निर्माता

Comed Chemicals Ltd

कीमत

Rs 235 (15 Tablet)

वेरिएंट

Lyser Tablet, Lyser AP Tablet, Lyser DP Tablet, Lyser Forte Tablet

Lyser D Tablet की जानकारी
उत्पाद प्रकार NSAIDs
संयोजन Diclofenac + Serratiopeptidase
डॉक्टर की पर्ची जरुरी है
Lyser D Tablet

Lyser D Tablet Uses in Hindi: उपयोग, नुकसान, खुराक, सावधानी

परिचय

लाइज़र डी टैबलेट क्या है? – What is Lyser D Tablet in Hindi

Lyser D Tablet दो वर्गों की एलोपैथिक दवाओं का एक संयोजन है, जो Analgesic और NSAIDs रूप में उल्लेखित है।

इसका उपयोग Rheumatoid Arthritis, Ankylosing Spondylitis, Osteoarthritis आदि सभी स्थितियों में दर्द और सूजन के इलाज में किया जाता है।

यह दवा बिना डॉक्टरी पर्चे के खरीदी नहीं जा सकती है।

क्योंकि इस दवा के वर्ग शेड्यूल-H से संबंध रखती है, जिनका सेवन डॉक्टर की निगरानी में किया जाता है।

NSAIDs वर्ग की होने की वजह से इसका इस्तेमाल बुखार, सिरदर्द, दांत दर्द, पीठ दर्द, कान दर्द, तनाव, मोच, मांसपेशियों में दर्द, गले में खराश, जोड़ों के दर्द, लालिमा आदि सभी लक्षणों के उपचार में भी किया जाता है।

हृदय या गुर्दे की दुर्बलता के मामलों में इसके सेवन से पूरी तरह बचा जाना चाहिए।

पढ़िये: शेल्काल 500 टैबलेट | Vertin Tablet in Hindi

संरचना

लाइज़र डी टैबलेट की संरचना – Lyser D Tablet Composition in Hindi

इसमें निम्न घटक शामिल है-

Diclofenac + Serratiopeptidase

लाइज़र डी टैबलेट कैसे काम करती है?

Diclofenac और Serratiopeptidase दोनों इस दवा के मुख्य सक्रिय घटक है, जो दर्द और सूजन पर कारवाई करने के लिए उत्तरदायी है।

यह दवा Cyclo-oxygenase (COX) क्रिया को रोककर Prostaglandins रसायन के उत्पादन को रोकती हैं, जो दर्द और सूजन के लिए जिम्मेदार होता है।

यह दवा सूजन वाली जगह पर उपस्थित प्रोटीन को तोड़ने का भी काम करती है, क्योंकि प्रोटीन टूटने की वजह से दर्द पैदा करने वाले तत्वों के स्तर में कमी आती हैं और दर्द से आराम मिलता है।

पढ़िये: मैनफोर्स टैबलेट | Saridon Tablet in Hindi

उपयोग

लाइज़र डी टैबलेट के उपयोग व फायदे – Lyser D Tablet Uses & Benefits in Hindi

Lyser D Tablet को निम्न अवस्था व विकार में डॉक्टर द्वारा रोगी को सलाह किया जाता है। Lyser D Tablet का सेवन डॉक्टर से व्यक्तिगत सलाह बिना लिए ना करें।

  • हल्के से लेकर मध्यम दर्द
  • सरदर्द या माइग्रेन
  • नरम ऊतकों (टिशू) में चोट
  • मामूली सर्जरी
  • सूजन
  • कान में संक्रमण
  • जोड़ों में दर्द
  • हड्डियों में दर्द
  • दांतों में सर्जरी
  • रूमेटाइड गठिया
  • ऑस्टियोआर्थराइटिस
  • कष्टार्तव (Dysmenorrhea)
  • स्पॉन्डिलाइटिस
  • गाउट
  • फ्रेक्चर

दुष्प्रभाव

लाइज़र डी टैबलेट के दुष्प्रभाव – Lyser D Tablet Side Effects in Hindi

इसकी अति या दुरुपयोग से कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हो सकते है-

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • भूख में कमी
  • जठरांत्र रक्तस्राव
  • पेट में जलन
  • खट्टी डकार
  • कब्ज़
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • एनोरेक्सिया
  • दस्त
  • टिनिटस
  • पेट दर्द
  • दस्त

पढ़िये: डीपी जेसिक टैबलेट | Montair FX Tablet in Hindi

खुराक

लाइज़र डी टैबलेट की खुराक – Lyser D Tablet Dosage in Hindi

Lyser D Tablet की खुराक वयस्कों के लिए स्वास्थ्य स्थिति, लक्षण गंभीरता, प्रतिक्रिया आदि सभी अहम बातों को ध्यान में रखकर डॉक्टर द्वारा तय की जाती है।

आमतौर पर, Lyser D Tablet की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Lyser D Tablet
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 1 टैबलेट
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने से पहले या बाद: खाने के बाद
  • लेने का माध्यम: पानी के साथ
  • उपचार अवधि: डॉक्टर की सलाह अनुसार

टैबलेट को मौखिक रूप से पानी के साथ लेनी चाहिए। टैबलेट को तोड़ने, चबाने या कुचलने से बचना चाहिये।

तय खुराक से कम या ज्यादा खुराक के लिए डॉक्टर से व्यक्तिगत सलाह लेनी चाहिए।

खुराक का ओवरडोज़ होने पर खुराक को रोककर चिकित्सा सहायता को प्राथमिकता देनी चाहिए।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Lyser D Tablet का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Lyser D Tablet की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में Lyser D Tablet के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ Lyser D Tablet की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

निम्न दवाई/घटक के साथ Lyser D Tablet का सेवन डॉक्टर की सलाह से करें, जैसे- Aspirin, Ketorolac, Ramipril आदि।

लत लगना

नहीं, Lyser D Tablet की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और Lyser D Tablet की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था एक संवेदनशील अवस्था है, इसलिए Lyser D Tablet का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

स्तनपान

इस विषय में निजी डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करें।

ड्राइविंग

Lyser D Tablet के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

अन्य कोई बड़ी बीमारी होने पर Lyser D Tablet का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें, जैसे- अस्थमा, जठरांत्र विषाक्तता, त्वचा पर चकत्ते, हृदय या किडनी दुर्बलता इत्यादि।

पढ़िये: पेरिनोर्म टैबलेट | Zinetac Tablet in Hindi

सवाल-जवाब

क्या Lyser D Tablet सूजन का कारण बने विकारों या बीमारियों से छुटकारा दिला सकती है?

यह दवा सूजन तथा दर्द से राहत पाने में इस्तेमाल की जाती है। लेकिन सूजन का कारण बनी बीमारियों को ठीक करने में इस दवा का कोई योगदान नहीं है, क्योंकि शरीर में सूजन विभिन्न कारणों से पैदा हो सकती है।

क्या Lyser D Tablet वजन बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जा सकती है?

चूँकि यह NSAIDs वर्ग की दवा है, जिसका सीधा मतलब हैं कि यह दवा Non-steroidal है। इसी वजह यह दवा शारीरिक वजन बढ़ाने में पूरी तरह असक्षम हैं।

क्या Lyser D Tablet को OTC (डॉक्टर की सलाह बिना) के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है?

यह दवा बिना डॉक्टरी पर्चे के खरीदी नहीं जा सकती है। क्योंकि इस दवा के वर्ग शेड्यूल-H से संबंध रखती हैं, जिनका सेवन डॉक्टर की निगरानी में किया जाता है।

क्या Lyser D Tablet दांतों के दर्द से राहत दिला सकती है?

यह दवा दांतों के दर्द से राहत दिलाने में सक्षम हैं, क्योंकि यह एक Analgesic दवा है। जो दांतों के दर्द समेत अन्य मध्यम दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक है।

क्या Lyser D Tablet भारत में लीगल है?

हाँ, यह दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

Lyser D Tablet अपना असर कितने समय में दिखाना शुरू करती है?

इस दवा की मौखिक खुराक के बाद आधे से एक घंटे के भीतर इसका प्रभावी असर महसूस होना शुरू हो जाता है और दर्द तथा सूजन से बहुत जल्दी आराम मिलता है।

Lyser D Tablet का असर कितने समय के लिए रहता है?

सामान्य तौर पर इसकी खुराक के बाद इसका असर 6-8 घंटो के लिए प्रभावी रहता है।

पढ़िये: डैरोलैक कैप्सूल | Flagyl Tablet in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.