patanjali-giloy-ghanvati-in-hindi

गिलोय घनवटी के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी, उपयोग | Giloy Ghanvati in Hindi

गिलोय घनवटी क्या है? – Giloy Ghanvati in Hindi

गिलोय घनवटी एक आयुर्वेदिक उत्पाद है, जिसका उपयोग लगभग हर प्रकार के ज्वर, संक्रमण से लड़ने एवं प्रतोरोधक क्षमता बढ़ाने में होता है।गि लोय घनवटी कोई दवाई नहीं है, ये बस एक आयुर्वेदिक खाद्य पदार्थ (गिलोय) है। पतंजलि आयुर्वेद व डाबर अब एक बड़े स्तर पर गिलोय के उत्पाद को बेच रहे है। 

गिलोय की आयुर्वेद में बहुत बड़ी भूमिका है। गिलोय को दिमाग, तांत्रिका तंत्र, स्मृति के लिए बहुत असरदार टॉनिक माना जाता है। इसके साथ-साथ गिलोय पाचन तंत्र, प्रतिरोधक क्षमता को काफी बेहतर करता है।

पतंजलि गिलोय घनवटी का मुख्य घटक सिर्फ गिलोय (Tinospora cordifolia) है।

गिलोय घनवटी काम कैसे करती है?

आयुर्वेद के अनुसार, गिलोय घनवटी कफ दोषो को कम करता है, वात दोषो को शांत करता है और पित्त दोषो को कम करता है। जिससे सारे दोष नियंत्रण में रहते है और शरीर स्वस्थ रहता है। गिलोय अपच भोजन, जो शरीर में जहर बनाते है, का शमन/ठंडा करता है। जिससे पेट की हर समस्या से आप बचे रहते हो।

आयुर्वेद अनुसार हर प्रकार की बीमारी/शारीरिक समस्या (छिक से लेकर कैंसर जैसी बीमारियो तक) का कारण वात, पित और कफ का शरीर में संतुलन बिगड़ना होता है। अगर किसी तरह से भी वात, पित और कफ को सन्तुलित रखा जाए , तो हर तरह की शारीरिक या मानसिक समस्या से निजात पाया जा सकता है।

पढ़िये: दिव्य यौवनमृत वटी के फायदे | Patanjali Divya Medha Vati in Hindi 

गिलोय घनवटी के फायदे – Giloy Ghanvati Benefits in Hindi

गिलोय घनवटी के रोजाना लगातार सही तरीके से उपयोग के निम्नलिखित फायदे है।

  • गिलोय घनवटी का प्रयोग कोई भी कर सकते है। गिलोय घनवटी हर उम्र के व्यक्ति के स्वास्थ को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • हर प्रकार के ज्वर और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।
  •  गिलोय घनवती शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।
  •  गिलोय घनवटी दिमाग, तांत्रिका तंत्र, स्मृति के लिए बहुत असरदार टॉनिक है।
  •  गिलोय घनवती पाचन को अच्छा रखता है।
  •  यह शरीर की कमजोरी को दूर करता है।
  • गिलोय घनवती भूख न लगने की समस्या एवं अच्छे Cholestrol को बढ़ाने में फायदेमंद है।
  •  गिलोय घनवटी शरीर से जमे टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकलने में बहुत असरदार है। जिस कारण गिलोय घनवटी रक्त और हृदय के लिए फायदेमंद है।

पढ़िये: नीरी KFT सिरप के फायदे | Chandraprabha Vati in Hindi 

गिलोय घनवटी के दुष्प्रभाव – Giloy Ghanvati Side Effects in Hindi

पतंजलि गिलोय घनवटी के कोई लिखित दुष्प्रभाव नहीं है, क्योकि यह आयुर्वेदिक उत्पाद है। लेकिन इसके अत्यंत सेवन या शरीर की भिन्न प्रतिक्रिया से कब्ज का खतरा रहता है।

अगर इसे अत्यंत दुष्प्रभाव दिखे, तो खुराक ना लेकर डॉक्टर की सहायता लेनी चाहिए।

गिलोय घनवटी की खुराक – Giloy Ghanvati Dosage in Hindi

गिलोय घनवटी की खुराक व्यक्ति की उम्र, अवस्था व जरूरत पर निर्भर करती है। इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर या किसी विशेषज्ञ से सलाह ले।

आमतौर पर 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चो को इसकी 1 टैबलेट ही दिन मे दो समय देनी चाहिए। वयस्क दिन मे 2 टैबलेट सुबह-शाम ले सकते है।

पढ़िये: रसायन वटी के फायदे | Nutrigain in Hindi

Giloy Ghanvati FAQ in Hindi

निम्नलिखित कुछ सवाल व उनके जवाब है, जो आमतौर पर गिलोय घनवटी के बारे में पूछे जाते है।

1) क्या गिलोय घनवटी को चिरायता (Swertia) के साथ लिया जा सकता है?

उत्तर: हाँ, गिलोय घनवटी को चिरायता के साथ बिना किसी दुष्प्रभाव के डर से लिया जा सकता है। इन दोनों का एक उपयोग बहुत फायदेमंद होता है।

2) क्या गिलोय घनवटी चर्बी घटाने और वजन कम करने में मदद करता है?

उत्तर: हाँ, गिलोय घनवटी आपका मेटाबोलिज्म (शरीर में हो रहे रिएक्शन्स का दर ) को सामान्य करता है एवं शरीर से जहर और जमा हुए चर्बी को हटाता है। जिससे आपको आपका संतुलित वजन पाने में मदद करता है।

3) क्या गिलोय घनवटी को खाली पेट लिया जा सकता है?

उत्तर: हाँ, इसे खाली पेट ले सकते है।

4) क्या गिलोय घनवटी, Rheumatoid Arthritis (gathiya) को ठीक करने में मदद करता है?

उत्तर: हाँ, उसके लिए 2 गोली गिलोय घनवटी की और १ ग्राम सौंठ के साथ दिन में 2 बार ले।

5) क्या टाइफाइड में गिलोय घनवटी का उपयोग हो सकता है?

उत्तर: हाँ, लेकिन इसके साथ अपनी दवाई और इलाज जारी रखिये। Typhoid में शरीर में कमजोरी होना, भूख कम हो जाना जैसी समस्याओ में गिलोय घनवटी बेहतर काम करता है।

6) क्या गिलोय घनवटी 2 महीने तक के बच्चो को दिया जा सकता है?

उत्तर: इस स्तिथि में डॉक्टर से संपर्क करना उचित होगा।

7) क्या गिलोय घनवटी का सर्जरी के बाद एंटीबायोटिक के तौर पर प्रयोग किया जा सकता है?

उत्तर: नहीं, आप दवाई को न छोड़े। आप दवाइयों के साथ गिलोय घनवटी का उपयोग कर सकते है।

8) क्या गिलोय घनवटी प्रतिरोधक क्मता बढ़ाता है?

उत्तर: हाँ, गिलोय घनवटी पूरी प्रतिरोधक प्रणाली को बहुत अच्छे तरीके से मजबूत करता है।

9) क्या गिलोय घनवटी कमजोरी, ज्वर और संक्रमण में मददगार है?

उत्तर: हाँ, गिलोय घनवटी कमजोरी, ज्वर और संक्रमण में मददगार है।

10) क्या गिलोय घनवटी शरीर में WBC का स्तर घटा देता है ?

उत्तर: नहीं, गिलोय घनवटी WBC का स्तर घटाता नही है, बल्कि सामन्य करता है। गिलोय संक्रमण से दो तरीको से लड़ता है. Antimicrobial व Immunomodulatory प्रभाव से।

11) क्या गिलोय घनवटी का उपयोग UTI E. Coil संक्रमण में किया जा सकता है?

उत्तर: गिलोय न्युट्रोफिल के Intracellular जीवाणुनाशक और Phagocytic क्षमताओं में सुधार करता है, जो इस बैक्टीरिया के विकास को कम करने में मदद करता है। अन्य दवाओं जैसे चंद्रप्रभा वटी और चंदनादि वटी के साथ संक्रमण को खत्म करने में मदद करता है।

12) क्या प्लेटलेट की संख्या बढ़ाने में गिलोय घनवटी उपयोगी हो सकता है?

उत्तर: हाँ, लेकिन आम तौर पर, यह सबसे अच्छे परिणाम के लिए Carica Papaya पत्ती के साथ देता है।

पढ़िये: मूसली पाक के फायदे | Divya Medohar Vati in Hindi 

1 thought on “गिलोय घनवटी के फायदे, नुकसान, खुराक, सावधानी, उपयोग | Giloy Ghanvati in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *