निर्माता

Franco Indian Pharmaceuticals Pvt Ltd

कीमत

Rs 106 (100 ml)

Grilinctus BM Syrup की जानकारी
संयोजन Terbutaline + Bromhexine
डॉक्टर की पर्ची जरुरी है
Grilinctus BM Syrup

Grilinctus BM Syrup Uses in Hindi: उपयोग, नुकसान, खुराक, सावधानी

परिचय

ग्रिलिंक्टस बीएम सिरप क्या है? – What is Grilinctus BM Syrup in Hindi

Grilinctus BM Syrup एक बेस्ट क्वालिटी की एलोपैथिक सिरप है, जो ब्रोंकाइटिस और COPD (Chronic Obstructive Pulmonary Disease) जैसे लक्षणों के लिए प्रभावी है। यह दवा Bronchodilator वर्ग से तालुकात रखती है।

यह डॉक्टर द्वारा तय की जाने वाली दवाओं में से एक है, जिसे लेने से फेफड़ों को आराम मिलता है। यह दवा बलगम वाली खाँसी, कफ, सांस फूलना, छाती में जकड़न, घरघराहट, अस्थमा, दम घुटना आदि स्थितियों का उपचार करने में मददगार है।

इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी का गुण भी शुमार होता है, जिसके कारण यह आम लक्षणों जैसे छींके, नाक बहना, खुजली, आंखों में पानी आने की समस्याओं को भी ठीक कर सकती है।

पढ़िये: मेलाटोनिन टैबलेट | Aziderm Cream in Hindi

संरचना

ग्रिलिंक्टस बीएम सिरप की संरचना – Grilinctus BM Syrup Composition in Hindi

निम्न घटक Grilinctus BM Syrup में बताई मात्रा में होते है।

Terbutaline (2.5 mg/5 ml) + Bromhexine (8 mg/5 ml)

उपयोग

ग्रिलिंक्टस बीएम सिरप के उपयोग व फायदे – Grilinctus BM Syrup Uses & Benefits in Hindi

इस उत्पाद से निम्न फायदें हमें प्राप्त हो सकते है।

सीओपीडी के इलाज में सहायक

यह एक फेफड़ों से जुड़ी बीमारी है, जिसमें सांस लेने में कठिनाई आती है। यह बीमारी लंबी चलने से हृदय संबंधी कई जटिल रोग पैदा हो सकते है, इसलिए इस दवा द्वारा श्वसन चिकित्सक की सलाह से इस बीमारी का इलाज जल्दी पूरा करना होता है।

ब्रोंकाइटिस के उपचार में मददगार

इस संयोजन में मौजूद घटक फेफड़ों में वायु के प्रवाह को बढ़ाकर श्वसन पथ की मांसपेशियों को आराम देने का कार्य करती है। यह दवा मार्ग के संकुचन और विरलन को सुनिश्चित कर वातस्फीति, ब्रोंकाइटिस और अस्थमा के इलाज में मदद कर सकती है।

खाँसी से आराम पाना

जब श्वासनली में बलगम एकत्र होने लगता है और नली सिकुड़ने लगती है, फलस्वरूप हमें खाँसी होती है। ऐसे में, यह सिरप बलगम के तंतुओं को तोड़कर उन्हें चिकना बनाती है। इससे अतिरिक्त जमा बलगम निष्काषित होने लगता है और हमें कफ व खाँसी से राहत मिलती है।

आम लक्षणों को मिटाने में असरदार

यह प्रभावी संगठन हमारी प्रतिरक्षा को मजबूत कर हमारी दैनिक गतिविधियों में निरन्तरता बनायें रखने में मददगार साबित होता है। इसमें मौजूद एन्टीइंफ्लेमेटरी गुण आंखों में पानी आने, नाक बहने, गले में जलन होने, लगातार छींके आने आदि समस्याओं से निजात दिला सकतीहै।

पढ़िये: सैलिसिलिक एसिड क्रीम | New Dewsoft Cream in Hindi

दुष्प्रभाव

ग्रिलिंक्टस बीएम सिरप के दुष्प्रभाव – Grilinctus BM Syrup Side Effects in Hindi

इस सिरप की अति या दुरुपयोग करने से निम्नलिखित दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते है

  • अपच
  • सिरदर्द
  • दस्त
  • पसीना आना
  • धड़कन तेज होना
  • कंपकपी
  • चक्कर
  • खुजली
  • जी मिचलाना
  • रैशेज

खुराक

ग्रिलिंक्टस बीएम सिरप की खुराक – Grilinctus BM Syrup Dosage in Hindi

Grilinctus BM Syrup की खुराक को उम्र, लिंग, वजन तथा हेल्थ कंडिशन को देखते हुए एक्सपर्ट जांच द्वारा तय की जाती है।

आमतौर पर, Grilinctus BM Syrup की ज्यादातर मामलों में सुझाव की जाने वाली खुराक कुछ इस प्रकार है-

उत्पाद खुराक
use in hindi
Grilinctus BM Syrup
  • लेने का तरीक़ा: मौखिक खुराक
  • कितना लें: 5 ml
  • कब लें: सुबह और शाम
  • खाने से पहले या बाद: कभी भी
  • उपचार अवधि: 1 सप्ताह

इसे रोजाना एक निश्चित समय पर इस्तेमाल करें, वहीं अगर इस दवा से कोई रिएक्शन होता है तो जल्द से जल्द ट्रीटमेंट लें।

एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Grilinctus BM Syrup का उपयोग जल्द करें। अगली खुराक Grilinctus BM Syrup की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

पढ़िये: फोर्ड्रेम क्रीम | Betnovat N Cream in Hindi

सावधानी

निम्न सावधानियों के बारे में Grilinctus BM Syrup के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

भोजन

भिन्न खाद्य सामग्री के साथ Grilinctus BM Syrup की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

जारी दवाई

निम्न दवाई/घटक के साथ Grilinctus BM Syrup का सेवन डॉक्टर की सलाह से करें, जैसे- Propranolol, Furosemide, Clozapine आदि।

लत लगना

नहीं, Grilinctus BM Syrup की लत नहीं लगती है।

ऐल्कोहॉल

शराब और Grilinctus BM Syrup की साथ में प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

गर्भावस्था

अत्यंत जरूरी मामलों में इस दवा को डॉक्टर की निगरानी में लिया जाना चाहिए।

स्तनपान

इस विषय में निजी डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करें।

ड्राइविंग

Grilinctus BM Syrup के सेवन से ड्राइविंग क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है।

अन्य बीमारी

अन्य कोई बड़ी बीमारी होने पर Grilinctus BM Syrup का उपयोग डॉक्टर की सलाह अनुसार करें, जैसे- ग्लूकोमा, गैस्ट्रिक अल्सर आदि।

सवाल-जवाब

क्या Grilinctus BM Syrup डायबिटीज में सुरक्षित है?

मधुमेह के मामलों में इस सिरप से प्रतिक्रिया होने के आसार बने रहते है। ब्रोंकाइटिस और COPD के इलाज में प्रयुक्त होने वाली ज्यादातर दवाओं को डायबिटीज में लेने की मना ही होती है, उन्हीं में से एक दवा यह भी है, जो मधुमेह में जल्दी रिएक्शन कर सकती है।

क्या Grilinctus BM Syrup किडनी या लिवर को प्रभावित कर सकती है?

लिवर तथा किडनी से जुड़े गंभीर मामलों में इस सिरप को लेने हेतु सावधानी बरतनी आवश्यक होती है, जरूरत पड़ने पर इसकी खुराक को बदलने की भी आवश्यकता पड़ सकती है। इस विषय में इसे अपने डॉक्टर की सलाह पर ही इस्तेमाल करें।

क्या Grilinctus BM Syrup महिलाओं के मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

इस विषय में अपने निजी मासिक धर्म चक्र से जुड़े विशेषज्ञ का अनुसरण करें।

Grilinctus BM Syrup को कैसे संग्रहीत किया जाना चाहिए?

इस पैक को कमरे के तापमान पर रखना चाहिए, सूर्य के सीधे प्रकाश और ज्यादा गर्मी से बचाना चाहिए तथा फ्रिज में रखने की भूल कभी नहीं करनी चाहिए।

Grilinctus BM Syrup से कितने समय में असर दिखना शुरू हो सकता है?

हर मरीज के लिए इस दवा के असर की अवधि अलग हो सकती है। कुछ मरीजों में यह एक सप्ताह में परिणाम देती है तथा कुछ मरीजों में दो सप्ताह या उससे अधिक का भी समय लग सकता है।

क्या Grilinctus BM Syrup भारत में लीगल है?

हाँ, यह उत्पाद भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: मैफेयर क्रीम | White Tone Cream in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.