10 बेहतर दिमाग के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट

brain acupressure points in hindi

इस लेख में हम दिमाग से जुड़े Acupressure Points पर बात करेंगे। शरीर का सबसे रोचक अंग दिमाग होता है और इससे जुड़ी बहुत-सी छोटी-बड़ी बीमारियाँ लोगों को होती है। जैसे तनाव, डिप्रेशन, दौरे पड़ना आदि।

एक्यूप्रेशर के माध्यम से इन मस्तिष्क से जुड़े विकारों से बिना कोई केमिकल दवा लिए पूरी तरह छुटकारा पा सकते है, बल्कि होने वाली बीमारियों से बच भी सकते है।

अलग-अलग मस्तिष्क एक्यूप्रेशर बिन्दु अलग-अलग बीमारियों से छुटकारा दिलाते है, हमें सिर्फ प्रतिदिन थोड़ा सा इन पॉइंट्स पर काम करना होता है।

10 बेहतर दिमाग के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट

Chinese Acupressure (चीनी एक्यूप्रेशर) के मुताबित हमारे शरीर में ऐसे बहुत सारे बिंदु हैं, जिनपर मसाज या 2-3 मिनट दबाने और छोड़ने से दिमाग के कार्यास्तर की गुणवक्ता में वृद्ध, यादाश्त बेहतर और कभी-कभी तो गंभीर मानसिक समस्याओं से भी निजात पाया जा सकता है। 

अगर किसी विशेष बिंदु पर दबाने से आपको दर्द का अनुभव हो, तो इसका मतलब उस बिंदु के मेरिडियन (Meridian) से जुड़े जो अंग होंगे, उनमें कुछ दिक्कत है या होने वाली है।

मतलब कोई भी बिंदु दबाकर ये जान सकते है, की उसके किसी अंग में गड़बड़ी हो सकती है या है। 

नीचे 10 एक्यूप्रेशर पॉइंट, उनके शरीर पर स्थान और उनपर दबाने से दिमाग से जुड़े फायदो के बारे में दिया गया है।

1) Sun Point

स्थान: 

दोनों आंखों के किनारे से 1.5 इंच की दूरी पर होते है। इस बिंदु पर थोड़ा-सा गढ़ा महसूस हो सकता है।

महत्व: 

इस बिंदु पर नियमित 2-3 मिनट दबाने-छोड़ने से या कुछ देर मसाज करने से एकाग्रता, यादाश्त में वृद्धि होती है। 

इस बिंदु का अन्य फायदा यह है, कि इस बिन्दु से आपको सरदर्द से छुटकारा पाना और सर चकराने जैसी स्थिती में सुधार देखने को मिल सकता है।

2) तीसरी आँख की बिंदु 

स्थान: 

ये बिंदु दोनों भौहों (Eyebrow) के ठीक मध्य में होता है। जहाँ पर कपाल का अंत और नाक की शुरुआत होती है। यहां आपको गढ़ा महसूस हो सकता है।

महत्व: 

ये बिंदु तनाव, अवसाद से तुरंत छुटकारा दिलाने में कारगर है। नियमित तौर पर इस बिंदु पर दबाने से दिमाग काफी शांत रहता है। इसके अलावा यादाश्त बढ़ाने में भी काफी कारगर है। 

पढ़िये:

3) One Hundred Meeting Point

स्थान: 

ये बिंदु सर (जो भाग बालों से पूरी तरह ढँका रहता है) के ठीक मध्य में होती है। 

महत्व: 

इस बिंदु पर दबाने-छोड़ने या मसाज करने से दिमाग शांत होता है, ताजगी का अनुभव होता है और आराम मिलता है। इसके साथ, यहाँ पर नियमित दबाने से इंसान को अपने भावनाओ पर ज्यादा अच्छा नियंत्रण आता है।

4) GB-20 

स्थान: 

ये बिंदु आपके गर्दन (पीछे वाले हिस्से की) के शुरुआत और खोपड़ी के अंत वाले बिंदु, के एक अंगुली दाँये और बाँये तरफ होते है। 

महत्व:

इस बिंदु को चेतना का दरवाजा भी कहा जाता है। इस बिंदु पर दबाने से सरदर्द से आराम मिलता है, यादाश्त और सीखने की क्षमता में भी इजाफा होता है। इसके अलावा इस बिंदु पर दबाने-छोड़ने से जोड़ो के दर्द से भी राहत मिलती है।  

5) GV 26

स्थान: 

इस बिंदु को Lip-Point भी बोला जाता है। GV 26 बिंदु का स्थान नाक और ऊपरी होठ के बीच में जो जगह होती है, उसके ठीक मध्य में होता है। 

महत्व: 

इस बिंदु पर 2-3 मिनट दबाने- छोड़ने से एकाग्रता, जागरूकता और यादाश्त में बढ़ोतरी होती है। इसके साथ मानसिक थकान, सर चकराने , ऐठन जैसी समस्याओं में भी आराम मिलता है।

इस बिंदु का उपयोग आप तुरंत एकाग्रता वापस लेने के लिए कर सकते है, अगर पढ़ते-पढ़ते या कोई दूसरा काम करते हुए आपका ध्यान नही लग रहा, तो इस एक्यूप्रेशर पॉइंट पर काम करें।

इसके अलावा ये बिंदु ऊर्जा के स्तर में भी वृद्धि करता है। अगर आपको कोई काम करने में आलस महसूस हो रहा हो, तो आप इस बिंदु को दबा सकते है।

6) CV 17 

स्थान: 

CV 17 बिंदु का स्थान छाती के ठीक मध्य में, जो रेखा होती है, उसके सबसे निचले भाग से 2-3 उंगली ऊपर होती है। उस बिंदु पर आपको उभार देखने को मिल सकता है। 

महत्व: 

इस बिंदु पर दबाने से चिंता, बैचैनी, अनिद्रा से लड़ने की ताकत मिलती है। अगर नियमित तौर पर दबाया जाए, तो अनुशासित दिनचर्या जीने में सहायता मिलती है।

इसके अलावा ये बिंदु भावनात्मक अस्थिरता को भी दूर करता है। इससे आपको जीवन में स्पष्ट सोचने और ज्यादा अच्छे से विचारो को नियंत्रित करने की शक्ति मिलती है। 

7) BL 10

स्थान: 

BL 10 बिंदु का स्थान जानने के लिए, आप कान के सबसे निचले भाग को पकड़िए और वहां से काल्पनिक सीधी रेखा सर के पीछे के तरफ से दूसरे कान तक खीचिए। उस रेखा के मध्य के 1 इंच बांये और दांये तरफ BL 10 बिन्दु होता है। 

महत्व: 

BL 10 गले की समस्या, सर चकराना, सरदर्द, गर्दन और कंधे दुखने जैसी समस्या से निजात पाने में मदद करती है। 

8) ST 36

स्थान: 

ST 36 घुटने के नीचे होती है। घुटने के शुरुआत से एड़ी तक, जो हड्डी होती है, उसके सबसे ऊपरी भाग से 2 सेंटीमिटर नीचे आकर 1 दाये तरफ में ST 36 होती है। ये जगह ढूंढना थोड़ा जटिल होता है। आप किसी एक्यूप्रेशर विशेषज्ञ के मदद से ठीक ST 36 बिंदु को जान सकते है।

महत्व: 

ये बिंदु पर 5 मिनट दबाने- छोड़ने से शरीर की ऊर्जा का स्तर बढ़ता है, शरीर का दर्द कम होता है, मन शांत होता है। 

पढ़िये:

9) LV 1

स्थान:

LV 1 दोनों पैरों के अंगूठे के ऊपरी भाग (जो नाखून से ढँका होता है) ठीक नीचे होता है। 

महत्व: 

दांये पैर का बिंदु बांये मस्तिष्क के भाग को और बांया पैर का बिंदु मस्तिष्क के दांये भाग को नियंत्रित और प्रभावित करता है। अगर नियमित तौर पर दोनों बिंदुओं को दबाया जाए या उनपर मसाज किया जाय, तो दिमाग अपने उच्चतम शक्ति पर काम करेगा और मस्तिष्क के बांया तथा दांया भाग हमेशा संतुलित रहेंगे। 

10) LV 3

स्थान: 

ये बिंदु पैर के अंगूठे और उसकी बगल वाली उगली के बीच में, जो जगह बचता है, उधर ही LV 3 बिंदु होती है। 

महत्व: 

ये बिंदु गुस्सा, सरदर्द , चिड़चिड़ापन,  मिर्गी, ब्रेन स्ट्रोक, ऊर्जा स्तर में कमी इत्यादि गंभीर परेशानियों के उपचार के लिए कारगर है। इसके अलावा ये बिंदु शरीर में रुधिर परिसंचरण ( Blood Circulation) को बेहतर करता है। ये बिंदु पेट, आँख और मूत्राशय रोगों के लिए भी बहुत आवश्यक है।

आखरी शब्द

हमें उम्मीद है, कि यह लेख “10 बेहतर दिमाग के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट” आपके लिए मददगार होगा और आपको दिमाग के एक्यूप्रेशर बिन्दुओं के बारे में जानकारी मिल गयी होगी। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो हमें कमेंट में बता सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *