Bt-36 कैप्सूल: फायदे, नुकसान, खुराक, कीमत, सावधानी, उपयोग, साइड इफ़ेक्ट्स | Bt-36 Capsule in Hindi

Bt-36 Capsule
नाम (Name)Bt-36 Capsule
संरचना (Composition)शतावरी + मुलेठी + सफेद जीरा + छोटी इलायची + विदारीकंद + गंभारी + दारुहरिद्रा
निर्माता (Manufacturer)Sat Jinda Kalyana Pharmacy
उपयोग (Uses)स्तनों का छोटा आकार, ढीलापन, खराब आकृति आदि
दुष्प्रभाव (Side Effects)बदबूदार पेशाब, सूजन, खुजली
ख़ुराक (Dosage)डॉक्टरी सलाह अनुसार
किसी अवस्था पर प्रभावअतिसंवेदनशीलता, गर्भावस्था
खाद्य पदार्थ से प्रतिक्रियाअज्ञात
कीमत (Price)110 रुपये (10 कैप्सुल)

Bt-36 कैप्सूल क्या है? – What is Bt-36 Capsule in Hindi

Bt-36 Capsule स्तनों के आकार से परेशान स्त्रियों को इस चिंता को मुक्त करने के लिए Sat Jinda Kalyana Pharmacy द्वारा निर्मित की गई एक फायदेमंद आयुर्वेदिक उपचार है।

Advertisements

इसे कुछ जगह पर Big Tits की भी संज्ञा दी जाती है, यानि बड़े स्तन।

इसके निर्माता अनुसार, यह दवा वक्षस्थल के समग्र विकास और वृद्धि को बढ़ावा देती है, जिससे स्तनों में स्वाभाविक उफान और कसाव आता है। लेकिन इसपर कोई ठोस रिसर्च मौजूद नहीं है।

Bt-36 Capsule को विशेषकर महिलाओं में ही चुना जाता है। Bt-36 Capsule स्त्रियों के स्तनों से जुड़ी हर समस्या जैसे ढीलापन, खराब शेप, छोटा आकार, लटकना आदि सभी का उचित इलाज कर सकती है, जिससे युवावस्था में नई सोच और आवश्यक आत्मविश्वास का सपना पूरा हो सकता है।

Bt-36 Capsule को हर महिला और 18 वर्ष तक की हर लड़की द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है, क्योंकि OTC वर्ग से होने के कारण इसे बिना डॉक्टरी पर्चे के आसानी से खरीदा जा सकता है।

इस उत्पाद को खरीदने से पहले यह जानना जरूरी है, कि इसके उपयोग के बाद बहुत कम लोग संतुष्ट हुए है। वही आधे से ज्यादा उपभोक्ता की प्रतिक्रिया नकारात्मक रही है।

Bt-36 कैप्सूल की संरचना – Bt-36 Capsule Composition in Hindi

निम्न घटक Bt-36 Capsule में होते है।

शतावरी + मुलेठी + सफेद जीरा + छोटी इलायची + विदारीकंद + गंभारी + दारुहरिद्रा

पढ़िये: हिमालय हिम्प्लासिया टैबलेट | Mychiro Tablet in Hindi

Bt-36 Capsule कैसे काम करती है?

Bt-36 Capsule छोटे स्तनों में मांस या चर्बी की कमी को पूरा कर स्तनों के स्वास्थ्य को बिना ठेस पहुचाएं उन्हें बढ़ाने का कार्य कर सकती है।

  • Bt-36 Capsule मृत कोशिकाओं को हटाकर जीवित कोशिकाओं में वृद्धि करने का कार्य करती है, यह कदम कहीं न कहीं ब्रेस्ट इनलार्जमेंट में मददगार हो सकता है।
  • यदि स्त्रियों में हार्मोन की कमी या असंतुलन की वजह से वक्षस्थल में शिकायतें है, तो ऐसे मामलों में भी, Bt-36 Capsule हार्मोन्स के साथ उचित व्यवहार कर फायदा दे सकती है।
  • Bt-36 Capsule एस्ट्रोजन के लेवल को बढ़ाकर कार्य करती है, जिससे वक्षस्थल का ढीलापन दूर हो सकता है। यह स्तनों को ऊपर उठाकर फिगर को जवां लुक देने में मदद कर सकती है।
  • Bt-36 Capsule मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को सुधारकर उनमें उत्तेजना पैदा करने का कार्य कर सकती है, ताकि स्तनों को बड़ा और सख्त बनाया जा सकें।

Bt-36 कैप्सूल के उपयोग व फायदे – Bt-36 Capsule Uses & Benefits in Hindi

Bt-36 Capsule को निम्न अवस्था व विकार में सलाह किया जाता है।

  • स्तनों का छोटा आकार
  • स्तनों में ढीलापन
  • खराब आकृति
  • स्तनों का लटकना

Bt-36 कैप्सूल के दुष्प्रभाव – Bt-36 Capsule Side Effects in Hindi

निम्न साइड इफेक्ट्स Bt-36 Capsule के कारण हो सकते है। आमतौर पर साइड इफेक्ट्स Bt-36 Capsule से शरीर की अलग प्रतिक्रिया व गलत खुराक से होते है और सबको एक जैसे साइड इफेक्ट्स नहीं होते है। अत्यंत Bt-36 Capsule से दुष्प्रभाव में डॉक्टर की सहायता लें।

  • बदबूदार पेशाब
  • सूजन
  • खुजली

पढ़िये: हमदर्द कुर्स जिरयान | Sudol Gel in Hindi

Bt-36 कैप्सूल की खुराक – Bt-36 Capsule Dosage in Hindi

  • Bt-36 Capsule की खुराक एक सामान्य आयु की महिला के लिए, दिन में सुबह-शाम एक-एक कैप्सूल लेने की मंजूरी दी जाती है। इस दवा की दैनिक खुराक को दो कैप्सूल से तीन कैप्सूल करने हेतु डॉक्टर की मदद अवश्य लें।
  • Bt-36 Capsule की खुराक कुँवारी लड़की तथा 45 वर्ष तक की महिलाओं में फायदेमंद हो सकती है।
  • Bt-36 Capsule का पूरा कोर्स लेने का प्रयास करें।
  • इसे मौखिक रूप से पानी या दूध के साथ ग्रहण करना उचित है। इस दवा के साथ अन्य दवाओं का कोर्स जारी रहने की स्थिति में डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें।
  • एक खुराक छूट जाये, तो निर्धारित Bt-36 Capsule का सेवन जल्द करें। अगली खुराक Bt-36 Capsule की निकट हो, तो छूटी खुराक ना लें।
  • वही Bt-36 कैप्सुल के साथ Bt-36 Cream का उपयोग करने की भी सलाह दी जाती है।

सावधानियां – Bt-36 Capsule Precautions in Hindi

निम्न सावधानियों के बारे में Bt-36 Capsule के सेवन से पहले जानना जरूरी है।

किसी अवस्था से प्रतिक्रिया

निम्न अवस्था व विकार में Bt-36 Capsule से दुष्प्रभाव की संभावना ज्यादा होती है। इसलिए जरूरत पर, डॉक्टर को अवस्था बताकर ही Bt-36 Capsule की खुराक लें।

  • अतिसंवेदनशीलता
  • गर्भावस्था

पढ़िये: अरविन्दासव | Tankan Bhasma in Hindi 

Bt-36 Capsule FAQ in Hindi

1) क्या Bt-36 Capsule रजोधर्म से वंचित स्त्रियों में कारगर है?

उत्तर: रजोधर्म या मासिक धर्म वो स्थिति होती है, जिसमें लड़कियों का शारीरिक और मानसिक विकास होना शुरू होता है। इस दौरान, बहुत-से आवश्यक और अनावश्यक हार्मोन्स का उत्पादन होता है। रजोधर्म से वंचित रहने वाली स्त्रियों में गर्भाशय का विकास नहीं हो पाता है, लेकिन स्तनों के विकास में कोई बाधा नहीं आती है। यदि ऐसी महिलाएं अपने फिगर को सुंदर बनाने हेतु इस दवा की आवश्यकता महसूस करती है, तो उन्हें डॉक्टरी सलाह के बाद ही Bt-36 Capsule का प्रयोग करना चाहिए।

2) क्या Bt-36 Capsule गर्भवती महिलाओं में सुरक्षित है?

उत्तर: Bt-36 Capsule एक हर्बल दवा है, जिसमें प्रत्येक घटक की अपनी एक भूमिका होती है। मुलेठी और जीरा गर्भावस्था के लिए अनुचित माने जाते है। इसलिए गर्भवती महिलाएं इस दवा को लेने से पहले अपने चिकित्सक की मंजूरी अवश्य लें।

3) क्या Bt-36 Capsule स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है?

उत्तर: प्रसव के बाद, स्त्रियों के स्तनों से दूध निकलना शुरू हो जाता है, जिससे उनके वक्षस्थल का आकार स्वतः ही बढ़ने लगता है। स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा की आवश्यकता महसूस नहीं होनी चाहिए। यदि फिर भी कोई नर्सिंग महिला इस दवा की खुराक लेना चाहती है, तो वे इस विषय में सर्वप्रथम अपने चिकित्सक की राय लें।

4) क्या Bt-36 Capsule भूखे पेट सुरक्षित है?

उत्तर: इस दवा को भोजन के बाद या पहले कभी भी लिया जा सकता है। लेकिन ज्यादा सुरक्षा और उपयुक्त परिणाम के लिए, इसे हमेशा भोजन के बाद ही लें।

5) क्या Bt-36 Capsule के इस्तेमाल के बाद संभोग किया जाना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, Bt-36 Capsule को उपयोग करने के बाद संभोग किया जाना सुरक्षित है। बढ़ती कामेच्छा के साथ इस दवा का असर महिलाओं में दोगुना हो सकता है।

6) क्या Bt-36 Capsule के सेवन से इसकी आदत लग सकती है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के प्रयोग से इसकी आदत नहीं लगती है। यह दवा मानसिक स्वास्थ्य के लिए हावी नहीं होती है और यह पूरी तरह नार्कोटिक्स कणों से मुक्त है।

7) क्या Bt-36 Capsule की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है?

उत्तर: हाँ, इस दवा की खुराक के बाद ड्राइविंग करना सुरक्षित है। यह दवा महिलाओं में उनींदापन, चक्कर और उल्टी का कारण नहीं बनती है।

8) क्या Bt-36 Capsule मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है?

उत्तर: इस दवा को स्त्रियों के सुरक्षित विश्लेषण के बाद ही निर्मित किया गया है। मासिक धर्म हर माह होने वाला एक प्राकृतिक चक्र है, जो महिलाओं के जीवन का एक हिस्सा है। इसलिए Bt-36 Capsule मासिक धर्म चक्र को बिना प्रभावित किये अपना कार्य कर सकती है।

9) Bt-36 Capsule का असर कितने समय में दिखता है?

उत्तर: Bt-36 Capsule का कोर्स शुरू करने के बाद इस दवा को औसतन 3 महीनों तक जारी रखने की आवश्यकता होती है। यह समयावधि एक उचित परिणाम देने के लिए काफी है।

10) क्या Bt-36 Capsule शराब के साथ सुरक्षित है?

उत्तर: इस विषय में पर्याप्त जानकारी का अभाव होने की वजह से डॉक्टरी सलाह को प्राथमिकता दें। शराब स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, इसलिए शराब के सेवन को नजरअंदाज किया जाना ज्यादा उचित है।

11) Bt-36 Capsule की दो खुराकों के बीच कितना समय अंतराल रखने की आवश्यकता है?

उत्तर: Bt-36 Capsule को दिन में दो बार लिया जा सकता है। इस हिसाब से इसकी दो लगातार खुराकों के बीच कम से कम 6 से 8 घंटों का समय अंतराल जरूर रखें, ताकि ओवरडोज़ से बचा जा सकें।

12) क्या Bt-36 Capsule के साथ किसी खास भोज्य पदार्थ को अनदेखा करने की आवश्यकता है?

उत्तर: नहीं, इस दवा के साथ किसी भी भोज्य पदार्थ को अनदेखा करने की आवश्यकता नहीं है। इस विषय में, हर तरह के भोजन का चयन आपकी पहली पसंद हो सकती है।

13) क्या Bt-36 Capsule भारत में लीगल है?

उत्तर: हाँ, यह दवा भारत में पूर्णतया लीगल है।

पढ़िये: सेप्टिलीन टैबलेट | Ajmodadi Churna in Hindi 

References

Impact of stress on female reproductive health disorders: Possible beneficial effects of shatavari (Asparagus racemosus) https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29635127/ Accessed On 31-05-2021

Evaluation of Estrogenic Activity of Licorice Species in Comparison with Hops Used in Botanicals for Menopausal Symptoms https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3709979/ Accessed On 31-05-2021

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *