lasix in hindi

Lasix in Hindi: उपयोग, नुकसान, खुराक, सावधानी, कीमत, घटक, फायदे, साइड इफेक्ट्स, काम, कब व कैसे लें l लेसिक्स की जानकारी

Lasix क्या है? – What is Lasix in Hindi

Lasix एक “Loop Diuretics” वर्ग का एलोपैथिक दवाई है, जो उच्च रक्तचाप और Edema के निवारण में उपयोग होता है। यह डॉक्टर के लिखे गए पर्चे पर मिलने वाली दवा है।

Loop Diuretics वर्ग के दवाई किडनी को उत्तेजित कर, किडनी से निकलने वाले तरल पदार्थों की रिहाई-मात्रा बढ़ा देते है। Lasix एक टैबलेट और इंजेक्शन के तौर पर बाजार में उपलब्ध है।

नामLasix 40MG Tablet
संरचना (Composition)Furosemide
निर्माता (Manufacturer)Sanofi Ltd.
दवा-प्रकार (Type of Drug)Loop Diuretics
कीमत (Price)12.64 Rs (15 Tablets)
वेरिएंट (Variant)Lasix Injection
विकल्प (Substitute)Frusamid Tablet, Frusenex Tablet, Laxide Tablet आदि

पढ़िये: इंटाजेसिक MR टैबलेट की जानकारी | Eltroxin Tablet in Hindi

लेसिक्स के उपयोग व फायदे – Lasix Uses & Benefits in Hindi

Lasix को निम्न अवस्था व विकार में डॉक्टर द्वारा रोगी को सलाह किया जाता है। Lasix का सेवन डॉक्टर से व्यक्तिगत सलाह बिना लिए ना करें।

  • उच्च रक्तचाप (Hypertension)
  • शोफ (Edema)
  • हृदय विफलता (Heart Failure)

लेसिक्स की खुराक – Lasix Dosage in Hindi

  • Lasix एक loop Diuretics वर्ग की दवाई है। अतः Lasix को बड़े सावधानी के साथ चिकित्सक के निर्देशन में ही प्रयोग करना चाहिए।
  • बाजार में Lasix टेबलेट 20 mg, 40 mg और 60 mg में उपलब्ध है। अतः अपने स्तिथी के गंभीरता के अनुसार चिकित्सक से समझ कर इन तीनों में से एक का चयन करें।
  • Lasix को कोर्स खत्म होने पर ही छोड़ना चाहिए, बीच में नहीं।
  • Lasix को खाने के साथ या बिना भी लिया जा सकता है। Lasix को तोड़कर या चुराकर नहीं खाना चाहिए। Lasix की समूची गोली को पानी के साथ लेना चाहिए।
  • Lasix को दिन में अधिकतम 2 बार तक लिया जा सकता है।
  • Lasix को रात में लेने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे बार बार पेशाब जाना पड़ सकता है।
  • युवा वर्ग के लोगों को Lasix की 20-80 mg तक मात्रा ही दिन भर में लेनी चाहिए। अगर स्तिथी ज्यादा गम्भीर हो तो सलाह अनुसार 20-40 mg चिकित्सक से समझ कर बढ़ा सकते है।
  • बच्चों को 2 mg प्रति 1 किलों ही देना चाहिए। ज्यादा गंभीर स्तिथी हो तो 2 mg से लेकर 6 mg प्रति 1 किलों तक बढ़ा सकते हैं। लेकिन, 6 mg से ज्यादा मात्रा पूरे दिन भर में नहीं देना चाहिए।
  • एलर्जी, मूत्राशय संबंधित विकारों में Lasix के उपयोग से बचना चाहिए।
  • स्तनपान कराने वाली और गर्भवती महिलाओं को Lasix के प्रयोग से बचना चाहिए।
  • Lasix को सीधे सूर्य की ऊष्म, नमी से दूर रखना चाहिए। Lasix को किसी सूखे एवं ठंडे स्थान पर रखना चाहिए।
  • Lasix के इस्तेमाल के दौरान ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। पानी अपने वजन के 5 प्रतिशत से ज्यादा पीना है।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Lasix का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Lasix की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

पढ़िये: अनवांटेड 72 टैबलेट की जानकारी | Ketorol DT Tablet in Hindi

लेसिक्स के दुष्प्रभाव – Lasix Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफ़ेक्ट्स Lasix के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफ़ेक्ट्स Lasix से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफ़ेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Lasix से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें। इनके अलावा भी अन्य साइड इफ़ेक्ट्स Lasix से हो सकते है।

  • सिर चकराना
  • सरदर्द
  • दुर्बलता
  • कम सुनाई देना
  • निर्जलीकरण
  • कैल्शियम की कमाई
  • रक्त में पोटेशियम की कमी
  • प्यास बढना
  • रक्त में मैग्नीशियम की कमी

सावधानियां – Lasix Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Lasix के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Lasix से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Lasix की खुराक लें।

  • डायबिटीज़
  • हाइपरयूरिसीमिया
  • लिवर व किडनी दुर्बलता
  • इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Lasix की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

अन्य दवाई के साथ प्रतिक्रिया

निम्न दवाओं व घटको का सेवन Lasix के साथ ना करें । क्योंकि ये और Lasix साथ में प्रतिक्रिया जल्दी करते है।

पढ़िये: डेक्सोरेंज सिरप की जानकारी | Cefuroxime Axetil in Hindi

Lasix कैसे काम करती है?

Lasix “Loop Diuretics” वर्ग की दवाई है। Lasix, Edema को ठीक करने में मदद करता है। Edema एक स्तिथी होती है ,जिसमें शरीर के किसी भाग के उत्तकों में तरल पदार्थ जाम हो जाते है। तरल पदार्थों का जाम होना कोशिकाओं के बीच ज़रूरी तत्वों के यातायात में रुकावट के कारण होती है।

Loop Diuretics वर्ग की दवाइयां किडनी को उत्तेजित कर उससे निकलने वाले पदार्थों की रिहाई मात्रा बढ़ाकर कार्य करते है। Lasix ऐसा किडनी की उत्तकों के माध्यम से आदान-प्रदान होने वाले लवण, तरल पदार्थों के यातायात में हस्तक्षेप डालकर करता है। जिन उत्तकों पर Lasix प्रभाव डालते हैं, वे एक विशेष क्रम या ढांचे में होते है। उन्हें Loop Of Henle कहा जाता है।

जब किडनी द्वारा निकलने वाले तरल पदार्थों की मात्रा बढ़ जाती है, तो तरल पदार्थ एक विशेष गति से पूरे शरीर में घूमते है। जिससे जमे हुए तरल पदार्थों में भी गति आती है और एक भाग में अवरुद्ध हुए तरल पदार्थ हटने लगते है। इसके कार्य करने की शैली ठीक उसी प्रकार से है, जिस तरह जमे हुए नाले या पाइप को तेज पानी की धार से खोला जाता है।

कीमत व वेरिएंट – Lasix Price & Variant in Hindi

निम्न वेरिएंट में Lasix मार्केट में उपलब्ध है, जिनकी कीमत निम्नलिखित है। अगर डॉक्टर Lasix सलाह करते है, तो इसी वेरिएंट का इस्तेमाल करें, अन्य वेरिएंट पर ना जाए।

वेरिएंटमात्राकीमत
Lasix 40 MG Tablet15 Tablets12.64 Rs
Lasix Injection2ml3.47 Rs
Lasix Injection4ml10.89 Rs

पढ़िये: म्यूकोलाइट टैबलेट की जानकारी | Alex Syrup in Hindi

विकल्प – Lasix Substitute in Hindi

निम्न Lasix के विकल्प है, जिनकी संरचना Lasix के समान ही है।

  • Frusamid Tablet by Sanofi India Ltd
  • Frusenex Tablet by Geno Pharma Ltd
  • Laxide Tablet by Tenet Healthcare
  • Lasipen Tablet by Intas Pharma Ltd

Lasix FAQ in Hindi

1) क्या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए Lasix का प्रयोग सुरक्षित है?

उत्तर: नहीं, स्तनपान करानेवाली महिलाओं को Lasix के इस्तेमाल से बचना चाहिए। क्योंकि Lasix माँ के दूध के गुणवक्ता पर असर डालता है। ये दूध के प्रवाह पर भी असर डाल सकता है। इसलिए डॉक्टर से उचित सलाह लें और फिर कोई फैसला लें।

2) क्या गर्भवती महिलाओं के लिए Lasix सुरक्षित है?

उत्तर: नहीं, Lasix के उपयोग से गर्भवती महिलाओं को बचना चाहिए। ये भ्रूण पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

3) क्या Lasix को खाने के साथ लेना चाहिए?

उत्तर: Lasix को खाने के साथ या बिना भी लिया जा सकता है।

4) क्या शराब का प्रयोग Lasix के कोर्स के दौरान किया जा सकता है?

उत्तर: नहीं, क्योंकि शराब Lasix से होनेवाले दुष्प्रभावों की गंभीरता बढ़ा देता है। शराब Lasix की गुणवक्ता पर भी असर डालता है।

5) क्या Lasix लत लगाती है?

उत्तर: नहीं, Lasix में लत लगनेवाली कोई सामग्री नहीं है।

6) क्या Lasix के इस्तेमाल के बाद वाहन चलाया या कोई शारीरिक स्तर का काम किया जा सकता है?

उत्तर: नहीं, क्योंकि Lasix के प्रयोग के बाद चक्कर आना, जी-मचलाना इत्यादि स्तिथियाँ अनुभव होती हैं। इन स्तिथियों में वाहन चलाना या कोई शारीरिक स्तर का काम करने में दुर्घटना की आशंका रहती है।

7) क्या Lasix छोटे बच्चों को दिया जा सकता है?

उत्तर: बहुत छोटे बच्चों को नहीं देना चाहिए। लेकिन, अगर उम्र 10 से ऊपर हो तो 2 mg से 6 mg प्रति किलों के हिसाब से दे सकते हैं। 6 mg प्रति किलों से ज्यादा मात्रा नही होना चाहिए।

8) Lasix से एलर्जी की संभावना रहती है?

उत्तर: हाँ, Lasix से जुड़े एलर्जी हो सकती हैं, खुजली व चेहरे, होठ और जीभ पर सूजन होना।

9) Lasix को दिन में कितने बार लेना चाहिए?

उत्तर: Lasix को दिन में अधिकतम 2 बार तक लिया जा सकता है।

10) क्या किडनी के मरीजों के लिए Lasix सुरक्षित है?

उत्तर: नहीं, किडनी के मरीजों को चिकित्सक के परामर्श से ही Lasix का प्रयोग करना चाहिए।

11) Lasix के प्रयोग के दौरान किन खाद्य पदार्थो से बचना चाहिए?

उत्तर: खाद्य पदार्थों के साथ Lasix के ज्यादा परस्पर क्रिया नहीं हैं। अतः ज्यादा सावधानी बरतने की ज़रूरत नही है। फिर भी, चिकित्सक से ज़रूर समझ लेना चाहिए खान पान के बारे में।

12) Lasix को किस समय प्रयोग करना ज्यादा फायदेमंद होता है?

उत्तर: Lasix को दिन भर में कभी भी लिया जा सकता है। लेकिन, रात में लेने से बचना चाहिए क्योंकि बार बार पेशाब लगने की समस्या कर सकता है।

13) क्या मधुमेह के मरीजों को Lasix का इस्तेमाल करना चाहिए?

उत्तर: इस स्थिति में चिकित्सक से अवश्य सलाह लेना के बाद ही कोई फैसला लेना चाहिए। क्योंकि मधुमेह के मरीजों द्वारा कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई है।

14) क्या Lasix शाकाहारी है?

उत्तर: हाँ, Lasix पूर्णतौर पर शाकाहारी है।

पढ़िये: एसिट्रोम टैबलेट की जानकारी | Biluma Cream in Hindi

1 thought on “Lasix in Hindi: उपयोग, नुकसान, खुराक, सावधानी, कीमत, घटक, फायदे, साइड इफेक्ट्स, काम, कब व कैसे लें l लेसिक्स की जानकारी”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *