Chloasma Cream

Chloasma Cream के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि, सावधानी | क्लॉजमा क्रीम

Chloasma Cream क्या है?

क्लॉजमा क्रीम डॉक्टर द्वारा निर्धारित की जाने वाली आयुर्वेदिक घटकों से बनी एक रूप निखारक क्रीम है। यह क्रीम हमारी त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में मददगार होती है।

डार्क पिगमेंटेशन या पुराने निशानों से परेशान लोगों के लिए इस क्रीम का इस्तेमाल बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

यह केवल बाहरी त्वचा पर प्रयोग के लायक होती है और इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-माइक्रोबियल, एंटीसेप्टिक व साइटोप्रोटेक्टिव जैसे गुण शामिल होते है।

यह क्रीम स्टेरॉयड से पूर्णतया मुक्त होती है और विभिन्न प्रकार की त्वचा के अनुकूल ph प्रदान करती है।

हमारी त्वचा का उद्धार करने के साथ ही यह क्रीम समय से पहले बुढ़ापे को आने से भी रोक सकती है।

इसे Aadya Life Science Ltd द्वारा निर्मित किया जाता है, जिसके 30 ग्राम के एक पैक की कीमत 145 रुपये है।

क्लॉजमा क्रीम की संरचना – Composition in Hindi

इसकी 10 ग्राम की क्रीम में निम्नलिखित घटक बताई गई मात्रा में मौजूद होते है-

Aloe Vera 300mg + Wheat Germ Oil 200mg + Clove Oil 150mg + Jaiphal Tail 150mg + Neem Extract 100mg + Mulethi Extract 100mg + Haridra Tail 100mg + Khas Tail 75mg  + Lemon Oil 50mg + Tea Tree Oil 50mg + Papaya Extract 30mg + Pashanbhed Extract 30mg

पढ़िये: रूप सुंदर क्रीम | Oxylife Bleach in Hindi

क्लॉजमा क्रीम के उपयोग व फायदे – Benefits & Uses in Hindi

इस क्रीम से होने वाले फायदों की जानकारी नीचे सूचीबद्ध की गयी है। हर किसी में इस क्रीम से निम्नलिखित फायदें हो सकते है।

स्ट्रेच मार्क को मिटाने में सहायक

प्रसव के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क (त्वचा की खिंचाई से बने निशान) पर यह क्रीम अद्भुत परिणाम दे सकती है। टांकों के निशान को साफ कर यह क्रीम त्वचा को रिजनरेट करने में मददगार है।

हाइपरपिगमेंटेशन का उपचार

त्वचा का रंग सामान्य से गहरा होना, त्वचा पर झाई के निशान होना या मुँहासे के बाद दाग-धब्बे होना, ये सभी हाइपर पिगमेंटेशन के लक्षण होते है। यह क्रीम मेलानिन के उत्पादन को नियंत्रित कर इन सभी लक्षणों को ठीक करने में मदद करती है। बेदाग त्वचा के पीछे खूबसूरती का राज छिपा होता है।

काले धब्बे (डार्क सर्कल) को मिटाएं

मानसिक तनावों तथा प्रदूषण से गुजरती आज की लाइफ में त्वचा को सबसे ज्यादा मुश्किलें झेलनी पड़ती है। पूरी नींद न हो पाने से आँखों के नीचे बने डार्क सर्कल यानी काले धब्बों को फीका कर यह क्रीम चेहरे की चमक को निखारती है और चेहरे पर रौनक बिखेरती है।

असमान त्वचा रंग (Uneven Skin Tone) के मामलों में उपयोगी

एक ही क्षेत्र पर त्वचा के रंग में भेद होने से सुंदरता पर काफी प्रभाव पड़ता है। ऐसे मामलों में हताश लोग इस क्रीम के कुछ समय इस्तेमाल से एक जैसी त्वचा टोन प्राप्त कर सकते है।

पोषण प्रदान करने में मददगार

एक पोषण युक्त स्किन की झलक किसी का भी ध्यान आकर्षित कर सकती है। महिलाओं की त्वचा पुरुषों की तुलना में स्वाभाविक रूप से ज्यादा कोमल होती है। पोषण की कमी वाली त्वचा में यह क्रीम अंदर तक प्रवेश कर स्किन डैमेज को रिपेयर करती है। यह त्वचा की जीवंत शक्ति को बढ़ाने में भी मददगार साबित हो सकती है।

क्लॉजमा क्रीम के दुष्प्रभाव – Side Effects in Hindi

इस हर्बल क्रीम का इस्तेमाल हर किसी में सुरक्षित माना जाता है। लेकिन बेहद कम मामलों में इस क्रीम में मौजूद कुछ घटक त्वचा पर जलन पैदा कर सकते है, जो इसकी अति या एलर्जी के कारण हो सकता है। हालांकि इससे होने वाले दुष्प्रभाव बेहद अल्पकालिक होते है।

पढ़िये: जापानी तेल | Megalis 20 Tablet in Hindi

क्लॉजमा क्रीम की खुराक – Chloasma Cream Dosage in Hindi

खुराक विशेषज्ञ द्वारा Chloasma Cream की रोगी की अवस्था अनुसार दी जाती है। इसलिए Chloasma Cream का उपयोग विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद शुरू करें।

एक सामान्य वयस्क इस क्रीम को दिन में एक या दो बार इस्तेमाल कर सकता है। इसे चेहरे पर लगाने से पहले चेहरे को पानी से धोकर सुखा लें। इसे गीले चेहरे पर इस्तेमाल न करें।

बच्चों में त्वचा से जुड़ी ऐसी कोई समस्या होने पर इस क्रीम को बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह पर ही इस्तेमाल करें।

इसे नियमित कुछ समय तक इस्तेमाल करें। हालांकि इसकी सही उपचार अवधि की जानकारी अपने चिकित्सक से प्राप्त करें।

इस क्रीम की मात्रा को उंगलियों पर लेकर त्वचा पर सर्कुलर मोशन में लगायें। इससे ज्यादा मालिश न करें।

सावधानियां – Chloasma Cream Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Chloasma Cream के उपयोग से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Chloasma Cream से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, विशेषज्ञ को अवस्था बताकर ही Chloasma Cream की खुराक लें।

पढ़िये: डाज़ोन टैबलेट | Soliwax Ear Drops in Hindi

Chloasma Cream FAQ in Hindi

1) क्या Chloasma Cream गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: गर्भावस्था में इस क्रीम से कोई नुकसान होने पर इसे लगाना तुरंत बंद कर दें। इसे पुनः अपने चिकित्सक की मंजूरी के उपरांत ही शुरू करें।

2) क्या Chloasma Cream स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: यह क्रीम केवल बाहरी प्रयोग के लिए है, फिर भी इसे सावधानीपूर्वक इस्तेमाल करने की जरूरत होती है। स्तनपान कराने वाली महिलाओं में इस क्रीम का कैसा असर हो सकता है, इसकी जानकारी अपने चिकित्सक से लें।

3) क्या Chloasma Cream से आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस क्रीम से इसकी आदत नहीं लगती है। यह हमारी विवशता नहीं, बल्कि पसंद जरूर बन सकती है। इसे ज्यादा लंबे समय तक इस्तेमाल त्वचा से जुड़े डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

4) क्या Chloasma Cream झुर्रियों को दूर कर सकती है?

उत्तर: हाँ, समय से पहले या तनाव से होने वाली झुर्रियों को दूर करने में यह क्रीम फायदेमंद हो सकती है। हालांकि अधिक उम्र में होने वाली प्राकृतिक झुर्रियों को इस क्रीम द्वारा ठीक नहीं किया जा सकता है।

5) क्या Chloasma Cream को लगाने के बाद धूप में जा सकते है?

उत्तर: हाँ, इस क्रीम को लगाने के बाद धूप में जा सकते है। यह क्रीम सनस्क्रीम की भाँति भी कार्य करती है, जो पराबैंगनी किरणों स त्वचा की रक्षा कर सकती है।

6) क्या Chloasma Cream भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह क्रीम भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: मेक्सिरिच कैप्सूल | Looz Syrup in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अस्वीकरण

हम पूरी कोशिश करते है, कि इस साइट पर मौजूद जानकारी सही, पूरी व नवीनतम हो। लेकिन हम इसकी सटीकता की गारंटी नहीं लेते है। यह लेख सिर्फ जानकारी मात्र है और इसका उपयोग चिकित्सकीय परामर्श के विकल्प में उपयोग ना करें। किसी भी प्रकार की हानी होने पर, आप स्वयं जिम्मेदार होंगे।