Jawarish Mastagi in hindi

जवारिश मस्तगी क्या है? – What is Jawarish Mastagi in Hindi

Jawarish Mastagi स्वस्थ पाचन की कल्पना को साकार करने वाली एक यूनानी दवा है। यह दवा पाचन तंत्र की कार्यशैली या कार्यक्षमता को उत्कृष्ट बनायें रखने में मददगार है।

Advertisements

पाचन तंत्र से जुड़े सभी रोगों के इलाज हेतु इस दवा का प्रयोग फायदेमंद साबित हो सकता है। इसे बिना डॉक्टरी पर्चे के खरीद सकते है।

पेट में बदहजमी, गैस, अपच, कब्ज, मतली, दस्त, पेट दर्द, एसिडिटी, भूख न लगना आदि स्थितियों की रोकथाम कर यह दवा मजबूत पाचन शक्ति को अस्तित्व में ला सकती है।

इस दवा से लीवर का फंक्शन सही होता है और हाजमा रसों का उत्पादन बढ़ता है।

निम्न जवारिश मस्तगी उत्पाद के प्रचलित विक्रेता है।

  • Hamdard Jawarish Mastagi
  • Rex Jawarish Mastagi
  • New Shama Jawarish Mastagi

जवारिश मस्तगी की संरचना – Jawarish Mastagi Composition in Hindi

निम्न घटक Jawarish Mastagi में होते है।

रूमी मस्तगी + कंद सफेद + अर्क गुलाब

पढ़िये: शबाब ए आजम के फायदे | Majun Salab in Hindi

जवारिश मस्तगी के उपयोग व फायदे – Jawarish Mastagi Uses & Benefits in Hindi

जवारिश मस्तगी के मुख्य फायदे निम्न है।

पेट दर्द को ठीक करने में सहायक औषधि

पेट में भोजन का सही से न पचना पेट दर्द का सबसे बड़ा कारण हो सकता है। यदि मल उत्सर्जन करने में काफी दिक्कत हो रही है, तो इसका मतलब आपका पाचन तंत्र कमजोर हो चुका है और इससे पेट दर्द की शिकायत बनी रहने वाली है। इसे ठीक करने के हमें दवा का सहारा लेना पड़ सकता है और यह दवा बेहतर विकल्प हो सकती है।

पेट की कब्ज के इलाज में मददगार

आंतों में पानी की मात्रा को बढ़ाकर यह दवा अपशिष्ट पदार्थ को गिला करने का कार्य करती है, जिससे कब्ज का कारण बनी जमा गंदगी को शरीर के बाहर उत्सर्जित करने में आसानी होती है। इस दवा द्वारा कब्ज में बेहद अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है।

लीवर के कार्यों में सुधार करने वाली दवा

लीवर के ठीक कार्य न कर पाने से पाचक रसायनों का उत्पादन कम हो सकता है। लीवर की कार्य दक्षता में सुधार कर लीवर को संक्रमित होने से बचाने वाले एंजेट इस दवा में मौजूद है।

भूख को बढ़ाने में कारगर

यह दवा आवश्यक पोषक तत्वों को भोजन से अलग शरीर बनाने में मदद कर सकती है। इस दवा से आंतों को उत्तेजित किया जा सकता है, जिसके फलस्वरूप भोजन की मांग शरीर के लिए बढ़ने लगती है।

दस्त के उपचार में उपयोगी दवा

पानी वाली दस्त, खूनी दस्त या दस्त का अन्य कोई प्रकार होने पर इस दवा को चिकित्सक की सलाह से उपयोग किया जा सकता है। इस दवा का परिणाम दस्त में शानदार रहता है।

पेट की अम्लीयता को कम करने में सहायक

एसिडिटी के कारण अक्सर खट्टी डकारें, सीने में जलन, सिर दर्द, पेट में जलन आदि सभी समस्याएं रहती है। इन सभी को ठीक करने के लिए पेट में एसिड के स्राव को कम करने की जरूरत पड़ती है, जो इस दवा द्वारा संभव हो सकता है।

जवारिश मस्तगी के दुष्प्रभाव – Jawarish Mastagi Side Effects in Hindi

इस दवा से होने वाले संभावित दुष्प्रभावों की सूची मौजूद नहीं है। इसे सही से इस्तेमाल करने पर, इस दवा को स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित माना जाता है। यदि इस दवा से कोई असमंजस होता है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

पढ़िये:  एलोपैथिक दवा की जानकारी | Jawarish Kamuni Uses in Hindi 

जवारिश मस्तगी की खुराक – Jawarish Mastagi Dosage in Hindi

  • इस दवा की खुराक एक आम वयस्क के लिए दिन में 5 से 10 ग्राम दो बार लेने की सलाह दी जाती है। इस दवा को दैनिक अधिकतम खुराक 10 ग्राम तक हो सकती है।
  • कम लक्षणों पर इसकी दिन में एक खुराक काफी है। इसे गुनगुने पानी के साथ मौखिक रूप से ग्रहण करें।
  • छोटे बच्चों में इस दवा की खुराक देने से पहले बाल रोग चिकित्सक की सहायता लें।
  • इसकी खुराक को अपनी इच्छानुसार बदलने की कोशिश न करें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Jawarish Mastagi का उपयोग जल्द करें। अगली खुराक Jawarish Mastagi की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।
  • हर अवस्था में जवारिश मस्तगी की खुराक विशेषज्ञ से निजी सलाह के बाद लेना उचित माना जाता है।

सावधानियां – Jawarish Mastagi Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में जवारिश मस्तगी के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में जवारिश मस्तगी से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही जवारिश मस्तगी की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • लीवर या किडनी दुर्बलता

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

भोजन व जवारिश मस्तगी की प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: बस्ट फुल क्रीम | Majun Falasfa in Hindi

Jawarish Mastagi FAQ in Hindi

1) क्या Jawarish Mastagi गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: गर्भवती महिलाएं इस दवा को अपने डॉक्टर की सलाह से ही लें क्योंकि गर्भावस्था पर इस दवा के व्यवहार की जानकारी मौजूद नहीं है।

2) क्या मैं स्तनपान अवधि के दौरान Jawarish Mastagi को ले सकती हूँ?

उत्तर: यदि कोई महिला स्तनपान कराती है और उसे पाचन की समस्या होती है, तो बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा का उपयोग न करें।

3) क्या Jawarish Mastagi की उपचार अवधि लंबी होती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा की उपचार अवधि ज्यादा लंबी नहीं होती है। पेट से जुड़ी समस्याओं को जल्दी ठीक करने की जरूरत होती है, इसी आधार पर इस दवा को प्रभावी और अल्पकालिक स्वरूप दिया जाता है। इस विषय में डॉक्टर या हकीम द्वारा सुझाई खुराक का पालन करें।

4) क्या Jawarish Mastagi मूत्र से जुड़ी समस्याओं को ठीक कर सकती है?

उत्तर: हाँ, इस दवा द्वारा मूत्र से जुड़े सामान्य लक्षणों को ठीक किया जा सकता है।

5) क्या Jawarish Mastagi एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: एल्कोहोल के साथ इस दवा के व्यवहार की जानकारी कहीं मौजूद न होने की वजह से इस विषय में चिकित्सक की सलाह लें।

6) क्या Jawarish Mastagi के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के सेवन पर इसकी आदत नहीं लगती है।

7) क्या Jawarish Mastagi की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: वर्तमान हालत सही होने पर इसकी खुराक के बाद ड्राइविंग करना आपका निजी निर्णय हो सकता है।

8) क्या Jawarish Mastagi मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: नहीं, यह दवा मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करती है।

9) क्या Jawarish Mastagi को भूखे पेट लेना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस दवा को भूखे पेट लेना सुरक्षित है। इसे भोजन से आधे घंटे पहले गुनगुने पानी के साथ ले सकते है।

10) क्या Jawarish Mastagi भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह हर्बल दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: काला घोड़ा क्रीम के फायदे | Sharbat Bazoori Motadil in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *