Categories: Ayurveda

हिमालया मेंटेट टैबलेट: फायदे, नुकसान, खुराक, कीमत, सावधानी, उपयोग विधि | Himalaya Mentat Tablet in Hindi

नाम (Name)Himalaya Mentat Tablet
संरचना (Composition)ब्राह्मी + जटामांसी + तगार + अश्वगंधा + विविडंग + हरीतकी + गिलोय + ज्योतिष्मती + कपिकछु + हरी इलायची + विभीतिकी + जायफल + लौंग + आंवला + अर्जुन + शतपुष्पा + अदरक + जायफल + विष्णुकांक्ति
निर्माता (Manufacturer)Himalaya Drug Company
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवा
उपयोग (Uses)चिंता, तनाव, मानसिक थकान, भ्रम, एकग्रता में कमी, अल्जाइमर, मिर्गी, दौरे पड़ना आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)सिरदर्द, शारीरिक अकड़न, अत्यधिक गर्मी, अरुचि
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता, गर्भावस्था
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)120 रुपये (60 टैबलेट)

हिमालया मेंटेट टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Mentat Tablet in Hindi

Himalaya Mentat Tablet दैनिक उतार-चढ़ाव और अन्य कारणों से पैदा मानसिक विकारों को शांत करने के लिए जाना जाता है।

Advertisements

Himalaya Mentat Tablet एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ एक स्ट्रेस-बस्टर का रूप है, जो तनाव, अनिद्रा, चिंता, अवसाद, कमजोर याददाश्त, पार्किसंस रोग, मिर्गी, अल्जाइमर, न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर, भ्रम, मानसिक असंतुलन, एकाग्रता हानि जैसी कई शिकायतों के लिए एक हर्बल सुविधा है।

Himalaya Mentat Tablet फालतू विचार और भटकतें मन को काबू में कर विद्यार्थी जीवन के लिए एक उत्तम टॉनिक साबित हो सकती है।

यह दवा बिना डॉक्टरी पर्चे के आसानी से मिल जाती है, लेकिन हर मानसिक स्थिति के संबंध में इसे डॉक्टरी सलाह के अनुरूप प्रयोग करना ज्यादा बेहतर है।

जिन बच्चों को रात में सोते समय बिस्तर गीला करने की समस्या है, उनके लिए यह हर्बल दवा एक उम्मीद बन सकती है।

हिमालया मेंटेट टैबलेट की संरचना – Himalaya Mentat Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक Himalaya Mentat Tablet में होते है।

ब्राह्मी + जटामांसी + तगार + अश्वगंधा + विविडंग + हरीतकी + गिलोय + ज्योतिष्मती + कपिकछु + हरी इलायची + विभीतिकी + जायफल + लौंग + आंवला + अर्जुन + शतपुष्पा + अदरक + जायफल + विष्णुकांक्ति

पढ़िये:  शंख भस्मSutshekhar Ras in Hindi

Himalaya Mentat Tablet कैसे काम करती है?

  • हिमालया मेंटेट टैबलेट अमीनो रसायन के स्तर को संतुलित कर अवसाद के इलाज में मदद करती है। यह दवा मैमोरी का विस्तार कर सीखने की क्षमता को बढ़ाने में कारगर है।
  • हिमालया मेंटेट टैबलेट GABA न्यूरोट्रांसमीटर की गतिविधि में सुधार कर Serotonin के उत्पादन को प्रेरित करती है, जो मानसिक हालातों पर कड़ी कार्यवाही कर मस्तिष्क को दृढ़ता प्रदान करने में सहायक है।
  • यह एक एंकियोलिटिक के रूप में कार्य कर चिंता और घबराहट को कम करती है और साथ ही, यह दवा व्यक्ति की सहनशक्ति में इजाफा करने का कार्य करती है।
  • हिमालया मेंटेट टैबलेट एक स्ट्रेस बस्टर है, जिससे दिमाग पर इस दवा का शांत प्रभाव पड़ता है। यह तंत्रिका संकेतों के चक्र में आई रुकावट को दूर कर अंगों के हलचल का अहसास दिलाती है।
  • हिमालया टेंटेक्स टैबलेट में शामिल अश्वगंधा, मूड स्विंग को स्थिर कर चिड़चिड़े स्वभाव को ठीक करने का कार्य करता है। इसके अतिरिक्त ट्राइबुलिनटॉप के स्तर को कम कर मानसिक शक्ति और आध्यात्मिक चेतना को बढ़ाने में सहायक है।

हिमालया मेंटेट टैबलेट के उपयोग व फायदे – Himalaya Mentat Tablet Uses & Benefits in Hindi

Himalaya Mentat Tablet को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है। किसी भी अवस्था में Himalaya Mentat Tablet का सेवन डॉक्टर से व्यक्तिगत सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए।

  • चिंता
  • तनाव
  • मानसिक थकान
  • भ्रम
  • एकग्रता में कमी
  • चिड़चिड़ापन
  • पार्किसंस रोग
  • अल्जाइमर
  • मिर्गी
  • दौरे पड़ना
  • सीखने की विकलांगता
  • आक्रामक व्यवहार
  • मनोभ्रंश
  • अवसाद
  • अनिद्रा
  • कमजोर याददाश्त

हिमालया मेंटेट टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Mentat Tablet Side Effects in Hindi

निम्न साइड एफ़ेक्ट्स Himalaya Mentat Tablet के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड एफ़ेक्ट्स Mentat Tablet से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड एफ़ेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Himalaya Mentat Tablet से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें।

  • सिरदर्द
  • शारीरिक अकड़न
  • अत्यधिक गर्मी
  • अरुचि

पढ़िये: लक्ष्मीविलास रस |  Brahma Rasayan in Hindi

हिमालया मेंटेट टैबलेट की खुराक – Himalaya Mentat Tablet Dosage in Hindi

  • हिमालया मेंटेट टैबलेट की खुराक पूरी तरह से रोगी की अवस्था पर निर्भर करती है। इसलिए विशेषज्ञ या डॉक्टर से निजी सलाह लेना जरूरी है।
  • हिमालया मेंटेट टैबलेट की खुराक बच्चों के लिए, प्रतिदिन सुबह-शाम एक टैबलेट लेने की सराहना की जाती है, क्योंकि यह खुराक बच्चों के लिए सुरक्षित साबित होती है।
  • हिमालया मेंटेट टैबलेट की खुराक एक आम वयस्क के लिए, प्रतिदिन दिन में दो बार दो गोलियां लेने की सलाह दी जाती है।
  • हिमालया मेंटेट टैबलेट की खुराक में बदलाव के लिए मेडिकल स्थिति का अध्ययन किया जाना आवश्यक है। सुविधानुसार इस दवा की खुराक में परिवर्तन करने से बचें।
  • इस दवा को रोजाना एक निश्चित समय और निश्चित अंतराल में लें, जिससे दवा का बेहतर प्रभाव स्पष्ट हो सकें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित हिमालया मेंटेट टैबलेट का सेवन जल्द करें। अगली खुराक हिमालया मेंटेट टैबलेट की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Himalaya Mentat Tablet Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Himalaya Mentat Tablet के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Himalaya Mentat Tablet से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Himalaya Mentat Tablet की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • गर्भावस्था

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Himalaya Mentat Tablet की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: हिमालया तगारा कैप्सूल | Pushpadhanwa Ras in Hindi 

Himalaya Mentat Tablet FAQ in Hindi

1) क्या Himalaya Mentat Tablet बोली में तुतलाहट को ठीक कर सकती है?

उत्तर: हाँ, Himalaya Mentat Tablet बोलने में अटकने या तुतलाने की समस्या को ठीक कर सकती है, क्योंकि घबराहट के चलते ऐसा हो सकता है। लेकिन इस अवस्था में सिर्फ Himalaya Mentat Tablet पर निर्भर ना रहकर, चिकित्सक की सहायता लें।

2) क्या Himalaya Mentat Tablet यौन क्रिया में सुधार कर सकती है?

उत्तर: तनाव और मानसिक बीमारी के चलते यौन क्रिया (संभोग) के प्रति आक्रोश बढ़ सकता है। इस दवा में मौजूद अश्वगंधा, गिलोय और कपिकच्छु जैसे तत्व कामेच्छा को बढ़ाने और यौन क्रिया को सफल बनाने में सहायक होते है। यह दवा यकीनन यौन क्रिया में सुधार कर सकती है, अगर इसका उपयोग सही तरीके से डॉक्टरी सलाह के अनुरूप किया जाएं।

3) क्या Himalaya Mentat Tablet गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: ज्यादातर मामलों में, गर्भवती महिलाओं को इस दवा से दूर रहने को कहा जाता है। इसका कारण है, कि इस दवा के दुष्प्रभाव से गर्भवती महिलाओं में भ्रम की स्थिति पैदा हो सकती है और डिलीवरी में दिक्कत हो सकती है। इस विषय में डॉक्टरी हस्तक्षेप ज्यादा आवश्यक हो सकता है।

4) क्या Himalaya Mentat Tablet स्तनपान कराने वाली महिलाओं में सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा के कुछ गर्म हर्बल घटक दुग्धपान कराने वाली महिलाओं में समस्या का कारण बन सकते है। स्तनपान कराने वाली महिलाओं को मानसिक रूप से तैयार करने हेतु इस दवा को काम में लिया जा सकता है, लेकिन डॉक्टर की अनुमति का भी पूरा ख्याल करें।

5) क्या Himalaya Mentat Tablet मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: मानसिक अस्थिरता की वजह से भी महिलाओं में हार्मोन परिवर्तन हो सकते है, जिससे मासिक धर्म चक्र पर असर पड़ सकता है। हालांकि यह दवा मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है या नहीं, इसकी प्रत्यक्ष जानकारी अपने निजी मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक द्वारा प्राप्त करना ज्यादा उचित है।

6) क्या Himalaya Mentat Tablet एल्कोहोल के साथ उचित है?

उत्तर: नहीं, इस दवा को एल्कोहोल के साथ लेना कभी-भी उचित नहीं हो सकता है। यह दवा मानसिक हालातों को सुधारने का काम करती है। इसके विपरीत, एल्कोहोल मस्तिष्क पर असर कर सोचने, समझने, बोलने या अन्य क्रियाओं को बिगाड़ सकता है। इस दवा को एल्कोहोल के साथ हमेशा नजरअंदाज किया जाना बेहतर विकल्प है।

7) क्या Himalaya Mentat Tablet की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: नहीं, इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग करने की अनुमति नहीं दी जाती है, क्योंकि मानसिक लक्षणों की अधिकता में ड्राइविंग करना दुर्घटना का संकेत हो सकता है।

8) क्या Himalaya Mentat Tablet एक नशेदार उत्पाद है?

उत्तर: नहीं, यह एक नशेदार उत्पाद नहीं है। नशे की आदत लगने के लिए किसी दवा में नशेदार गुण भी शामिल होने चाहिए। इस दवा में प्रयोग किये जाने वाले सभी यौगिक पूर्णतया हर्बल और नशामुक्त है।

9) Himalaya Mentat Tablet को असर दिखाने में कितना समय लगता है?

उत्तर: जितनी बड़ी या पुरानी बीमारी होगी, दवा को असर दिखाने में उतना ज्यादा समय लगेगा। यह एलोपैथिक दवाओं की तुलना में थोड़ी कम प्रभावी है, लेकिन बीमारी का जड़ से इलाज करती है। आमतौर पर, इस दवा की खुराक शुरू करने के कुछ हफ़्तों में इसका असर दिखना शुरू हो जाता है। इसे 3 महीनों तक चालू रखने पर बेहद अच्छा परिणाम प्राप्त हो सकता है।

10) क्या Himalaya Mentat Tablet भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: Himalaya Mentat Tablet को भोजन के बाद लेने की सलाह दी जाती है, ताकि दवा का अवशोषण अच्छे से हो सकें।

11) क्या Himalaya Mentat Tablet भारत में लीगल दवा है?

उत्तर: हाँ, यह दवा भारत में पूर्णतया लीगल है और आसानी से हर मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध है।

पढ़िये: हिमालया सिस्टोन टैबलेट | Trikatu Churna in Hindi

Editorial Team

रवि कुमावत हेल्थ पर लेख लिखते है। शिक्षा अनुसार रवि फर्मासिस्ट है और इन्हें किताबे पढ़ने और क्रिकेट में रुचि है। पिछले कुछ सालों से रवि ने स्वास्थ्य और इससे जुड़े उत्पादों पर लिखकर अपनी अहम भूमिका दी है।