हेमपुष्पा: उपयोग, फायदे, नुक्सान, कैसे ले | Hempushpa in Hindi

hempushpa-in-hindi

इस लेख मे आपको हेमपुष्पा की जानकारी (Hempushpa syrup in Hindi) मिलेगी, जो महिलाओ के लिए ओषधीय टॉनिक है। हेमपुष्पा, सच्ची सहेली, सुंदरी सखी महिलाओ के मुश्किल दिनो (Periods) मे होने वाली तकलीफ को कम करते है।

इस लेख मे हम हेमपुष्पा के फायदे, उपयोग, नुक्सान, दुष्प्रभाव, ख़ुराक, संरचना व कीमत के बारे मे जानेंगे। Hempushpa benefits, uses, side effects, dosage, composition & price in hindi.

What is Hempushpa in Hindi? – हेमपुष्पा क्या है?

हेमपुष्पा एक आधुनिक तकनीक से बनाई हुई आयुर्वेदिक औषधि हैं, जो केवल महिलाओं के लिए बनाई गई हैं।

हेमपुष्पा खून की अनियमितता, असमय होना, बेचैनी, चिड़चिड़ापन, शारीरिक कमजोरी, दर्द से पेट मे सुई चुभना, थकान होना, वजन कम होना आदि सभी मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं का समाधान करता है।

यह महिलाओं को स्वस्थ बनाकर चुस्ती एवं ताजगी प्रदान करने, रक्त साफ करने और सौन्दर्य निखारने में सहायक हैं। साथ ही महिलाओं में इन मुश्किल दिनों में हॉर्मोन अंसतुलन होता हैं, जिसकी वजह से मुँह पर पिंपल और बाल उगते हैं, इन सभी समस्याओं को दूर करने में भी कारगार है।

पढ़िये:

Hempushpa Composition in Hindi – हेमपुष्पा की संरचना

हेमपुष्पा आयुर्वेदिक पदार्थ से मिलाकर बनाया जाता है। इसमे निम्न प्रमुख घटक है।

  • लोधरा,
  • मंजिष्ठा,
  • अनंतमूल,
  • बाला,
  • गोखरू,
  • शंखपुष्पी,
  • मुसली,
  • पुनर्नवा,
  • अश्वगंधा,
  • बच,
  • धईफुल
  • दारूहल्दी,
  • गंभारी,
  • नागरमोठा,
  • शतावरी

Hempushpa Benefits in Hindi – हेमपुष्पा के फायदे

हेमपुष्पा के जरूरत अनुसार उपयोग करने पर निम्न फायदे होते है।

  • Periods के दौरान ज्यादा खून बहने की स्थिति में Anemia रोग होता हैं, जिसे हेमपुष्पा द्वारा दूर किया जा सकता हैं
  • हेमपुष्पा महिला हार्मोन (Astrogen & Projestron) का सामान्य अनुपात बनाये रखने में सहायक है।
  • मुँह पर मुँहासे और बाल उगना, बाल झड़ना आदि समस्याओं को रोकने में मदद करता हैं।
  • हेमपुष्पा मूत्र विसंगतियों को दूर करता हैं।
  • हेमपुष्पा Periods मे नियमितता लाने मे मदद करता हैं।
  • हेमपुष्पा अत्यधिक पेट दर्द, बेचैनी, चिड़चिड़ापन आदि समस्याओं का निवारण करता हैं।
  • गर्भाशय संबंधित हर समस्याओं को दूर करता हैं।
  • Periods से आयी कमजोरी, थकावट, तनाव आदि सबको दूर करता हैं।
  • कमजोरी दूर कर वजन को बढ़ाता हैं।
  • भुख लगाने में मदद करता हैं
  • प्रजनन और प्रजनन स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है
  • स्तनों में दुग्ध स्तर को बढ़ाता हैं।
  • Periods में खून (Bleeding) को ज्यादा बहने से रोकता हैं।
  • पाचन तंत्र को मजबूत करता हैं।

Hempushpa Side Effects in Hindi – हेमपुष्पा के दुष्प्रभाव

यह दवा पूरी तरह से महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रख के बनाई गई है। क्योंकि पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा बीमारियों के लक्षण होते हैं।

यह एक पूरी तरह से प्राकृतिक और लाभदायक दवा हैं, जिसके साइड इफेक्ट ना के बराबर हैं।

  • परन्तु इसके ज्यादा सेवन से शरीर का वजन ज्यादा बढ़ सकता हैं। क्योंकि इसमें कुछ ऐसे Diuretics (ये Diuresis क्रिया को प्रोमोट करते है) होते हैं, जो शरीर में पानी को एकत्रित कर वजन बढ़ाने का काम करते हैं।
  • कभी कभी ज्यादा दर्द से आराम दिलवाने के लिए यह दवा आँखों को भारी कर नींद लाने का काम करती हैं, इसलिए यह भी इसका एक साइड इफेक्ट हैं।
  • अत्यंत दुष्प्रभाव दिखने पर ख़ुराक ना लेकर, जल्द से जल्द चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

Hempushpa Uses in Hindi – हेमपुष्पा के उपयोग

महिलाओं मे मासिक धर्म (Periods) से जुड़ी हर समस्या को दूर करने में इसका उपयोग किया जाता हैं। जैसे

  • चक्कर आना
  • चेहरे पर मुँहासे
  • अनावश्यक बालों में
  • हार्मोन असंतुलन
  • दर्द के कारण सांस लेने में दिक्कत
  • Pubic (मादा जनन अंग) क्षेत्र में सूजन, जलन आदि
  • ज्यादा सफ़ेद पानी में
  • शीघ्रपतन में
  • स्टेमिना की कमी में
  • मानसिक थकान में
  • यौन रोगों में
  • खूनी की कमी में

पढ़िये:

Hempushpa Dosage in Hindi – हेमपुष्पा की खुराक

हेमपुष्पा की खुराक कई हद तक उम्र व अवस्था पर निर्भर करती है। इसलिए अवस्था अनुसार किसी विशेषज्ञ या चिकत्सक की सलाह ले सकते है।

  • हेमपुष्पा की सामान्य आयु वाली महिला के लिए सुरक्षित खुराक दिन में 14 ml हैं। इससे ज्यादा खुराक के लिए अपने मासिक धर्म से जुड़े चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।
  • इस दवा का सेवन दिन के दो बार सुबह शाम खाना खाने के बाद 7-7 ml करना चाहिए।
  • कम उम्र की लड़कियों में इसकी खुराक को कम की जा सकती हैं, क्योंकि कम उम्र में ज्यादा खुराक से आगे जिंदगी में माँ बनने में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। इसलिए विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

Hemapushpa Price

हेमपुष्पा टॉनिक के 170 ml बॉटल की कीमत 254 रुपये है। जिसके साथ 24 हेम-टैब भी मिलती है। इसे आप ऑनलाइन या लोकल मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है।

Hempushpa FAQ in Hindi

1) क्या गर्भवती महिला के लिए हेमपुष्पा का सेवन सुरक्षित हैं?

उत्तर: गर्भवती महिलाओं में Periods नहीं आते है। लेकिन हार्मोन स्त्राव से कमजोरी जरूरी रहती हैं। कमजोरी दूर करने में हेमपुष्पा एक लाभदायक दवा हैं। इसलिए इसका सेवन गर्भवती महिला के लिए फायदेमंद हैं। लेकिन पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए और इसकी खुराक के बारे में भी अवश्य जानकारी लेनी चाहिए।

2) क्या हेमपुष्पा पाचन तंत्र को ठीक करने में सहायक हैं?

उत्तर: हेमपुष्पा का उपयोग महिलाएं वजन बढ़ाने में भी करती है। क्योंकि यह पेट में पाचन के लिए स्त्रावित होने वाले सभी एंजाइमों को पूरी तरह नियंत्रित करता हैं। जिससे भोजन का पाचन आसानी से हो जाता हैं और पाचन तंत्र मजबूत हो जाता हैं।

3) क्या हेमपुष्पा हर तरह के दर्द को कम करती हैं?

उत्तर: चूँकि हेमपुष्पा मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द को कम करती हैं, ना कि बाहरी दर्द को, जो किसी दुर्घटना में हो। इसलिए हेमपुष्पा हर तरह के दर्द को कम नहीं करती हैं।

4) क्या हेमपुष्पा का सेवन भोजन करने से पहले किया जा सकता हैं?

उत्तर: पेट दर्द को कम करने के लिए सबसे पहले पेट में कुछ भोजन होना चाहिए। क्योंकि इस दवा के तत्व भोजन पर ज्यादा सक्रिय होते हैं। इसलिए इस दवा का सेवन हमेशा भोजन करने के बाद करना चाहिए। खाली पेट सेवन से समस्या कम होने के बजाय बढ़ सकती हैं।

5) क्या भारत में Hempushpa Legal (संवैधानिक) हैं?

उत्तर: हाँ,भारत में Hempushpa पूर्णतया Legal हैं।

6) क्या हेमपुष्पा का उपयोग मानसिक तनाव या विकार को दूर करने में किया जा सकता हैं?

उत्तर: हेमपुष्पा मासिक धर्म से संबंधित आए मानसिक तनाव, कमजोरी को दूर करने में सहायक हैं। लेकिन इसका ये मतलब नहीं है, कि यह दवा हर तरह के मानसिक विकार को दूर करें।

7) क्या हेमपुष्पा का सेवन पूरे महीने तक किया जा सकता हैं?

उत्तर: हाँ, जिन महिलाओं को वजन बढ़ाने की जरूरत होती हैं, वो इसका सेवन पूरे महीने तक कर सकती हैं। परंतु इस दवा का मुख्य काम मासिक धर्म से सम्बन्धित हैं, ना कि वजन बढाने में। इसलिए इसका ज्यादा सेवन हानिकारक हैं। इस विषय में डॉक्टरी सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

पढ़िये:

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है, कि यह लेख “हेमपुष्पा: उपयोग, फायदे, नुक्सान, कैसे ले | Hempushpa in Hindi” आपके लिए उपयोगी होगा।

इसके साथ आपको Hempushpa Syrup उपयोग, प्रयोग, फ़ायदे, नुक्सान, Side Effects, ख़ुराक, कब ले, कैसे ले, कितना ले की पूरी जानकारी मिल गयी होगी। अगर आपका कोई सुझाव या सवाल है, तो कमेंट कर सकते है।

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी?
[Total: 0 Average: 0]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *