमी, नसों की कमजोरी, एक्जिमा, वात दोष, उल्टी, कमजोर इम्युनिटी आदि सभी शिकायतों को दूर करने हेतु किया जा सकता है।

सुपारी पाक प्रजनन प्रणाली से जुड़े खराब मुद्दों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होती है। यह प्रदर, ल्यूकोरिया, शुक्राणु रोग, शीघ्रपतन, Pelvic Inflammatory Disease (PID), शुक्रमेह, इनफर्टिलिटी जैसे अन्य कई यौन रोगों का एक सफल उपाय है।

सुपारी पाक के उत्पाद अलग-अलग ब्रांड और कंपनी के नाम से प्रचलित है। ध्यान रखें, हर एक कंपनी के उत्पाद की संरचना अलग होती है। निम्न प्रचलित सुपारी पाक के उत्पाद के नाम है।

  • Dabur Supari Pak
  • Baidyanath Supari Pak
  • Hamdard Supari Pak

पढ़ियेहिमकोलिन जेल | Himalaya Pilex Tablet in Hindi

सुपारी पाक कैसे काम करती है?

  • सुपारी पाक में मौजूद गुणों का असर शरीर के सभी अंगों पर हो सकता है, इसलिए सुपारी पाक औषधि के रूप में इतना फायदेमंद साबित होता है।
  • सुपारी पाक में Aphrodisiac गुण शामिल होते है, जिसके कारण यह दवा पुरुषों और महिलाओं में कामेच्छा की कमी को दूर कर एक दूसरे की तरफ आकर्षण बढ़ाने का कार्य करती है।
  • सुपारी पाक एनाल्जेसिक और एंटी-स्पस्मोडिक गुणों युक्त घटक है, जो दर्द के संकेतो और आंतों की मांसपेशियों के खिंचाव को करने का कार्य करता है।
  • सुपारी पाक जीवाणुओं के विकास को अवरुद्ध कर उनकी संख्या को बढ़ने से रोकता है, जिसके फलस्वरूप संक्रमण स्वास्थ्य को अलविदा करते है।
  • सुपारी पाक असामान्य और भारी रक्तस्राव को नियंत्रण कर प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में सहायता कर सकता है, इससे गर्भधारण करने की उम्मीद बढ़ सकती है।
  • सुपारी पाक मासिक धर्म की समयावधि और बहाव को लगातार हर महीने सुनिश्चित करने का कार्य करता है। इस दौरान, यह अतिरिक्त रक्त की हानि होने से भी बचाता है।
  • सुपारी पाक पाचन के लिए आवश्यक जिम्मेदारियों को पूरा कर पाचन शक्ति को मजबूत बनाने का कार्य करता है

सुपारी पाक के उपयोग व फायदे – Supari Pak Uses & Benefits in Hindi

सुपारी पाक को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • शारीरिक कमजोरी
  • सिरदर्द
  • खराब पाचन प्रणाली
  • वात दोष
  • एक्जिमा
  • बांझपन
  • Pelvic Inflammatory Disease (श्रोणि सूजन की बीमारी)
  • गर्भपात की समस्या
  • मासिक धर्म के दर्द और ऐंठन
  • शीघ्रपतन
  • भूख में कमी
  • ल्यूकोरिया
  • बैक्टिरियल संक्रमण
  • बेचैनी
  • शुक्रमेह
  • कमजोर प्रतिरक्षा तंत्र
  • नसों की कमजोरी
  • पीठ और कमर का दर्द
  • खून की कमी

सुपारी पाक के दुष्प्रभाव – Supari Pak Side Effects in Hindi

निम्न साइड एफ़ेक्ट्स सुपारी पाक के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड एफ़ेक्ट्स सुपारी पाक से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड एफ़ेक्ट्स नहीं होते है। ।

  • दस्त
  • पेट दर्द
  • गैस्ट्रिक समस्याएं
  • पेट में ऐंठन
  • चक्कर

पढ़िये:  लबूब कबीर | Himalaya Lukol in Hindi 

सुपारी पाक की खुराक – Supari Pak Dosage in Hindi

  • सुपारी पाक का सेवन डॉक्टर या विशेषज्ञ से निजी सलाह लेने के बाद ही शुरू करें।
  • सुपारी पाक की एक वयस्क के लिए दैनिक खुराक दिन में 10 ग्राम चयनित की जाती है। इसे पानी के साथ लिया जाना उचित है।
  • 13 से 19 वर्ष के बच्चों में, सुपारी पाक को दिन में 5 ग्राम लेने की सलाह दी जाती है। बच्चों की सुरक्षा के लिए इस दवा की खुराक बाल रोग विशेषज्ञ की सहूलियत से लें।
  • सुपारी पाक की अधिकतम खुराक दिन में 20 ग्राम तक है। इस दवा की इतनी मात्रा को एक साथ लेने की बजाय विभाजित भागों में लेने का प्रयास करें।
  • मरीज की वर्तमान स्थिति के आधार पर डॉक्टर द्वारा निर्धारित इस दवा की मात्रा से अधिक दवा का प्रयोग नहीं न करें। दवा की खुराक में परिवर्तन के लिए निजी फैसला न लें।
  • सुपारी पाक की अति और दुरुपयोग से बचें। दो खुराकों के बीच एक सुरक्षित समय अंतराल का पालन करें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित सुपारी पाक का सेवन जल्द करें। अगली खुराक सुपारी पाक की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Supari Pak Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में सुपारी पाक के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में सुपारी पाक से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही सुपारी पाक की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • गर्भावस्था

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

सुपारी पाक की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: पौरुष जीवन कैप्सूल | Kuberaksha Vati in Hindi

Supari Pak FAQ in Hindi

1) सुपारी पाक के परिणाम की समयावधि कितनी हो सकती है?

उत्तर: सुपारी पाक की शुरुआत सकारात्मक सोच के साथ करने से बेहद कम समय में ही इस दवा का प्रभावी परिणाम महसूस हो सकता है। हालांकि इस दवा के परिणाम की समयावधि हर किसी में अलग हो सकती है, लेकिन एक औसत की बात करें, तो इस दवा से 1 या 2 सप्ताह के भीतर ही अच्छा परिणाम दिखना शुरू हो जाता है।

2) सुपारी पाक को लेने का सबसे उचित समय कौनसा है?

उत्तर: सुपारी पाक को भोजन के 1 से 2 घंटे पहले लेना सबसे ज्यादा फायदेमंद साबित होता है, इसलिए सुबह और शाम भोजन से पहले का समय सबसे उचित माना जाता है।

3) क्या सुपारी पाक को दूध के साथ लिया जा सकता है?

उत्तर: हाँ, इस दवा को दूध के साथ लेना सुरक्षित है। यदि दूध गाय का हो, तो यह इस दवा के साथ श्रेष्ठ संयोजन का काम करता है।

4) क्या सुपारी पाक गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: किसी महिला में ल्यूकोरिया की समस्या है और वे गर्भधारण करने में मुश्किलात का सामना कर रही है, तो यह दवा कुछ हद तक काम आ सकती है। लेकिन गर्भवती महिलाओं को यह दवा इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

5) क्या सुपारी पाक एल्कोहोल सुरक्षित है?

उत्तर: सुपारी पाक के साथ एल्कोहोल की खुराक से परहेज किया जाना चाहिए, क्योंकि एल्कोहोल शरीर पर कब अपना बुरा असर छोड़ना शुरू कर दें, इस बात की कोई कल्पना नहीं कर सकता। स्वास्थ्य के हित के लिए इस दवा के साथ एल्कोहोल कभी न लें।

6) क्या सुपारी पाक की खुराक स्तनपान कराने वाली महिलाएं ले सकती है?

उत्तर: स्तनपान कराने वाली महिलाओं में इस दवा के असर की जानकारी स्त्री रोग विशेषज्ञ से लेने की आवश्यकता है। हालांकि ज्यादातर मामलों में, स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए यह दवा अनुशंसित नहीं है।

7) सुपारी पाक की दो लगातार खुराकों के बीच कितना समय अंतराल होना उचित है?

उत्तर: सुपारी पाक की एक खुराक लेने के बाद अगली खुराक को 8-10 घंटों के बाद ही लेने का विचार करें। यह एक सराहनीय कदम साबित होता है, जिससे ओवरडोज़ के खतरों की संभावना शून्य बनी रहती है।

8) क्या सुपारी पाक की खुराक के बाद गाड़ी या भारी उपकरण का संचालन करना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस आयुर्वेदिक दवा की खुराक शुरू करने के बाद गाड़ी या भारी उपकरण का संचालन करना सुरक्षित होता है। साथ ही, इस आयुर्वेदिक सूत्र पर भरोसा करने की भी आवश्यकता है। यह दवा झपकी, घबराहट, धुंधलापन जैसी समस्याओं का कारण नहीं बनती है।

9) क्या सुपारी पाक के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: इस दवा में शामिल प्राकृतिक घटकों में नशे के गुण नहीं होते है। यह दवा मस्तिष्क को आदी बनाने में असमर्थ है, इसलिए इस दवा से शरीर को आदत नहीं लगती है। लंबे समय के लिए इसके इस्तेमाल हेतु आप अपने चिकित्सक की राय ले सकते है।

10) सुपारी पाक को कैसे संग्रहीत किया जाना चाहिए?

उत्तर: सुपारी पाक को वायुरोधी (एयर-टाइट) कंटेनर में बंद कर स्टोर किया जाना चाहिए। इस दवा को सीधी धूप से बचाते हुए ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करने की सलाह दी जाती है।

11) क्या सुपारी पाक भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह आयुर्वेदिक दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: ब्राह्मी वटी | Lavangadi Vati in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *