Categories: Ayurveda

Himalaya Abana Tablet in Hindi: फायदे, नुकसान, खुराक, कीमत, सावधानी, उपयोग, साइड इफ़ेक्ट्स | हिमालया अबाना टैबलेट

नाम (Name)Himalaya Abana Tablet
संरचना (Composition)अर्जुन + गुग्गुल + शिलाजीत
निर्माता (Manufacturer)Himalaya Drug Company
दवा-प्रकार (Type of Drug)आयुर्वेदिक दवाई
उपयोग (Uses)हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई ट्राइग्लिसराइड्स, एथेरोस्क्लेरोसिस, हृदय संबंधी विकार आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)अत्यधिक गर्मी लगना, पेट में भारीपन, सिर दर्द आदि
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता, एलर्जी, गर्भावस्था
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
अन्य दवाई से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)125 रुपये (60 टैबलेट)

हिमालया अबाना टैबलेट क्या है? – What is Himalaya Abana Tablet in Hindi

हिमालया अबाना टैबलेट मामूली स्थितियों की तुलना में कुछ खास बड़ी स्वास्थ्य स्थितियों के लिए चुनी जाती है।

Advertisements

यह दवा विशेष रूप से हाई कोलेस्ट्रॉल एवं हाई ट्राइग्लिसराइड्स के इलाज हेतु इस्तेमाल में ली जाती है। यह दवा इन विषयों से जुड़े अन्य मुद्दों के उपचार में भी सहायक हो सकती है।

हिमालया अबाना टैबलेट हृदय की समस्याओं से जूझ रहें मरीजों के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

यह दवा हाइपरलिपिडिमिया (रक्त में उच्च लिपिड स्तर), डिस्लिपिडेमिया (रक्त में असामान्य लिपिड स्तर), सेरेब्रो-संवहनी रोगों और हृदय रोग (सीवीडी), हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया (उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर) जैसी समस्त जटिलताओं के लिए फायदेमंद हो सकती है।

अबाना टैबलेट शरीर में खराब माने जाने वाले LDL कोलेस्ट्रॉल को कम और अच्छे माने जाने वाले HDL कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाने का कार्य करती है।

यह एक OTC दवा है, जिसके लिए डॉक्टर की पर्ची जरूरी नहीं है। अतिसंवेदनशीलता और एलर्जी के मामलों में इस दवा को नजरअंदाज किया जाना ज्यादा उचित है।

हिमालया अबाना टैबलेट की संरचना – Himalaya Abana Tablet Composition in Hindi

निम्न घटक Himalaya Abana Tablet में मौजूद होते है।

अर्जुन + गुग्गुल + शिलाजीत

पढ़िये: सरस्वातरिष्ठा | Godanti Bhasma in Hindi 

Himalaya Abana Tablet कैसे काम करती है?

  • अर्जुन अनावश्यक फैट का नाश करने वाला यौगिक है। यह कोलेस्ट्रॉल और लिपिड के स्तर को सुनिश्चित करने में भी काम आता है। अर्जुन एक कार्डियोप्रोटेक्टिव एजेंट है, जो हृदय की दैनिक गतिविधियों को सुचारू रखने में मदद करता है।
  • गुग्गुल को हृदय और रक्त परिसंचरण तंत्र के लिए अमृत माना जाता है। गुग्गुल ब्लड शुगर और इन्सुलिन के उत्पादन पर नियंत्रण रखने वाला घटक है। गुग्गुल शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करता है, जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार होता है और ट्राइग्लिसराइड्स की उच्चता कम होने लगती है।
  • शिलाजीत का उपयोग सदियों से हृदय के बेहतर स्वास्थ्य हेतु किया जा रहा है। शिलाजीत दिल से जुड़ी परेशानियों को कम कर उच्च रक्तचाप का समाधान करने में सहायक है। शिलाजीत यौन प्रबंधन में भी काफी फायदेमंद होता है। शिलाजीत रक्त के प्रवाह को सामान्य बनायें रखने वाला एजेंट है।

हिमालया अबाना टैबलेट के उपयोग व फायदे – Himalaya Abana Tablet Uses & Benefits in Hindi

Himalaya Abana Tablet को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • हाई कोलेस्ट्रॉल
  • हाई ट्राइग्लिसराइड्स
  • एथेरोस्क्लेरोसिस
  • हृदय संबंधी विकार
  • हाइपरलिपिडिमिया
  • डिस्लिपिडेमिया
  • हाइपरटेंशन

हिमालया अबाना टैबलेट के दुष्प्रभाव – Himalaya Abana Tablet Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफ़ेक्ट्स Himalaya Abana Tablet के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड एफ़ेक्ट्स Himalaya Abana Tablet से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड एफ़ेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Himalaya Abana Tablet से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें।

  • अत्यधिक गर्मी लगना
  • पेट में भारीपन
  • सिर दर्द
  • व्यवहार में बदलाव

पढ़िये: महासुदर्शन चूर्ण | Talisadi Churna in Hindi

हिमालया अबाना टैबलेट की खुराक – Himalaya Abana Tablet Dosage in Hindi

  • अबाना टैबलेट की निजी खुराक हमेशा डॉक्टर या विशेषज्ञ को अपनी अवस्था बताकर लेनी चाहिए।
  • Himalaya Abana Tablet की एक आम वयस्क के लिए खुराक, रोजाना दिन में दो से तीन बार दो-दो गोलियां लेना सुरक्षित माना जाता है।
  • Himalaya Abana Tablet को हल्के गर्म पानी के साथ लेना ज्यादा सुविधाजनक है।
  • समय के अनुसार, इस दवा की खुराक से लाभ मिलने बाद खुराक को कम किया जा सकता है और एक समय पर, इसे आसानी से छोड़ा भी जा सकता है।
  • छोटे बच्चों में यह दवा हावी हो सकती है। इस विषय में उपयुक्त जानकारी के लिए, डॉक्टर का परामर्श लिया जा सकता है।
  • Himalaya Abana Tablet की खुराक में लापरवाही न करें। अपनी सुविधा अनुसार खुराक को कम या ज्यादा करने से बचें। इस दवा की खुराक को रोजाना एक निश्चित समय पर लेना का प्रयास करें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Himalaya Abana Tablet का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Himalaya Abana Tablet की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।

सावधानियां – Himalaya Abana Tablet Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Himalaya Abana Tablet के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Himalaya Abana Tablet से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Himalaya Abana Tablet की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • एलर्जी
  • गर्भावस्था

भोजन के साथ प्रतिक्रिया

Himalaya Abana Tablet की भोजन के साथ प्रतिक्रिया की जानकारी अज्ञात है।

पढ़िये: पंचसकार चूर्ण | Avipattikar Churna in Hindi 

Himalaya Abana Tablet FAQ in Hindi

1) क्या Himalaya Abana Tablet उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में सहायक हो सकती है?

उत्तर: कोलेस्ट्रोल की असामान्य वृद्धि के कारण हृदय की क्रिया पर प्रभाव पड़ता है, जिससे हृदय जोखिम ग्रस्त हो सकता है। उच्च रक्तचाप भी हृदय के लिए एक प्रकार का जोखिम ही है, जो शरीर को दवाईयों पर चलने हेतु मजबूर कर देता है। कोलेस्ट्रॉल से हृदय और हृदय से रक्त संचरण प्रक्रिया प्रभावित होती है। यह हर्बल दवा कोलेस्ट्रॉल और हृदय से जुड़ी शिकायतों को ठीक कर उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखने हेतु मददगार हो सकती है, लेकिन यह हल्के से मध्यम उच्च रक्तचाप पर ही प्रभावी है।

2) क्या Himalaya Abana Tablet मनोवैज्ञानिक विकारों में उपयोगी हो सकती है?

उत्तर: हृदय की कमजोरी सेंट्रल नर्वस सिस्टम (CNS) को भी कमजोर कर सकती है। यह दवा मस्तिष्क और अंगों में परस्पर मेल बनायें रखने का कार्य करती है, जिससे शारीरिक हलचल बनी रहें। यह दवा हृदय को मजबूत कर मानसिक विकारों जैसे तनाव, बैचेनी, कमजोरी, बेवजह चिंता, भ्रम, एकाग्रता में कमी आदि सभी के उपचार में सहायक हो सकती है।

3) क्या Himalaya Abana Tablet गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: गर्भवती महिलाओं में उच्च कोलेस्ट्रॉल और हाई ट्राइग्लिसराइड्स की समस्या होने पर डॉक्टरी सलाह की प्राथमिकता ज्यादा है। ऐसी अवस्था में, इस हर्बल दवा के व्यवहार की पर्याप्त सुरक्षित जानकारी का अभाव है, इसलिए इस दवा की खुराक शुरू करने हेतु अपने चिकित्सक का पूरा सहयोग लें।

4) क्या Himalaya Abana Tablet एल्कोहोल के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा को एल्कोहोल के साथ नजरअंदाज किया जाना एक ज्यादा बेहतर विकल्प है। वर्तमान उच्च कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप की स्थितियों के चलते एल्कोहोल और इस दवा के घटक मिलकर अन्य मुसीबतों को पैदा कर सकते है।

5) क्या Himalaya Abana Tablet मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: यह दवा मासिक धर्म चक्र की मुख्य क्रियाओं को प्रभावित नहीं करती है। लेकिन गलत इस्तेमाल से कुछ मामूली दुष्प्रभावों की दर बढ़ सकती है। फिलहाल इस बारें में कोई खास शोध न हो पाने के कारण, इस दवा को मासिक धर्म चक्र से जुड़े चिकित्सक की सलाह से ही लें।

6) Himalaya Abana Tablet को कैसे सुरक्षित रखा जा सकता है?

उत्तर: हिमालया की इन गोलियों को गर्मी और सीधी धूप से दूर कमरे के तापमान पर रखा जाना चाहिए। इस उत्पाद को फ्रिज में रखने की भूल न करें।

7) Himalaya Abana Tablet को कितने दिनों तक लेने की आवश्यकता पड़ सकती है?

उत्तर: हर किसी की मेडिकल स्थिति अलग होने के कारण, दवा का सही फायदा लेने के लिए अपने चिकित्सक की राय महत्वपूर्ण हो सकती है। आमतौर पर, इस दवा को 2 सप्ताहों या 1 महीने तक लगातार लेने की सलाह दी जाती है। मौजूदा स्थिति में सुधार के वक्त, इस दवा की खुराक को डॉक्टर की सहायता से बंद किया जा सकता है।

8) क्या Himalaya Abana Tablet भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: अमूमन ज्यादा प्रभावी दवाओं को भोजन के बाद लेने की सलाह दी जाती है। यह दवा के पास भी लक्षणों को शीघ्र ठीक करने की उपलब्धि हासिल है। भूखे पेट लेने से इसका असर पेट पर बुरा हो, इस बात की कोई जानकारी हासिल नहीं है। इसलिए इस दवा को सदैव भोजन के बाद ही लें।

9) क्या Himalaya Abana Tablet स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: इस विषय में जरूरी जानकारी का अभाव है। कोई खास रिसर्च न हो पाने से, इस दवा को स्तनपान के लिए दोष मानना गलत है। आत्म सुरक्षा के लिए, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपने डॉक्टर की मंजूरी के बाद ही इस दवा की तरह रुख करना चाहिए।

10) क्या Himalaya Abana Tablet एक नशेदार उत्पाद है?

उत्तर: Himalaya Abana Tablet से जुड़े उत्पाद को हिमालया जैसी ड्रग कंपनी निर्मित करती है, जो किसी भी प्रकार की नशेदार दवा के उत्पादन को प्रोत्साहित नहीं करती है। यह दवा हर्बल एजेंट से बनी है, जो शरीर के लिए पूर्णतया नशामुक्त है।

11) क्या Himalaya Abana Tablet की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग का सोचना थोड़ा असुरक्षित हो सकता है। उच्च रक्तचाप या अन्य गंभीर स्थितियों से दुर्घटना के आसार बढ़ सकते है। इसलिए इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग न करें और पूरी तरह शारीरिक आराम लें।

12) क्या Himalaya Abana Tablet भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह हर्बल दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: सितोपलादि चूर्ण | Yogendra Ras in Hindi 

Editorial Team

रवि कुमावत हेल्थ पर लेख लिखते है। शिक्षा अनुसार रवि फर्मासिस्ट है और इन्हें किताबे पढ़ने और क्रिकेट में रुचि है। पिछले कुछ सालों से रवि ने स्वास्थ्य और इससे जुड़े उत्पादों पर लिखकर अपनी अहम भूमिका दी है।